scorecardresearch

हथेली की रेखाओं से जानिये कब होगी आपकी शादी? ये खास निशान सुखमय वैवाहिक जीवन की है निशानी

जिस व्यक्ति के हाथ में विवाह रेखा ह्रदय रेखा के करीब होती है उनकी शादी 25 साल की उम्र तक हो जाती है।

Palmistry, Religion News, Religion
हथेली की रेखाओं के जरिए आप यह जान सकते हैं की आपकी शादी कब होगी

Hastrekha Shastra: हाथों की रेखाओं के जरिए व्यक्ति के भविष्य के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है। हर व्यक्ति को यह बात जानने में दिलचस्पी होती है की उसकी शादी कब होगी। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हथेली में मौजूद विवाह रेखा के जरिए इस बात का पता लगाया जा सकता है की आखिर किसी व्यक्ति की शादी कब होगी। बता दें की विवाह रेखा कनिष्ठा यानी हाथ की सबसे छोटी उंगली के नीचे होती है।

हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार किसी व्यक्ति के हाथ में एक या फिर एक से अधिक विवाह रेखा भी होती हैं। हालांकि जिन लोगों के हाथों में जो सबसे अधिक गहरी और स्पष्ट रेखा होती है, उसे विवाह रेखा माना जाता है। बाकी रेखाएं विवाह संबंध टूटने की ओर इशारा करती हैं।

हस्तरेखाओं के जरिये व्यक्ति के जीवन के विभिन्न पहलुओं को भी देखा जा सकता है। यानी की एक से अधिक रेखा व्यक्ति के प्रेम संबंधों की दर्शाती हैं। हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार विवाह संबंधी रेखा को देखकर वैवाहिक जीवन के बारे में आंकलन किया जा सकता है।

हाथ में द्वीप का निशान: यदि किसी व्यक्ति के हाथ में द्वीप या फिर कोई चिन्ह का निशान हो तो ऐसे लोगों का शादी में धोखा मिलने के आसार होते हैं। ऐसे लोगों की शादी में भी देरी होती है, जिन लोगों के हाथों में ये निशान होते हैं, वह जीवनभर अपने साथी के स्वास्थ्य और स्वभाव को लेकर चिंता में रहते हैं।

वहीं अगर विवाह रेखा हृदय रेखा को काटते हुए नीचे की ओर होती है तो यह उनके लिए खतरे की घण्टी है। मतलब की ऐसे व्यक्ति के लिए विवाह शुभ नहीं माना जाता है।

गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान: जिन लोगों की हथेली में गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान होता है, उसे बेहद ही शुभ माना जाता है। ऐसे लोगों के भाग्य में वृद्धि होती है। इनकी लव लाइफ भी काफी शानदार रहती है। ऐसे लोगों का पार्टनर बेहद ही समझदार होता है।

जिस व्यक्ति के हाथ में विवाह रेखा ह्रदय रेखा के करीब होती है उनकी शादी 25 साल की उम्र तक हो जाती है। वहीं जिनकी विवाह रेखा छोटी उंगली से जितनी करीब होती है उनकी शादी उतनी ही देर से होती है।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट