ताज़ा खबर
 

Happy Onam 2019: केरल में धूमधाम से मनाया जा रहा ओणम, जानें बच्चों को इस त्योहार से कैसे जोड़ें?

Happy Onam 2019: ओणम का त्योहार चिंगम के मलयालम कैलेंडर माह में 22वें नक्षत्र थिरुवोनम पर पड़ता है। यह त्योहार काफी धूमधाम से मनाया जाता है, लेकिन बच्चों को ओणम के बारे में जानकारी देनी चाहिए, जिससे इस पर्व से उनका भी जुड़ाव हो सके।

Author तिरुवनंतपुरम | Updated: September 11, 2019 1:55 PM
Happy Onam 2019: त्योहार से बच्चों को जोड़ने के लिए उन्हें रंगोली आदि बनाने के लिए प्रेरित करें। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

Happy Onam Festival 2019: ओणम केरल का ऐसा त्योहार है, जो फसल उत्सव के रूप में काफी धूमधाम से मनाया जाता है। इस दौरान आप अपने बच्चे को इस त्योहार के महत्व के बारे में जानकारी दे सकते हैं, जिससे वह देश की सांस्कृतिक विविधता समझ सकेगा। इस रिपोर्ट में हम आपको ऐसे कुछ पॉइंट्स बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने बच्चे को इस त्योहार से जोड़ सकते हैं।

बच्चों से त्योहार के बारे में बात करें: त्योहार सिर्फ सेलिब्रेशन के लिए नहीं होते हैं। आपको ऐसा कुछ करना चाहिए, जिससे बच्चे का जुड़ाव उस त्योहार से हो सके। बता दें कि ओणम का त्योहार चिंगम के मलयालम कैलेंडर माह में 22वें नक्षत्र थिरुवोनम पर पड़ता है, जिसे काफी धूमधाम से मनाया जाता है। इस त्योहार के बारे में बताने के लिए आप बच्चे से किवदंतियों व पौराणिक कहानियों का जिक्र कर सकते हैं।

National Hindi Khabar, 11 September 2019 LIVE News Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

ओणम सदया बनाने में बच्चों से लें मदद: इस त्योहार में ओणम सदया बनाने का चलन है, जिसमें करीब 2 दर्जन पकवान शामिल होते हैं। इन सभी पकवानों को केले के पत्ते पर परोसा जाता है। ऐसे में ये डिशेज बनाने के लिए आप अपने बच्चों की मदद ले सकते हैं। साथ ही, उनसे परिवार के अन्य सदस्यों व मेहमानों को खाना परोसने के लिए भी कह सकते हैं।

बच्चों के साथ बनाएं पूकलम: ओणम के अवसर पर घरों को फूलों व रंगोली आदि से सजाया जाता है, जिसे पूकलम कहते हैं। इस मौके पर आप अपने बच्चों को उनकी क्रिएटिविटी दिखाने के लिए प्रेरित करते फ्लॉवर डेकोरेशन में उनकी मदद ले सकते हैं।

डाई क्राफ्ट बनवाएं: ओणम के दौरान डाई क्राफ्ट बनाने का भी चलन है। ऐसे में बच्चों से डाई एलिफेंट या महाबली बनवाएं, जिन्हें वे खेल-खेल में तैयार कर लेंगे। इसके बाद उन डिजाइन को सजाकर घरों में लगाएं, जिससे बच्चों का उत्साह बढ़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Ganpati Visarjan 2019 Song: ‘गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आ’, गणेश जी की इन Bollywood Songs को सुनकर करें विदाई
2 Ganesh visarjan 2019 Vidhi, Shubh Muhurat: गणपति विसर्जन की पूरी विधि और शुभ चौघड़िया मुहूर्त जानिए यहां
3 Shradh 2019 Start Date: पितृ पक्ष कल से हो रहा शुरु, जानें श्राद्ध की तिथियां और पिंडदान करने के स्थान