scorecardresearch

राहु-मंगल युति: इन राशियों को रहना होगा सावधान! नहीं तो हो सकते हैं गंभीर परिणाम

Angarak Yog Effect: राहु और मंगल दोनों ही महत्वपूर्ण ग्रह हैं। यदि दोनों एक ही राशि में एक ही समय बैठे हों तो सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा।

राहु-मंगल युति: इन राशियों को रहना होगा सावधान! नहीं तो हो सकते हैं गंभीर परिणाम
मंगल ग्रह का गोचर (जनसत्ता)

27 जून 2022 से 10 अगस्त 2022 तक मंगल और राहु की युति मेष राशि में हो चुकी है। 45 दिनों तक इन दोनों ग्रहों की युति से अंगारक योग बनेगा, जो सभी राशियों के लोगों के लिए अशुभ रहेगा।

मंगल 27 जून को सुबह 5.40 बजे मेष राशि में प्रवेश कर चुका है। राहु पहले से ही मेष राशि में गोचर कर रहा है। इसलिए यहां इन दोनों ग्रहों के एक साथ आने से अंगारक योग बनेगा। मंगल 10 अगस्त को रात 9 बजकर 9 मिनट पर वृष राशि में गोचर करेगा। इस प्रकार अंगारक योग का प्रभाव 45 दिनों तक बना रहेगा।

संस्कृत के श्लोक के मुताबिक राहुरंगारकश्चैक राशि ऋक्षगतो तथा । महाभयं च शस्यानां न च वृष्टि: प्रजायते ।। यानि अज्ञात भय के कारण जनता को कष्ट का अनुभव होगा। यह संयोग वर्षा ऋतु में होने के कारण कहीं-कहीं मानसून की कमी और फसल की बुवाई के बाद बारिश में देरी से किसान परेशान होंगे। कुछ क्षेत्रों में फसलों को नुकसान हो सकता है। मंगल-राहु 16 जुलाई से 5 अगस्त तक भरणी नक्षत्र में भ्रमण करेंगे। यह विशेष रूप से अप्रिय है।

सभी राशियां अंगारक योग के प्रभाव में आ जाएगी। इंसानों के बीच आपकी दुश्मनी और गुस्सा बढ़ेगा। उन्माद, हिंसा, हिंसक प्रदर्शन, दंगे जैसे हालात रहेंगे। 16 जुलाई से 5 अगस्त तक विशेष कष्टदायक समय रहेगा। पड़ोसी देशों से विरोध, युद्ध जैसे हालात रहेंगे। देश के अंदरूनी इलाकों में सरकारों की ओर से विरोध होगा। उच्च प्रतिष्ठित राजनेताओं के नुकसान की भी संभावना है।

राहु-मंगल के अंगारक योग के प्रभाव से बचने के लिए क्या उपाय करें

सभी राशियों के लोगों को हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए। साथ ही हनुमान चालीसा, सुंदरकांड का पाठ करें। हर मंगलवार को मंदिर में हनुमानजी के दर्शन करें। नियमित रूप से महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें। शिव को कच्चा दूध चढ़ाएं। राहु के दर्द से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से चंदन का तिलक लगाएं। चंदन का दान करें।

इन राशियों पर पड़ेगा प्रतिकूल प्रभाव

  • वृष राशि: वृष राशि के जातकों को अपनी वाणी पर संयम रखने की आवश्यकता है। उनके विरोधी सक्रिय हो सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपको कठिनाई का सामना करना पड़ेगा।
  • कन्या राशि: कन्या राशि के जातकों के लिए यह समय अच्छा नहीं है। उन्हें अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने की जरूरत है। अनावश्यक धन हानि होगी। विवाद से बचने की जरूरत है।
  • मकर राशि: मकर राशि के लोगों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है. उन्हें नौकरी और व्यापार में नुकसान उठाना पड़ सकता है।
  • कुंभ राशि: कुंभ राशि के जातकों के लिए यह समय अनुकूल नहीं है। उन्हें अपनी भाषा पर नियंत्रण रखना होगा। वाद-विवाद की स्थिति से बचें।
  • मीन राशि: मीन राशि के जातक अत्यधिक खर्च से परेशान रहेंगे। उन्हें धन हानि होने की संभावना है। लड़ाई-झगड़े से बचें। राहु और मंगल की प्रबलता के कारण शुभ कार्यों में विघ्न पड़ता है। इस वर्ष 27 जून 2022 से 10 अगस्त 2022 तक राहु और मंगल दोनों एक साथ मेष राशि में विराजमान हैं।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 01-07-2022 at 02:26:38 pm
अपडेट