scorecardresearch

Shubh Yog: इस योग में जन्म लेने वाले व्यक्ति होते हैं धनवान और भाग्यशाली, जीवन में खुल जाते हैं तरक्की के मार्ग

जिसकी कुण्डली में इंद्र योग होता है। वह जातक बहुत बुद्धिमान होता है। राजनेता बनने की संभावना है।

Shubh Yog: इस योग में जन्म लेने वाले व्यक्ति होते हैं धनवान और भाग्यशाली, जीवन में खुल जाते हैं तरक्की के मार्ग
इंद्रयोग कैसे बनता है?

Which is the most powerful yoga in astrology?: ग्रहों के विभिन्न प्रभावों से बनने वाले योग ज्योतिष में बहुत महत्वपूर्ण हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इन योगों में जन्म लेने वाले व्यक्ति के जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन आता है और ये परिवर्तन उनके लिए शुभ साबित होते हैं। ज्योतिष शास्त्र में योग के 27 विभिन्न प्रकार बताए गए हैं। आइए जानते हैं इंद्र योग के बारे में-

इंद्र योग क्या है? (What does Indra Yoga mean?)

ज्योतिष में बताए गए 27 योगों में से इंद्र योग को बेहद शुभ और फलदायी माना गया है। यदि किसी जातक की कुंडली में यह योग बन रहा है तो निश्चित ही उसका रुका हुआ काम पूरा हो जाएगा, चूंकि कुंडली में बन रहे इस योग को बहुत ही शुभ मन जाता है। यह योग करियर में तरक्की के रास्ते भी खोलता है। इसी कारण ज्योतिष में इंद्र योग का विशेष महत्व माना गया है।

इंद्र योग कैसे बनता है? (How is Indra Yoga formed?)

इंद्र योग को शुभ योग माना जाता है। यह तब बनता है जब किसी व्यक्ति की कुंडली में मंगल चंद्रमा से तीसरे स्थान पर हो और शनि सातवें भाव में हो। वहीं शुक्र शनि से सप्तम भाव में तथा शुक्र से सप्तम भाव में गुरु होना चाहिए।

इंद्र योग के लाभ (Indra Yoga Benefits?)

यदि किसी व्यक्ति की तुला लग्न हो और उसके साथ इंद्र योग हो तो व्यक्ति को मान-सम्मान और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। ऐसे लोग हमेशा न्याय और नेकी के रास्ते पर चलते हैं। जिस जातक की कुंडली में यह योग बनता है उसे भी धन लाभ होता है। कुंडली में इस योग के बनने से व्यक्ति होशियार और बुद्धिमान बनता है।

इस योग का फल (Indra Yoga in Astrology)

जिस व्यक्ति की कुंडली में इंद्र योग बनता है वह व्यक्ति राजनीतिज्ञ होता है। इनकी बुद्धि का स्तर बहुत ऊंचा होता है। इससे जातक में धन की कमी नहीं होती है। इस योग के जातकों को अपने जीवन में अपार धन की प्राप्ति होती है। इंद्र योग वाले व्यक्ति को समाज में मान सम्मान और प्रसिद्धि प्राप्त होती है।

ज्योतिष के जानकारों का मानना है कि कि इंद्र योग के कारण ही कुछ प्रसिद्ध लोगों की मृत्यु जल्दी हुई थी। हालांकि ज्योतिष शास्त्र अनुसार, यह पूरी तरह से सच नहीं है, इस तथ्य में योगदान देने वाले अन्य कारक भी हैं, लेकिन हमारी गणना के अनुसार उनकी लंबे समय तक प्रसिद्धि निश्चित रूप से इंद्र योग को दी जा सकती है।

हम अक्सर देखते हैं कि बहुत से लोगों की कुंडली में इंद्र योग होता है लेकिन वे जीवन में कोई महत्वपूर्ण धन या सफलता प्राप्त नहीं करते हैं। चूंकि इसमें योगदान देने वाले विभिन्न कारक हो सकते हैं। सबसे पहले, अधिकांश ग्रहों की स्थिति राज योग या इंद्र योग के काम करने के लिए अनुकूल होनी चाहिए। दूसरी बात कि आपकी कुंडली में इंद्र योग जैसे अनुकूल योग का समर्थन करने के लिए कुंडली में अन्य ग्रहों को मजबूत होना चाहिए।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 07-10-2022 at 11:57:37 am
अपडेट