ताज़ा खबर
 

Ramadan 2021 Date, Sehri & Iftar Timings: रमजान महीना 14 अप्रैल से हुआ शुरू, देखें सहरी और इफ्तार का टाइम

Ramadan 2021 Date, Sehri & Iftar Timings, Prayer Time Table in India: रमजान को रमादान और माह-ए-रमजान भी कहा जाता है। इस पूरे महीने अल्लाह की सच्चे मन से इबादत की जाती है। इस महीने में रोजे रखने के अलावा रात में तरावीह की नमाज पढ़ी जाती है।

ramadan, ramadan 2021, ramadan 2021 date in india, ramadan iftar timings,Ramadan 2021 Date, Sehri & Iftar Timings: रमजान का मतलब सिर्फ रोजा रखने से ही नहीं है बल्कि इस एक महीने उन चीजों से भी तौबा की जाती है जो इंसानियत के दायरे में नहीं आती हैं।

Ramadan 2021 Date, Sehri & Iftar Timings, Prayer Time Table: रमजान का महीना चांद के दीदार के साथ शुरू होता है। भारत में भी रमजान का चांद दिख गया है। जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोग एक-दूसरे को बधाइयां दे रहे हैं। रमजान के महीने में मुस्लिम समुदाय के लोग रोजा रखते हैं। सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक भूखे प्यासे रहकर अल्लाह की इबादत की जाती है। इन दिनों नमाज पढ़ने का विशेष महत्व माना जाता है।

कैसे घोषित होती है रमजान की तारीख: इस्लामिक चंद्र कैलेंडर के अनुसार रमजान का पहला दिन अमावस्या के दिन तय किया जाता है। भारत में रमजान की शुरुआत कब से होगी ये जानने के लिए मुस्लिम स्थानीय लोगों के साक्ष्य पर निर्भर रहते हैं। वहीं अन्य देशों जैसे बहरीन, मिस्र, कुवैत, ओमान, कतर और संयुक्त अरब अमीरात जैसे देश आमतौर पर रमजान के महीने की शुरुआत चिह्नित करने के लिए सऊदी अरब की अमावस्या को फॉलो करते हैं। 

इस्लामिक कैलेंडर का नवां महीना है रमजान: रमजान को रमादान और माह-ए-रमजान भी कहा जाता है। इस पूरे महीने अल्लाह की सच्चे मन से इबादत की जाती है। इस महीने में रोजे रखने के अलावा रात में तरावीह की नमाज पढ़ी जाती है। सुबह सहरी करके रोजा शुरू किया जाता है और शाम को इफ्तार के साथ रोजा खोला जाता है। सहरी और इफ्तार का समय निश्चित होता है।

रमजान में इन बातों का रखें ख्याल: रमजान का मतलब सिर्फ रोजा रखने से ही नहीं है बल्कि इस एक महीने उन चीजों से भी तौबा की जाती है जो इंसानियत के दायरे में नहीं आती हैं। इस दौरान किसी भी तरह के गलत कार्य नहीं किये जाते हैं। साथ ही गलत चीजों से तौबा की जाती है। रमजान का महीना इंसान को खुदा के समीप लाता है।

रमजान का इतिहास: मुस्लिम धर्म की मान्यताओं अनुसार मोहम्मद साहब को साल 610 में लेयलत उल-कद्र के अलसर पर पवित्र पुस्तक कुरान शरीफ का ज्ञान प्राप्त हुआ था। तभी से रमजान को इस्लाम धर्म में पाक महीना माना जाने लगा। इस महीने में मुस्लिम लोगों में कुरान की पवित्र पुस्तक को पढ़ना काफी शुभ माना जाता है। इस माह में मुस्लिम लोग अल्लाह की इबादत में अपना अधिक से अधिक समय बिताते हैं और अपने अंदर की बुराईयों को अपने से दूर करने की कोशिश करते हैं। साथ ही इस महीने जरूरतमंदों की मदद की जाती है।

रमजान सहरी और इफ्तार का टाइम:
14 अप्रैल- सहरी सुबह 4:13 बजे – इफ्तार शाम 6:21 बजे
15 अप्रैल- सहरी सुबह 4:12 बजे – इफ्तार शाम 6:21 बजे
16 अप्रैल- सहरी सुबह 4:11 बजे – इफ्तार शाम 6:22 बजे
17 अप्रैल- सहरी सुबह 4:10 बजे – इफ्तार शाम 6:22 बजे
18 अप्रैल- सहरी सुबह 4:09 बजे – इफ्तार शाम 6:23 बजे
19 अप्रैल- सहरी सुबह 4:07 बजे – इफ्तार शाम 6:23 बजे
20 अप्रै – सहरी सुबह 4:06 बजे – इफ्तार शाम 6:24 बजे
21 अप्रैल- सहरी सुबह 4:05 बजे – इफ्तार शाम 6:24 बजे
22 अप्रैल- सहरी सुबह 4:04 बजे – इफ्तार शाम 6:25 बजे
23 अप्रैल- सहरी सुबह 4:03 बजे – इफ्तार शाम 6:25 बजे
24 अप्रैल- सहरी सुबह 4:02 बजे – इफ्तार शाम 6:26 बजे
25 अप्रैल- सहरी सुबह 4:01 बजे – इफ्तार शाम 6:26 बजे
26 अप्रैल- सहरी सुबह 4:00 बजे – इफ्तार शाम 6:27 बजे
27 अप्रैल- सहरी सुबह 3:59 बजे – इफ्तार शाम 6:28 बजे
28 अप्रैल- सहरी सुबह 3:58 बजे – इफ्तार शाम 6:28 बजे
29 अप्रैल- सहरी सुबह 3:57 बजे – इफ्तार शाम 6:29 बजे
30 अप्रैल- सहरी सुबह 3:56 बजे – इफ्तार शाम 6:29 बजे

01 मई- सहरी सुबह 3:55 बजे – इफ्तार शाम 6:30 बजे
02 मई- सहरी सुबह 3:54 बजे – इफ्तार शाम 6:30 बजे
03 मई- सहरी सुबह 3:53 बजे – इफ्तार शाम 6:31 बजे
04 मई- सहरी सुबह 3:52 बजे – इफ्तार शाम 6:31 बजे
05 मई- सहरी सुबह 3:51 बजे – इफ्तार शाम 6:32 बजे
06 मई- सहरी सुबह 3:50 बजे – इफ्तार शाम 6.32 बजे
07 मई- सहरी सुबह 3:49 बजे – इफ्तार शाम 6:33 बजे
08 मई- सहरी सुबह 3:48 बजे – इफ्तार शाम 6:34 बजे
09 मई- सहरी सुबह 3:47 बजे – इफ्तार शाम 6:34 बजे
10 मई- सहरी सुबह 3:46 बजे – इफ्तार शाम 6:35 बजे
11 मई- सहरी सुबह 3:45 बजे – इफ्तार शाम 6:35 बजे
12 मई- सहरी सुबह 3:44 बजे – इफ्तार शाम 6:36 बजे
13 मई- सहरी सुबह 3 : 44 बजे – इफ्तार शाम 6:36 बजे।

Live Blog

Highlights

    05:41 (IST)14 Apr 2021
    सदा हंसते रहो जैसे हंसते हैं फूल

    सदा हंसते रहो जैसे हंसते हैं फूल,दुनिया की सारे गम तुम्हें जाएं भूल,चारों तरफ फैले खुशियों का गीत,ऐसी उम्मीद का साथ यार तुम्हे…रमजान मुबारक!

    05:40 (IST)14 Apr 2021
    रमजान की आमद है

    रमजान की आमद है,रहमतें बरसाने वाला महीना है,आओ आज सब खताओं की माफी मांग लें,दर-इ-तौरबा खुला है इस महीने में।रमजान मुबारक!

    05:35 (IST)14 Apr 2021
     गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है

    गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है,सितारों ने आसमान से सलाम भेजा है,मुबारक हो आपको रमजान का महीना,ये पैगाम हमनें सिर्फ आपको भेजा है।रमजान मुबारक!

    04:58 (IST)14 Apr 2021
    रमजान मुबारक!

    हटा कर जुल्फें चेहरे से न छत पर शाम को जाना,कहीं कोई ईद न कर ले अभी रमजान बाकी है।रमजान मुबारक!

    03:37 (IST)14 Apr 2021
    आसमान पे नया चांद है आया

    आसमान पे नया चांद है आया,सारा आलम खुशी से जगमगाया,हो रही है इफ्तार की तैयारी,सज रही हैं दुआओं की सवारी,पूरे हों आपके हर दिल के अरमान,मुबारक हो आप सब को प्यारा रमजान।रमजान मुबारक!

    02:40 (IST)14 Apr 2021
    खुशियां नसीब हों और जन्नत करीब हो

    खुशियां नसीब हों और जन्नत करीब हो,तू चाहे जिसे वो तेरे हमेशा करीब हो,कुछ इस तरह हो करम अल्लाह का तुझ पर,मक्का और मदीना की तुझे जियारत नसीब हो।रमजान मुबारक!

    01:15 (IST)14 Apr 2021
    किसी का ईमान कभी रोशन न होता

    किसी का ईमान कभी रोशन न होता,आगोश में मुसलमान के अगर कुरान न होता,दुनिया न समझ पाती कभी भूख और प्यास की कीमत,अगर 12 महीनों मे 1 रमजान न होता।रमजान मुबारक!

    18:10 (IST)13 Apr 2021
    रमजान के आखरी दिन चांद (हिलाल) देख कर अगले दिन ईद घोषित की जाती है।

    ईद उल-फित्र, जो रमजान माह के अन्त और शव्वाल माह के पहले दिन मनाई जाती है। रमजान के आखरी दिन चांद (हिलाल) देख कर अगले दिन ईद घोषित की जाती है।

    17:50 (IST)13 Apr 2021
    रमजान में कोरोना

    रमजान के महीने में रखें कोरोना गाइडलाइन्स का ख्याल।

    16:41 (IST)13 Apr 2021
    इस तरह रखा जाता है रोजा

    सुबह सूर्य निकलने से पहले सहेरी कर रोजा रखा जाता है। रोजा आंख, हाथ, पैर, दिल, मुंह सभी का होता है। रोजा रखने वाले को किसी भी तरह की बुराई से तौबा करने की नसीहत दी जाती है। रोजा सूरज निकलने से लेकर सूरज डूबने तक का होता है। इस बीच रोजा रखने वाले को न तो कुछ खाना होता है और न ही पीना। रोजे की शुरुआत में फजर की नमाज तो रोजा खोलने के वक्त मगरिब की नमाज होती है।

    16:01 (IST)13 Apr 2021
    रोजा रखने के नियम

    – रोजा रखने वाले व्यक्ति को खाने के बारे में नहीं सोचना चाहिए।– इस दौरान किसी की बुराई या बेइज्जती नहीं करनी चाहिए। कहा जाता है कि अगर रोजा रखने वाला व्यक्ति किसी के बारे में बुरा सोचता है तो उसे रोजे का फल नहीं मिलता है।– रमजान के महीने में दिनभर में पांच बार नमाज पढ़ी जाती है।- रोजा रखने वाले व्यक्ति को सूर्योदय से पहले सेहरी लेना जरूरी है। यानी सूर्य के उदय होने से पहले भोजन किया जाता है फिर पूरे दिन बिना अन्न और जल के रोजा रखा जाता है।

    15:33 (IST)13 Apr 2021
    रमजान के महीने में इन चीजों से कर देनी चाहिए तौबा

    रमजान का मतलब सिर्फ रोजा रखने से ही नहीं है बल्कि इस एक महीने उन चीजों से भी तौबा की जाती है जो इंसानियत के दायरे में नहीं आती हैं। इस दौरान किसी भी तरह के गलत कार्य नहीं किये जाते हैं। साथ ही गलत चीजों से तौबा की जाती है। रमजान का महीना इंसान को खुदा के समीप लाता है।

    13:58 (IST)13 Apr 2021
    रमजान में पहले रोजे का समय...

    अगर भारत में रमजान 14 अप्रैल से शुरू होते हैं तो पहला रोजा 14 घंटा 8 मिनट की अवधि का होगा। ये इस पाक महीने का सबसे छोटा रोजा बताया जा रहा है। वहीं आखिरी रोजा 14 घंटा 52 मिनट का होगा और ये सबसे बड़ा रोजा माना जा रहा है। 14 अप्रैल को सहरी का समय 4:13 बजे तो इफ्तार का समय शाम 6 : 21 बजे है।

    13:03 (IST)13 Apr 2021
    सहरी और इफ्तार टाइम islamicfinder.com के अनुसार...

    अप्रैल 14, बुधवार – 04:35 am और 06:47 pm 

    अप्रैल 15, गुरुवार – 04:34 am और 06:48 pm 

    अप्रैल 16, शुक्रवार – 04:33 am और 06:48 pm 

    12:18 (IST)13 Apr 2021
    इंदौर में सहरी और इफ्तार का समय...

    यहां सहरी का समय सुबह 4.50 बजे हैं और इफ्तार का समय शाम 6.50 बजे हैं। कोरोना की वजह से लोग परिवार के साथ ही अपने घरों में सहरी और इफ्तार करेंगे।15 अप्रैल को इंदौर में सहरी की टाइमिंग 4.49 बजे सुबह है और इफ्तार का समय शाम 6.51 बजे है।-

    11:34 (IST)13 Apr 2021
    Ramadan 2021 Date In India: कल से शुरू होने जा रहा है अल्लाह की इबादत का पार महीना...

    देशभर में रमजान कल यानि 14 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है। ये इस्लामिक कैलेंडर का सबसे पाक महीना होता है। कहा जाता है कि इस पूरे महीने मुसलमान इबादत में डूब जाते हैं। ये इस्लामिक कैंलेंड का नौवां और सबसे पवित्र महीना माना जाता है। इसकी शुरूआत चांद देखने के बाद होती है।

    10:53 (IST)13 Apr 2021
    Ramadan Wishes: रमजान की ऐसे दें शुभकामनाएं...

    रमजान में हो जाएं सबकी मुराद पूरी,मिले सबको ढेरों खुशियां,और ना रहे कोई तमन्ना अधूरीरमजान मुबारक!

    10:39 (IST)13 Apr 2021
    रमजान का इतिहास:

    इस्लामिक मान्यताओं के अनुसार 610 ईसवी में इसी पाक महीने में पवित्र पुस्तक कुरान शरीफ नाजिल हुई थी। तभी से रमजान माह को पाक माह के रूप में जाना जाने लगा। पवित्र किताब कुरान के मुताबिक रमजान महीने में अल्लाह ने पैगंबर मोहम्मद साहब को अपने दूत के रूप में चुना है। इसलिए इस महीने में इबादत का सवाब बाकी महीनों की तुलना में 70 गुना अधिक मिलता है। रमजान के महीने में रोजा रखने के साथ ही कुरान पढ़ने के भी काफी फजीलत बताई जाती है।

    10:03 (IST)13 Apr 2021
    खजूर खाकर खोलना चाहिए रोजा...

    ऐसा माना जाता है कि इस महीने रोजा करने वाले को जो इफ्तार कराता है या भोजन कराता है उसके सारे गुनाह माफ हो जाते हैं। मुस्लिम मान्यताओं के अनुसार एक खजूर या पानी से भी इफ्तार कराया जा सकता है।

    09:29 (IST)13 Apr 2021
    रमजान में पांच बार की जाती है नमाज...

    इस्लाम के उदय से नमाज की प्रथा चली आ रही है। हर मुसलमान को दिन में पांच बार नमाज करना आवश्यक है और रमजान के महीन में ऐसा करना बहुत ही आवश्यक माना जाता है। पांच बार की इन नमाजों को अलग-अलग नाम से जाना जाता है। इनके बारे में नीचे बताया गया है।

    08:54 (IST)13 Apr 2021
    Ramadan 2021 Wishes: रमजान के मौके पर अपनों को ऐसे दें बधाई...

    कुछ इस कदर पाक हो रिश्ता तेरे मेरे दरम्यांजैसे तक़रीब-ए-ईद और माह-ए-रमजान कारमजान मुबारक!

    08:23 (IST)13 Apr 2021
    घर में पढ़ें नमाज...

    ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के चेयरमैन मौलाना उमैर इल्यासी ने बताया कि इमामों के साथ हुई बैठक में हमने कहा है कि सरकार की गाइडलाइंस को सख्ती के साथ पालन करें और करवाएं। वहीं मंगलवार को रमजान का चांद दिखने की संभावना है, जिसके बाद अगले ही दिन पहले रमजान के रोजा रखा जाएगा। इस बात का जरूर ध्यान रखें कि कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है, कोशिश करें कि घरों में ही नमाज पढ़ें, रोजा घर पर ही खोलें और अपनी जिम्मेदारियों को निभाएं।

    07:22 (IST)13 Apr 2021
    Ramzan 2021: रमजान कब से?

    बहरीन, मिस्र, कुवैत, ओमान, कतर और संयुक्त अरब अमीरात, ये सभी सऊदी अरब की घोषणा का इंतजार करते हैं. सऊदी अरब में रमजान शुरू होने के साथ इन देशों में भी रमजान शुरू हो जाता है।

    06:48 (IST)13 Apr 2021
    रमजान क्यों होता है खास...

    इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक 9वां महीना रमजान का होता है. इस महीने में दुनियाभर के मुस्लिम लोग रोजा रखते हैं और इबादत करते हैं. इस महीने की मुस्लिम समुदाय के लिए बहुत अहमियत होती है. हर साल चांद देखने के बाद रमजान के पवित्र महीने की शुरुआत होती है. दुनिया के हर हिस्से में रहने वाले मुस्लिम लोगों को रमजान के चांद का खास इंतजार रहता है. 

    05:05 (IST)13 Apr 2021
    रमजान है भाईचारे का त्‍योहार

    रमजान है भाईचारे का त्‍योहार। इस दिन आपस में सभी भेदभाव मिटाकर  गले लगते हैं और इश्‍वर से प्रार्थना कर एक दूसरे के लिए दुआं मांगते हैं।

    01:42 (IST)13 Apr 2021
    रमजान है त्‍याग का त्‍योहार

    रमजान में लोग गरीबों की काफी मदद करते हैं। इससे समाज में भाईचारा का बोलबाला शुरू हो जाता है।

    23:37 (IST)12 Apr 2021
    रमजान देता है भाइचारे का संदेश

    रमजान समाज में भाईचारे का संदेश देता है । हम सब मिलकर रमजान मताते हैं।

    20:59 (IST)12 Apr 2021
    जानिये रमजान का इतिहास

    मुस्लिम धर्म की मान्यताओं अनुसार मोहम्मद साहब को साल 610 में लेयलत उल-कद्र के अलसर पर पवित्र पुस्तक कुरान शरीफ का ज्ञान प्राप्त हुआ था। तभी से रमजान को इस्लाम धर्म में पाक महीना माना जाने लगा। इस महीने में मुस्लिम लोगों में कुरान की पवित्र पुस्तक को पढ़ना काफी शुभ माना जाता है। 

    20:13 (IST)12 Apr 2021
    इसलिए अलग-अलग तारीखों से शुरू होता है रमजान

    इस्लामिक कैलेंडर में चांद की तारीख के अनुसार त्योहारों की तारीख तय की जाती है। यही कारण है कि रमजान का महीना हर साल अलग-अलग तारीखों से शुरू होता है।

    19:45 (IST)12 Apr 2021
    क्या होता है रमजान?

    रमजान को रमदान भी कहते हैं। रमजान के महीने में रोजे रखने, रात में तरावीह की नमाज पढने और कुरान तिलावत करना शामिल है। मुस्लिम समुदाय के लोग इस पूरे महीने रोजा रखते हैं और सूरज निकलने से लेकर डूबने तक कुछ भी नहीं खाते पीते हैं।

    18:32 (IST)12 Apr 2021
    सऊदी अरब की तय की हुई तारीख पर ही रमजान का महीना होता है शुरू

    दुनिया में कई मुस्लिम देश सऊदी अरब की तय की हुई तारीख पर ही रमजान के महीने की शुरुआत मानते हैं। इस्लामिक कैलेंडर के हिसाब से भारत मे सऊदी अरब के एक दिन बाद चांद नजर आता है।

    17:25 (IST)12 Apr 2021
    रमजान के दौरान नहीं करना चाहिए कोई भी गलत काम

    रमजान का मतलब सिर्फ रोजा रखने से ही नहीं है बल्कि इस एक महीने उन चीजों से भी तौबा की जाती है जो इंसानियत के दायरे में नहीं आती हैं। इस दौरान किसी भी तरह के गलत कार्य नहीं किये जाते हैं।

    16:40 (IST)12 Apr 2021
    रमजान महीना 29 या 30 दिन का होता है

    जानकारों के मुताबिक 13 अप्रैल को दुनिया के अन्य देशों में रमजान का महीना संभवतः 13 अप्रैल 2021 से शुरू हो रहा है. रमजान का चांद रविवार को सऊदी अरब में नहीं दिखाई दिया और अरब देश में पहला रोजा मंगलवार, 13 अप्रैल को होगा. चांद दिखने की तारीख के मुताबिक यह महीना 29 या 30 दिन का होता है.

    16:04 (IST)12 Apr 2021
    रमजान में सेहरी और इफ्तार क्या है...

    रमजान के दौरान, मुसलमान अपने दिन की शुरुआत सेहरी से करते हैं, जो सुबह की नमाज, फज्र से पहले का भोजन है. दिन के दौरान, मुसलमान कुरान का पाठ करते हैं और प्रार्थना करते हैं. शाम को लोग इफ्तार पर दावत देते हैं, जो रात का भोजन है जिसे शाम की नमाज, मगरिब के बाद व्रत को तोड़ते हैं. आमतौर पर, मुसलमान खजूर और पानी पीकर अपना व्रत तोड़ते हैं और उसके बाद बेहतरीन भोजन करते हैं.

    15:41 (IST)12 Apr 2021
    रमजान के महीने में क्या नहीं करना चाहिए...

    मुसलमान रमजान के दौरान, धूम्रपान, यौन गतिविधियों और किसी भी पापपूर्ण व्यवहार से बचते हैं और इसके बजाय कुरान, प्रार्थना, दान और तक्वा को पढ़ने पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

    14:49 (IST)12 Apr 2021
    रमजान में रोजा रखना माना गया है जरूरी...

    वैसे तो रमजान सभी व्यस्क मुसलमानों के लिए जरूरी है। लेकिन अगर कोई बीमार है या कोई महिला गर्भवती है तो वो इन्हें छोड़ सकता है।

    14:47 (IST)12 Apr 2021
    साल में 4 बार आती हैं नवरात्रि...

    देवी दुर्गा की पूजा गुप्त नवरात्रि में भी की जाती है, आषाढ़ और माघ माह के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाले नवरात्र को गुप्त नवरात्रि कहते हैं। हालांकि हर कोई इसके बारे में नहीं जानता। वहीं साल में 2 बार नवरात्र सार्वजनिक तौर पर पड़ते हैं। 

    14:02 (IST)12 Apr 2021
    सऊदी अरब में इस दिन से रमजान शुरू...

    सऊदी अरब देश में 12 अप्रैल से रमजान शुरू होने की उम्मीद की जा रही थी। लेकिन चांद नहीं दिखने के बाद रमजान 13 अप्रैल से शुरू हो सकते हैं। आज यानि 12 अप्रैल को चांद नजर आ सकता है।

    13:27 (IST)12 Apr 2021
    रमजान के महीने को क्यों माना जाता है बेहद पवित्र:

    इस्लाम के मुताबिक इसी दिन 1,400 साल से पहले पैगंबर मुहम्मद के सामने इस्लाम की पवित्र पुस्तक कुरान की पहली आयत का अवतरण हुआ था। इस पूरे महीने मुसलमान फज्र की नमाज के साथ रोजे की शुरूआत करते हैं और शाम को नमाज़ अदा करने के बाद की रोजा इफ्तार करते हैं।

    12:48 (IST)12 Apr 2021
    कब मनाई जाएगी रमजान की ईद?

    जिस तरह से रमजान की शुरूआत चांद निकलने पर निर्भर होती है उसी तरह से चांद का दीदार होने पर ही रमजान का महीना पूरा होता है और फिर ईद मनाई जाती है। इसलिए रमजान शुरू होने और ईद की तारीख हर देश में अलग-अलग हो सकती है। इस साल रमजान 12 अप्रैल 2021 की शाम से शुरू होगा और मंगलवार 11 मई 2021 को खत्म होगा। इसके अगले दिन 13 मई 2021 को ईद उल-फितर मनाई जाएगी।

    12:30 (IST)12 Apr 2021
    Ramadan 2021 Date: नवरात्र कब से हैं?

    रमजान का महीना चांद के दीदार के बाद से शुरू हो जाते हैं। लेकिन अभी चांद दिखाई नहीं दिया है। भारत में चांद 13 अप्रैल को दिखाई देने की उम्मीद है उस लिहाज से रमजान का पाक महीना 14 अप्रैल से यहां शुरू हो सकता है।

    11:56 (IST)12 Apr 2021
    रमजान सहरी और इफ्तार का टाइम:

    14 अप्रैल- सहरी सुबह 4:13 बजे – इफ्तार शाम 6:21 बजे

    15 अप्रैल- सहरी सुबह 4:12 बजे – इफ्तार शाम 6:21 बजे

    16 अप्रैल- सहरी सुबह 4:11 बजे – इफ्तार शाम 6:22 बजे

    17 अप्रैल- सहरी सुबह 4:10 बजे – इफ्तार शाम 6:22 बजे

    18 अप्रैल- सहरी सुबह 4:09 बजे – इफ्तार शाम 6:23 बजे

    19 अप्रैल- सहरी सुबह 4:07 बजे – इफ्तार शाम 6:23 बजे

    11:34 (IST)12 Apr 2021
    रमजान में इफ्तार और सेहरी होती है जरूरी...

    इस एक महीने तक लोग सुबह सूरज निकलने से पहले उठते हैं और सेहरी करते हैं और शाम को सूरज ढलने के बाद इफ्तार करके रोजा खोलते हैं. रोजा रखने वालों के लिए सेहरी और इफ्तार दोनों बहुत अहमियत रखते हैं. सुबह सेहरी का समय फज्र की अजान से पहले तक रहता है. सेहरी करने के बाद लोग नमाज पढ़ते हैं और कुरान शरीफ पढ़ते हैं.

    10:59 (IST)12 Apr 2021
    रमजान में क्या करते हैं?

    इस पूरे महीने भर लोग रोजे रखते हैं. पांचों वक्‍त की नमाज अदा करते हैं और पूरा दिन अल्लाह इबादत में गुजारते हैं. इस महीने में गरीबों की मदद दिल खोल कर की जाती है, दान किए जाते हैं. वैसे तो हर बालिग मुसलमान पर रोजा फर्ज है. मगर बुजुर्ग, कम उम्र के बच्‍चों, बीमार लोग और प्रेग्‍नेंट महिलाएं अगर रोजा रखने की ताकत नहीं रखते, तो रोजा रखना उनकी इच्‍छा पर है. 

    10:32 (IST)12 Apr 2021
    Ramadan 2021: जानिए कब से शुरू हैं पवित्र रमजान?

