ताज़ा खबर
 

ज्योतिष शास्त्र: इन पांच राशियों के लोग कभी नहीं पड़ते प्यार के चक्कर में, जानिए वजह

कई राशियां ऐसी होती हैं जिन्हें जिंदगी में कई बार प्यार होता है लेकिन कई राशियां ऐसी भी होती हैं जो प्यार से खुद को कोसों दूर रखती हैं।

Author नई दिल्ली | February 12, 2019 8:14 PM
सांकेतिक तस्वीर।

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक सभी 12 राशियां एक दूसरे से अलग होती हैं। हर राशि वाले व्यक्ति का उस राशि के अनुसार व्यक्तित्व होता है और यही उन्हें दूसरों से अलग बनाता है। कई राशियां ऐसी होती हैं जिन्हें जिंदगी में कई बार प्यार होता है लेकिन कई राशियां ऐसी भी होती हैं जो प्यार से खुद को कोसों दूर रखती हैं। ज्योतिष के अनुसार हम आपको ऐसी पांच राशियों के बारे में बता रहे हैं जिसके जातक कभी प्यार के चक्कर में नहीं पड़ते हैं। लेकिन यदि इन्हें एक बार प्यार हो जाए तो इनसे बेहतर पार्टनर मिलना मुश्किल होता है।

कन्या: ज्योतिष के अनुसार इस राशि के लोगों को सबसे ज्यादा आत्मनिर्भर माना जाता है। इनका यही गुण इन्हें प्यार से दूर रखता है। ऐसे लोग खुद सब कुछ नियंत्रित करने में यकीन रखते हैं या यूं कहें कि इन्हें खुद पर सबसे ज्यादा भरोसा होता है। कन्या राशि के लोग कई रिश्तों में पड़ते हैं लेकिन अंजाम प्यार तक नहीं पहुंच पाता। ऐसे लोग परफेक्ट पार्टनर की चाहत रखते हैं और अगर इन्हें ऐसा पार्टनर ना मिले तो ये प्यार से दूरी बना लेते हैं। ये लोग जब तक किसी पर पूरी तरह भरोसा नहीं कर लेते प्यार में नहीं पड़ते। अगर आप इनसे ये उम्मीद करें कि इन्हें किसी से प्यार हो जाए और ये उसके सामने खुली किताब बन जाएं तो ऐसा होना लगभग नामुमकिन है लेकिन इनकी एक खासियत है कि अगर ये एक बार किसी से प्यार कर बैठते हैं तो फिर उसका साथ कभी नहीं छोड़ते।

वृश्चिक: इस राशि के लोग बेहद रोमांटिक तो होते हैं लेकिन इनका रिश्ते कुछ अटपटे से चलते हैं। जैसे यदि ये किसी के प्यार में पड़कर रिलेशनशिप में आ भी जाते हैं तो ये बार-बार ब्रेकअप करते हैं और फिर बार-बार पैचअप भी कर लेते हैं। इनका दिमाग उस रिश्ते में स्थिर नहीं रहता।

धनु: इस राशि के लोग अत्यधिक ऊर्जावान और रोमांच प्रेमी होते हैं। इन्हें गुस्सा भी बहुत ज्यादा आता है लेकिन जिंदगी के साथ एक्सपैरीमेंट करना इन्हें पसंद होता है। ये अगर किसी रिश्ते में होते हैं तो उसे कभी बोर नहीं होने देते लेकिन इनका दूसरा पहलू देखा जाए तो ये अपने रिश्ते को ज्यादा दिनों तक आगे नहीं बढ़ा पाते। इन्हें एक रिश्ते में बांधकर रखना बहुत मुश्किल होता है। ऐसा कहा जाता है कि धनु राशि के लोगों की खासियत है कि ये उस पल में जीते हैं जिसमें ये हैं फिर चाहें वहां इनके साथ कोई दोस्त हो या कोई अपरिचित। ये सभी के साथ मौज मस्ती कर सकते हैं। यही व्यवहार इन्हें सच्चे प्यार से दूर रखता है। इन्हें ऐसे पार्टनर की तलाश होती है जो इनपर निर्भर ना रहे बल्कि इनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चले।

कुंभ: कुंभ राशि के लोग बेहद शर्मीले, कम बोलने वाले और अपनी बातें छिपाने वाले होते हैं। ये खुलकर कुछ नहीं बोलते। ऐसे लोग दूसरों को मौका ही नहीं देते कि कोई इनके करीब आए और इन्हें अच्छे से जान सके। ये लोग तब तक प्यार में नहीं पड़ते जब तक इन्हें सामने वाले पर पूरा भरोसा नहीं हो जाता। ये अपने पार्टनर को परखते हैं और फिर अपने प्यार का इज़हार करते हैं।

मकर: दृढ़निश्चय, कठोर परिश्रम और प्रैक्टिकल सोच की जहां बात आती है वहां मकर राशि के लोगों का नाम लिया जाता है। ऐसे लोगों के ये गुण इन्हें शानदार कर्मचारी, बेहतर सहकर्मी और विश्वसनीय तो बनाता है लेकिन इन्हीं गुणों की वजह से ये अपने प्यार के रिश्ते में भी एक व्यवसायी की तरह नफा और नुकसान देखने लगते हैं। यही सबसे बड़ा कारण है कि मकर राशि के लोग प्यार में कम ही पड़ पाते हैं। इस राशि के लोगों को यदि प्यार करना है तो इन्हें समझना होगा कि प्यार नैचुरल है इसे प्रैक्टिकल चश्मे से देखने पर कोई रिश्ता सही नहीं लगेगा। अपने पार्टनर को वक्त दें, उसे समझें और भरोसा करना सीखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App