ताज़ा खबर
 

पन्ना धारण करने से नौकरी और व्यापार में तरक्की मिलने की है मान्यता, किन राशियों के लिए लाभकारी?

Panna Stone: पन्ना हरे रंग का रत्न होता है। यह सबसे प्रतिष्ठित रत्नों में से एक है। मान्यता है कि इसे धारण करने से व्यापार और नौकरी में सफलता मिलती है।

ज्योतिष शास्त्र अनुसार मिथुन और कन्या राशि के जातक पन्ना धारण कर सकते हैं।

Panna Gemstone Benefits: अपना करियर चमकाने और जीवन खुशहाल बनाने के लिए कई लोग रत्न धारण करते हैं। कुंडली में जब कोई ग्रह पीड़ित होता है तो ज्योतिषी उस ग्रह से संबंधित रत्न पहनने की सलाह देते हैं। रत्न ग्रहों का शुभ प्रभाव बढ़ाकर व्यक्ति को जीवन में तरक्की दिलाने का कारक बनते हैं। यहां हम पन्ना रत्न के बारे में बात करने जा रहे हैं। ये रत्न बुध ग्रह से संबंधित है। इसे धारण करने से बुद्धि तेज होती है। जिससे व्यक्ति अपने कार्यक्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने लगता है।

पन्ना रत्न क्या है? पन्ना हरे रंग का रत्न होता है। यह सबसे प्रतिष्ठित रत्नों में से एक है। मान्यता है कि इसे धारण करने से व्यापार और नौकरी में सफलता मिलती है। कुंडली में पीड़ित बुध के कारण होने वाले नकारात्मक प्रभावों से उभरने के लिए इस रत्न को धारण करने की सलाह दी जाती है। बुध के कमजोर होने से व्यक्ति फैसले लेने में स्वयं को असहज पाता है। पढ़ने लिखने में परेशानी होती है। क्योंकि बुध के पीड़ित होने से स्मरण शक्ति ही कमजोर हो जाती है।

किनके लिए लाभकारी? ज्योतिष शास्त्र अनुसार मिथुन और कन्या राशि के जातक पन्ना धारण कर सकते हैं। इस राशि के जातकों के लिए ये रत्न काफी लाभकारी माना जाता है। इसके अलावा वृषभ, तुला, मकर और कुंभ राशि वाले भी इसे पहन सकते हैं। लेकिन रत्न धारण करने से पहले किसी ज्योतिषीय से परामर्श जरूर ले लें। लेकिन बुध अगर कुंडली के तीसरे या 12वें भाव में हो तो पन्ना नहीं पहनना चाहिए। इसी तरह से बुध यदि छठे, आठवें या 12वें भाव का स्वामी हो तो भी पन्ना नुकसान पहुंचा सकता है। (यह भी पढ़ें- इन 4 चीजों में पुरुष महिलाओं से रह जाते हैं पीछे, जानिए चाणक्य का क्या कहना है)

पन्ना के लाभ: मान्यता है कि इस रत्न को धारण करने से स्मरण शक्ति बढ़ती है। ये बुद्धि तेज करता है। नौकरी और व्यापार में उन्नति के अवसर हासिल होने लगते हैं। वाणी में मधुरता आती है। व्यक्ति के आत्मविश्वास और बल में वृद्धि होती है। सामाजिक और पेशेवर जीवन में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। धन-धान्य में बढ़ोतरी होने लगती है। जिंदगी में आ रही कई परेशानियों से छुटकारा मिलता है। (यह भी पढ़ें- चालाक और मनमौजी माने जाते हैं इन राशियों के लोग, जानिये और क्या है मान्यता)

पन्ना धारण करने की विधि: इस रत्न को सोने या चाँदी की अंगूठी में बनवाकर हाथ की सबसे छोटी उंगली में बुधवार के दिन धारण करना चाहिए। पन्ना रत्न जड़ित अंगूठी को धारण करने से एक रात पहले गंगाजल, शहद, मिश्री व दूध के घोल में मिलाकर रख दें। उसके बाद सुबह इसे निकाल कर धूप दीप कर के ओम बू बुधाय नम: मंत्र का 108 बार जाप कर धारण कर लें।

Next Stories
1 Chanakya Niti: इन 4 चीजों में पुरुष महिलाओं से रह जाते हैं पीछे, जानिए चाणक्य का क्या कहना है
2 चालाक और मनमौजी माने जाते हैं इन राशियों के लोग, जानिये और क्या है मान्यता
3 इस मूलांक वालों को अपनी आजादी से होता है बेहद प्यार, सीरियस रिलेशनशिप से बचते हैं, होते हैं धनवान
यह पढ़ा क्या?
X