ताज़ा खबर
 

मोहिनी एकादशी 2018 पूजा मुहूर्त और विधि: शुभ कार्यों के लिए बन रहा योग, ये है पूजन विधि

Mohini Ekadashi 2018 Puja Vidhi, Vrat Vidhi, Procedure, Mantra, Muhurat (मोहिनी एकादशी 2018 पूजा विधि और मुहूर्त): मोहिनी एकादशी के दिन ब्राह्मणों को भोजन कराना काफी शुभ माना जाता है। इसके साथ ही आपको घर आए ब्राह्मणों को दान भी अवश्य करना चाहिए।

Author नई दिल्ली | April 26, 2018 12:21 PM
भगवान विष्णु।

Mohini Ekadashi 2018 Puja Vidhi, Muhurat: मोहिनी एकादशी पर सर्वार्थसिद्धि योग बन रहा है। इस योग को शुभ कार्यों के लिए काफी उपयुक्त माना जाती है। इस दिन श्रद्धा के साथ भगवान विष्णु की आराधना करने से भक्तों को समृद्धि मिलती है। इसके साथ ही इसे धन प्राप्ति का योग भी कहा जाता है। मोहिनी एकादशी पर व्रत रखने से भक्तों के जीवन में सम्पन्ता आती है। इसके साथ ही उसे उसके पाप कर्मों से भी छुटकारा मिलता है। इन सबके बीच मोहिनी एकादशी पर सही पूजन विधि के साथ विष्णु जी की आराधना करनी चाहिए। ऐसा करने से विष्णु जी काफी प्रसन्न होते हैं और भक्त की मनोकामनाओं की पूर्ति करते हैं। हम आपको मोहिनी एकादशी की सही पूजन विधि और मुहूर्त के बारे में बताने जा रहे हैं।

मोहिनी एकादशी के दिन व्यक्ति को सूर्योदय से पहले बिस्तर से उठ जाना चाहिए। इसके बाद नित्य क्रियाओं से निपटकर स्नान वगैरह करके साफ-सुथरा हो जाना चाहिए। स्नान के वक्त आप अपने शरीर पर कुश और तिल का लेप लगाएं तो अच्छा रहता है। इसके बाद देव पूजन के लिए कलश की स्थापना करनी चाहिए। आप कलश के ऊपर लाल रंग का वस्त्र बांध दें और फिर कलश पूजन शुरू करें। इसके बाद बड़े ही श्रद्धा भाव से भगवान की तस्वीर या प्रतीमा को सामने रख दें। अब धूप या दीप से आरती करें और भगवान को मीठे फलों का भोग लगाएं। भोग लगाकर आपको प्रसाद वितरण का कार्य शुरू करना चाहिए।

मोहिनी एकादशी के दिन ब्राह्मणों को भोजन कराना काफी शुभ माना जाता है। इसके साथ ही आपको घर आए ब्राह्मणों को दान भी अवश्य करना चाहिए। आज के दिन दान करने से घर में सम्पन्नता आती है। इसके अलावा रात में आपको घर पर कीर्तन कराना चाहिए। इसके बाद भगवान की मूर्ति के समीप ही सोना चाहिए। इन सबके बीच मोहिनी एकादशी के शुभ मुहूर्त का विशेष महत्व है। शुभ मुहूर्त के अनुसार ही आपको अपनी पूजन विधि शुरू करनी चाहिए।

ये है शुभ मुहूर्त-

एकादशी तिथि आरंभ– 10:46 बजे (25 अप्रैल 2018)
एकादशी तिथि समाप्त– 09:19 बजे (26 अप्रैल 2018)
पारण का समय– 05:48 से 08:07 बजे तक (27 अप्रैल 2018).

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X