ताज़ा खबर
 

श्राद्ध 2017: अगर प्रतिपदा के दिन हुई है घर में किसी की मृत्यू तो आज करें श्राद्ध, जानिए सही मुहूर्त

Shradh, Pitru Paksha Puja Vidhi 2017: देश भर में श्राद्ध का महीना शुरू हो चुका है। इस महीने हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग अपने पूर्वजों को स्मरण करते हैं। उनके मोक्ष के लिए पूजा पाठ करते हैं।

Pitru Paksha 2017: आज से शुरू हुआ पितृपक्ष (Photo Source: Indian Express Archive)

देश भर में श्राद्ध का महीना शुरू हो चुका है। इस महीने हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग अपने पूर्वजों को स्मरण करते हैं। उनके मोक्ष के लिए पूजा पाठ करते हैं। इस महीने की शुरूआत श्राद्ध प्रतिपदा से होती है। श्राद्ध प्रतिपदा वो लोग मनाते हैं जिनके घर के किसी जन की मृत्यू प्रतिपदा वाले दिन हुई होती है। यहां प्रतिपदा में शुक्ल और कृष्ण पक्ष दोनों ही प्रतिपदा शामिल हैं। श्राद्ध प्रतिपदा का दिन नान नानी का श्राद्ध भी किया जाता है। अगर मामा के घर में कोई श्राद्ध करने के लिए ना हो तो इस दिन नाना नानी के लिए मोक्ष की कामना के लिए श्राद्ध करते हैं। अगर नाना नानी की मृत्यू का दिन ज्ञात है तो भी इस दिन श्राद्ध कर सकते हैं। माना जाता है श्राद्ध करने से पितृ प्रसन्न होकर आशीर्वाद देते हैं। श्राद्ध प्रतिपदा पादवा श्राद्ध के नाम से भी जानी जाती है।

प्रतिपदा तिथी आरांभ होगी 6 सितंबर को 12.32 बजे से
प्रतिपदा तिथी खत्म होगा 7 सितंबर को 11.52 बजे से।

पितृ पक्ष के नाम से जाने जाने वाले पार्वण श्राद्ध को या तो कुतुप मुहूर्त में या रौहिण मुहूर्त मे माना शुभ माना जाता है।

कुतुप मुहूर्त = 11:53 से 12:43
समय = 0.49 मिनट
रौहिण मुहूर्त = 12:43 से 13:33
समय = 0.49 मिनट
अपराह्न काल = 13:33 से 16:0
समय = 2 घंटे 29 मिनट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App