ताज़ा खबर
 

हस्तरेखा विज्ञान: इन पांच रेखाओं से बनता है अचानक धनलाभ का योग!

तर्जनी अंगुली के नीचे का स्थान गुरु पर्वत कहा जाता है। जीवन रेखा से निकलकर गरु पर्वत तक किसी रेखा का जाना शुभ माना जाता है।

Author नई दिल्ली | December 18, 2018 4:59 PM
सांकेतिक तस्वीर।

हस्तरेखा विज्ञान में हथेली की रेखाओं के आधार पर कई सारी बातें कही गई हैं। इसके मुताबिक किसी व्यक्ति की हस्तरेखा को देखकर उसके बारे में काफी कुछ पता लगाया जा सकता है। हस्तरेखा विज्ञान में किसी व्यक्ति के साथ भविष्य में होने वाली घटनाओं का भी अंदाजा लगाया गया है। साथ ही हस्तरेखा के मुताबिक हथेली की रेखाओं से किसी व्यक्ति को भविष्य में अचानक से होने वाले धनलाभ के बारे में भी जाना जा सकता है। आज हम आपको हथेली की ऐसी ही पांच रेखाओं के बारे में बताएंगे।

1. मध्यमा अंगुली के नीचे का स्थान शनि पर्वत कहा जाता है। कुछ लोगों के शनि पर्वत पर त्रिभुज की आकृति बनी होती है। हस्तरेखा विज्ञान के मुताबिक ऐसे लोगों को 45 साल की उम्र के आसपास अचानक से धनलाभ होता है।

2. हथेली की मस्तिष्क रेखा के पास चंद्र पर्वत स्थित होता है। कई बार चंद्र पर्वत से निकलने वाली रेखा शनि पर्वत तक जाती है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार ऐसे लोगों को विवाह के बाद धनलाभ होता है।

3. तर्जनी अंगुली के नीचे का स्थान गुरु पर्वत कहा जाता है। जीवन रेखा से निकलकर गरु पर्वत तक किसी रेखा का जाना शुभ माना जाता है। हस्तरेखा विज्ञान की मानें तो इन्हें अपने जीवन में अचानक धनलाभ होता है।

4. कुछ लोगों की हथेली में मस्तिष्क रेखा से कोई छोटी सी रेखा निकलकर शनि पर्वत तक जाती है। हस्तरेखा विज्ञान में कहा गया है कि ऐसे लोगों को 35 साल की उम्र में अचानक से धनलाभ होता है।

5. हस्तरेखा विज्ञान में अनामिका अंगुली पर वर्ग का निशान होना काफी शुभ माना गया है। कहा जाता है कि ऐसे लोगों को अचानक से भारी धनलाभ होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App