ताज़ा खबर
 

हस्तरेखा विज्ञान: हथेली की इन रेखाओं को माना जाता है अनहोनी का संकेत!

हस्तरेखा विज्ञान में हथेली की मस्तिष्क रेखा का टूटना अच्छा नहीं माना गया है। कहा जाता है कि यह किसी अनहोनी के होने का संकेत है।

Palmistry, Palmistry facts, Palmistry science, Palmistry knowledge, Lines Of Palm, Lines Of Palm reading, reading Lines Of Palm, Untoward Acts, Untoward Acts facts, religion newsसांकेतिक तस्वीर।

अनहोनी यानी कि ऐसी घटना जिसकी हमने उम्मीद न की हो। या फिर ऐसी घटना जो हमें बहुत तकलीफ दे जाए। कहा जाता है कि अनहोनी होना हम सबके जीवन का हिस्सा है। कहते हैं कि जितनी कम अनहोनी हो उतना ही अच्छा है। लेकिन कोई अनहोनी कब होगी, इसका हम पता नहीं लगा सकते हैं। साथ ही अनहोनी को होने से रोका भी नहीं जा सकता है। लेकिन हस्तरेखा विज्ञान में कुछ ऐसे संकेत बताए गए हैं जिनसे किसी अनहोनी के बारे में जाना जा सकता है। कुछ लोगों की हथेली के चंद्र पर्वत पर कोई रेखा बीचोंबीच स्थित होती है। इस रेखा का होना अच्छा नहीं माना जाता। कहते हैं कि ऐसी स्थिति में यात्रा करते समय किसी जानवर के बीच सड़क पर आ जाने की संभावना होती। इससे सड़क दुर्घटना हो सकती है। और आप चोटिल हो सकते हैं।

कुछ लोगों की हथेली के शुक्र पर्वत पर वर्ग जैसी आकृति बनी होती है। हस्तरेखा विज्ञान में इसे कैदी योग कहा जाता है। मान्यता है कि जिन लोगों की हथेली ऐसी होती है, वे लोग किसी झगड़े में उलझ सकते हैं। इससे उनके जेल जाने तक की नौबत आ सकती है। कुछ लोगों की हथेली पर स्थित मस्तिष्क रेखा लहरदार रूप में नीचे की ओर झुकी होती है। इस रेखा को शुभ नहीं माना गया है। कहा जाता है कि यह रेखा भी किसी अनहोनी का संकेत होती है।

हस्तरेखा विज्ञान में हथेली की मस्तिष्क रेखा का टूटना अच्छा नहीं माना गया है। कहा जाता है कि यह किसी अनहोनी के होने का संकेत है। ऐसी स्थिति में व्यक्ति को यात्रा करते समय सावधान रहने की सलाह दी जाती है। साथ ही इससे व्यक्ति के रिश्ते भी खराब होते रहते हैं। इसके अलावा कई बार शुक्र पर्वत से निकलकर शनि पर्वत को जाने वाली रेखा पर शाखाएं बन जाती हैं। इससे सेहत खराब होने की बात कही गई है।

Next Stories
1 मोटापा दूर करने के लिए किए जाते हैं ये पांच ज्योतिषीय उपाय!
2 गणपति के हैं आठ स्वरूप, जानिए क्या बताई गई है इनकी महिमा!
3 लक्ष्मी जी को गुलाब का फूल चढ़ाने से क्या लाभ मिलने की है मान्यता, जानिए
ये पढ़ा क्या?
X