Ramadan Ramzan Mubarak 2018 Wishes Images Quotes, Ramadan 2018 Date, Time Table in India, UAE, Dubai, Saudi Arabia: History, Importance of Ramadan Festival in India - Ramadan 2018: ये है रमजान का इतिहास, जानें कब से शुरू हो रहा है पवित्र महीना - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Ramadan 2018: ये है रमजान का इतिहास, जानें कब से शुरू हो रहा है पवित्र महीना

Ramadan 2018 Date, Time Table in India, UAE, Dubai, Saudi Arabia: रमजान के दौरान रोजे रखने का मतलब केवल यह नहीं होता कि आप भूखे-प्यासे रहें। बल्कि, इस दौरान मन में बुरे विचार ना आने देने के लिए भी कहा गया है।

Author नई दिल्ली | May 17, 2018 7:25 PM
Ramadan 2018: रमजान में मुसलमान को किसी की बदनामी करने, लालच करने, झूठ बोलने और झूठी कसम खाने से बचना चाहिए।

Ramadan 2018 Time Table Date in India, UAE, Dubai, Saudi Arabia: रमजान इस्लाम धर्म का सबसे पवित्र महीना है। इस्लाम कैलेंडर के अनुसार यह साल का नौवां महीना होता है। इस महीने में मुसलमान लोग रोजा रखते हैं। रोजे के दौरान सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक कुछ भी खाने-पीने की मनाही होती है। इसके साथ ही रमजान में बुरी आदतों से दूर रहने के लिए भी कहा गया है। रमजान में मुलमान लोग अल्लाह को उनकी नेमत के लिए शुक्रिया अदा करते हैं। महीने भर रोजे के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद उल फितर मनाया जाता है। इन सबके बीच क्या आप जानते हैं कि रमजान क्यों मनाया जाता है? और इसका इतिहास क्या है? आज हम आपको इस बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

ऐसा माना जाता है कि मोहम्मद साहब को साल 610 में लेयलत उल-कद्र के मौके पर पवित्र कुरान शरीफ का ज्ञान प्राप्त हुआ था। उसी समय से रमजान को इस्लाम धर्म के पवित्र महीने के तौर पर मानाया जाने लगा। इस पवित्र में महीने में मुसलमान लोगों को कुछ खास सावधानियां बरतने की सलाह दी गई है। रमजान के दौरान रोजे रखने का मतलब केवल यह नहीं होता कि आप भूखे-प्यासे रहें। बल्कि, इस दौरान मन में बुरे विचार ना आने देने के लिए भी कहा गया है। रमजान में मुसलमान को किसी की बदनामी करने, लालच करने, झूठ बोलने और झूठी कसम खाने से बचना चाहिए।

Ramadan Mubarak 2018 Wishes Images, Pictures: इन खूबसूरत तस्वीरों के जरिए अपनों को दें रमजान की मुबारकबाद

Ramadan 2018 Moon Sighting Live Updates

ऐसा माना जा रहा है कि इस साल रमजान का महीना 17 मई यानी गुरुवार से शुरु होगा। आज यानी 16 मई (बुधवार) को अभी तक नया चांद नहीं दिखा है। यदि बुधवार शाम को चांद दिखता है तो रमजान की शुरुआत गरुवार से होगी। बता दें कि इस्लामिक मान्यता के अनुसार जिस दिन शाम को नया चांद दिखता है, उसके अगले दिन से रमजान का पवित्र महीना शुरू हो जाता है। इस साल रमजान महीने का पहला रोजा करीब 15 घंटा 11 मिनट और अंतिम रोजा 15 घंटा 35 मिनट का होगा। पहले रोजे की सहरी सुबह 3:33 बजे और इफ्तरा शाम 6:44 बजे किया जाएगा। आखिरी रोजे में सहरी सुबह 3:22 बजे और इफ्तार शाम 6:57 बजे होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App