    इस्लामिक मान्यताओं के मुताबिक रमजान के महीने की शुरुआत चांद देखने के बाद होती है. वैसे तो अभी इसकी घोषणा नहीं हुई है, मगर इस साल भारत में रमजान का महीना 13 अप्रैल से शुरू होने की उम्मीद की जा रही है. अगर 12 अप्रैल को चांद दिखाई दे गया तो 13 अप्रैल से पहला रोजा रखा जाएगा.

    10:13 (IST)12 Apr 2021
    रमजान का महीना 29 या 30 दिन का होता है...

    जानकारों के मुताबिक 13 अप्रैल से दुनिया के अन्य देशों में रमजान का महीना 13 अप्रैल 2021 से शुरू हो सकता है. रमजान का चांद रविवार को सऊदी अरब में नहीं दिखाई दिया और अरब देश में पहला रोजा मंगलवार, 13 अप्रैल को होगा. चांद दिखने की तारीख के मुताबिक यह महीना 29 या 30 दिन का होता है.

    09:55 (IST)12 Apr 2021
    पहला रोजा मंगलवार, 13 अप्रैल को होगा...

    सऊदी अरब के सर्वोच्च न्यायालय की ओर से लोगों से रमजान का चांद देखने की अपील की गई थी, लेकिन चांद अभी तक कहीं भी नहीं देखा गया. ऐसे में सऊदी सुप्रीम कोर्ट की ओर से घोषणा की गई है कि चांद रविवार को देश में कहीं भी चांद दिखाई नहीं दिया, जिसके बाद सोमवार को फिर से एक बैठक आयोजित की जाएगी.

    17:37 (IST)11 Apr 2021
    इस दिन दिखेगा ईद का चांद...

    चांद का दीदार होने पर ही रमजान का महीना पूरा होता है और ईद मनाई जाती है। इसलिए रमजान शुरू होने और ईद की तारीख हर देश में अलग-अलग हो सकती है। जानकारों अनुसार इस साल रमजान 12 अप्रैल 2021 की शाम से शुरू होगा और मंगलवार 11 मई 2021 को खत्म होगा। इसके अगले दिन 13 मई 2021 को ईद उल-फितर मनाई जाएगी।

    17:05 (IST)11 Apr 2021
    Ramadan 2021: भारत में कब दिखाई देगा चांद?

    जानकारों के मुताबिक इस बार चांद का पहला दीदार 12 अप्रैल को होगा, जिसके बाद 12 अप्रैल या अगले दिन यानि 13 अप्रैल को दुनिया के अन्य देशों में भी चांद का दीदार हो जाएगा। इस हिसाब से रमजान का महीना संभवतः 13 अप्रैल 2021 से शुरू हो रहा है। चांद दिखने की तारीख के मुताबिक यह पूरा महीना कभी 29 तो कभी 30 दिन का होता है।

    16:21 (IST)11 Apr 2021
    रमजान की शुरुआत की तारीख ऐसे होती है निर्धारित...

    इस्लामी कैलेण्डर के मुताबिक नवां महीना रमजान का पाक महीना होता है। बच्चों से लेकर बुजुर्ग सभी उम्र के लोग बहुत ही खुशी से रोज़ा रखते हैं। चांद का दीदार करने के बाद रमजान की शुरूआत हो जाती है। सऊदी अरब और अन्य मुस्लिम देशों में चांद दीदार होने के बाद ही रमजान की सही तिथि की घोषणा की जाती है। अलग-अलग देशों में चांद के दीदार की तारीख अलग होती हैं। 

    Next Stories
    1 Horoscope Today 11 April 2021: मीन राशि वालों का बिगड़ सकता है स्वास्थ्य, मकर जातकों को कानूनी विवाद का करना पड़ सकता है सामना
    2 Vastu Tips: घर के मंदिर में यह चीजें रखने से मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्न, रखें इन बातों का खास ध्यान
    3 Rashifal (12 April To 18 April 2021): मां दुर्गा की कृपा से 5 राशि वालों को इस सप्ताह अचानक हो सकता है धन लाभ
    यह पढ़ा क्या?
    X