scorecardresearch

Palmistry: हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार हाथ में हो ऐसी रेखाएं तो बनते हैं मंत्री, विधायक और दार्शनिक; जानिए

Palmistry: ऐसे जातक जिनकी कविता लेखन में कविता पढ़ने में रुचि होती है उनकी उंगलियां लंबी-लंबी होती है। उंगलियों के पोर लंबे और सुस्‍पष्‍ट होते हैं।

Palmistry, Zodiac Sign, Astrology

हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार व्यक्ति के हाथ पर बनीं रेखाएं भविष्‍य का आईना मानी जाती हैं। हाथ की बनावट, उंगलियों का आकार और चिह्न व्यक्ति के भविष्य और वर्तमान के बारे में बताते हैं। आपके व्‍यक्तित्‍व के बारे में काफी कुछ बताते हैं। हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, हाथ में मस्तिष्क रेखा एक महत्वपूर्ण रेखा है, जो हमारे भाग्य के बारे में बहुत कुछ बताती है। यह रेखा व्यक्ति के नेचर, उसकी विचारधारा, बुद्धि और विवेक के बारे में भी बताती है।

हाथ देखकर जातक की रुचि किसमें है और वह किस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाएगा, यह सारी बातें भी हाथ देखकर जानी जा सकती हैं। ज्योतिष के अनुसार आज हम आपको ऐसे कुछ पहचान के बारे बताने जा रहे हैं जिससे यह बताया जा सकता है कि जातक किस क्षेत्र में अपना भविष्‍य संवारेगा। आज हम आपको बताएंगे कि वो कौन से चिह्न और रेखाएं हैं, जो व्यक्ति को राजनीतिज्ञ, दार्शनिक और अभिनेता बनाते हैं।

ऐसे लोग बनते हैं साहित्यकार: हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक किसी के व्यक्ति के हाथ में मस्तिष्क रेखा लंबी, सीधी और स्पष्ट हो तो ऐसे जातक को बहुत बुद्धिमान होता है। ऐसे लोगों को लिखने का शौक होता है और इनमें सोचने-समझने की क्षमता अच्छी होती है। इसी वजह से ये लोग बड़े साहित्यकार बनते हैं।

ऐसे लोग बनते हैं बड़े नेता: हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, जिन जातकों की हथेली में बृहस्‍पति पर्वत छोटा होता है और बुध पर्वत भी दबा होता है ऐसे लोगों का राजनीति में छोटा कद होता है। जबकी राजनीति में रुचि रखने वालों की हथेली सफेद और हाथ लंबे-लंबे होते हैं। अगर किसी व्यक्ति के हाथ में मस्तिष्क रेखा गुरु पर्वत की ओर झुकी हुई हो व्यक्ति अच्छा कलाकार, अभिनेता या नेता होता है। जिस जातक के हाथ की हथेली के मध्य में घोड़ा बना हो या फिर स्तंभ जैसा निशान हो तो ऐसे व्यक्ति को जीवन में राज सुख मिलता है। साथ ही धनवान भी होता है। 

ऐसे लोग बनते हैं दार्शन‍िक: हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार यदि मस्तिष्क रेखा शनि पर्वत की ओर झुकी हुई तो ऐसे व्यक्ति दार्शनिक और चिन्तशील होते हैं। ऐसे लोगों के हाथ पतले और हल्के सांवले रंग के होते हैं साथ ही उंगलियों में गांठें स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ती है। माना जाता है जो लोग दार्शनिक प्रवृत्ति के होते हैं उनमें कोई मोह- माया का सरोकार नहीं होता, ऐसी लोग संकीर्ण विचारों से काफी ऊपर उठ चुके होते हैं। ऐसे लोगों की धर्म और संगीत कला में रूचि होती है।

ऐसे लोग होते हैं कला प्रेमी: अगर किसी व्यक्ति के हाथ में मस्तिष्क रेखा एक किनारे से जीवन रेखा से लगभग सटी हुई आगे बढ़ती है और इन दोनों रेखाओं के बीच अंतर स्पष्ट रूप से देखा जा सके तो ऐसे लोग तेज दिमाग वाले होते हैं। ये लोग कला प्रेमी होते हैं। साथ ही ऐसे लोग टीवी लाइन से भी जुड़े हुए हो सकते हैं।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट