नवरात्रि में इन चार राशि वालों पर मां अंबे रहेंगी मेहरबान, धन दौलत में हो सकती है वृद्धि

Navratri 2021: मां दुर्गा के उपासकों पर इस दौरान देवी की असीम कृपा रहती है। ज्योतिषविदों के अनुसार, कुछ राशि के लोगों पर इस नवरात्रि मां अंबे की खास कृपा दृष्टि बनी रहेगी।

navratri 2021, navratri 2021 date, kin rashiyon par navratri me ma durga ki kripa rhegi
नवरात्रि में मां दुर्गा की आराधना फलदायी होता है (File Photo)

Navratri 2021:  इस साल शारदीय नवरात्रि की शुरुआत गुरुवार 7 अक्टूबर से हो रही है। मां दुर्गा के नौ रूपों की आराधना का यह महापर्व शुक्रवार 15 अक्टूबर को समाप्त हो जाएगा। हिंदू धर्म में इस पर्व का विशेष महत्त्व है। मां दुर्गा के उपासकों पर इस दौरान देवी की असीम कृपा रहती है। ज्योतिषविदों के अनुसार, कुछ राशि के लोगों पर इस नवरात्रि मां अंबे की खास कृपा दृष्टि बनी रहेगी।

तुला राशि- नवरात्रि में तुला राशि के जातकों पर मां दुर्गा की विशेष कृपा बनी रहेगी। अगर आप किसी नए काम की शुरुआत करना चाहते हैं तो ये समय आपके लिए श्रेष्ठ है। ज्योतिषविदों के अनुसार, नवरात्रि आपके लिए खुशियां लेकर आ रही है। मुकदमों में आपकी जीत होगी और दुश्मनों का नाश होगा। आर्थिक रूप से मजबूती मिलेगी और नौकरी के अवसर मिलेंगे।

कुंभ राशि- कुंभ राशि वालों के लिए नवरात्रि में कुछ बड़ा होने के आसार हैं। इस दौरान मां दुर्गा की कृपा दृष्टि आप पर बनी रहेगी और परिवार का साथ मिलेगा। नौकरी आदि की समस्या दूर होगी और बिजनेस में भी लाभ मिलेगा। मां दुर्गा की आराधना करें और किसी भी बेवजह की बहस से दूर रहें।

वृश्चिक राशि- लंबे समय से बिगड़े काम इस दौरान ठीक होंगे। स्वास्थ्य के लिहाज से ये नवरात्रि विशेष होने वाली है। ज्योतिषविदों के मुताबिक, ये नवरात्रि आपको सभी कर्जों से मुक्ति दिलाएगी क्योंकि घर में धन की बढ़ोतरी होगी। घर में संपन्नता का वास होगा जिस कारण आपकी भौतिक सुख-सुविधाओं में भी इजाफा होगा। इससे पूरे परिवार में सौहार्दपूर्ण माहौल बना रहेगा।

मिथुन राशि- मिथुन राशि के जातकों पर इस दौरान मां दुर्गा की विशेष कृपा बरसेगी। उनकी मेहनत रंग लाएगी। लंबे वक़्त से रुके हुए काम चल पड़ेंगे। स्वास्थ्य में सुधार होगा और आर्थिक स्थिति मज़बूत होगी। ज्योतिषविदों की मानें तो इस हफ्ते भूमि अथवा कोई संपत्ति खरीदने का योग है। धार्मिक कार्यों में परिवार लीन रहेगा और सबसे मधुर संबंध बने रहेंगे।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट