ताज़ा खबर
 

Maha Shivratri 2019 Puja Vidhi, Muhurat, Mantra, Samagri: महाशिवरात्रि का ये है शुभ मुहूर्त, करें विधिवत पूजा

Maha Shivratri 2019 Puja Vidhi, Muhurat, Time, Timings, Samagri and Mantra: नक्षत्र के हिसाब से मंगलवार 5 मार्च 2019 को महाशिवरात्रि का व्रत रखा जाएगा। मान्यता है कि महाशिवरात्रि पर गाय के घी में कपूर मिला कर महामृत्युंजय मंत्र की 108 आहुति देनी चाहिए।

maha shivratri, maha shivratri 2019, maha shivratri puja vidhi, maha shivratri puja time, mahashivratri puja, mahashivratri 2019, maha shivaratri puja vidhi, maha shivaratri 2019, shivratri puja vidhiMaha Shivratri 2019 Puja Vidhi, Mantra, Samagri: महाशिवरात्रि पर पूजा करने के लिए सबसे पहले पानी में गंगाजल डाल कर स्नान करें।

Maha Shivratri 2019 Puja Vidhi, Samagri and Mantra in Hindi: महाशिवरात्रि पर शिवालयों में विशेष पूजन होता है। 4 मार्च को पड़ रही शिवरात्रि शुभ मुहूर्त 4 मार्च की शाम 4:28 से ही शुरू हो जाएगा। शिव जी के भक्त अगले दिन यानी 5 मार्च की शाम 7:07 तक शिवरात्रि मना पाएंगे। नक्षत्र के हिसाब से मंगलवार 5 मार्च 2019 को महाशिवरात्रि का व्रत रखा जाएगा। मान्यता है कि महाशिवरात्रि पर गाय के घी में कपूर मिला कर महामृत्युंजय मंत्र की 108 आहुति देनी चाहिए। इस दिन रुद्राक्ष की माला धारण करना भी अच्छा माना जाता है। आइए जानते हैं घर पर कैसे करें महाशिवरात्रि की पूजा।

महाशिवरात्रि पूजन विधि: महाशिवरात्रि पर पूजा करने के लिए सबसे पहले पानी में गंगाजल डाल कर स्नान करें। स्नान के बाद हाथ में अक्षत और गंगाजल लेकर महाशिवरात्रि व्रत का संकल्प लें। संकल्प लेने के बाद सफेद कपड़े पहनें और शिव मंदिर में एक शुद्ध आसन जमाकर बैठ जाएं। अब पंचामृत, दूध, दही, शहद, गंगाजल और काले तिल से शिवमूर्ति का अभिषेक करें। शिवलिंग का विधि पूर्वक पूजन करें शिवलिंग बेल-पत्र, गाजर, बेर, धतूरा, भांग, सेंगरी और जनेव जरूर चढ़ाएं।

भगवान का तिलक करने के बाद उन्हें स्वच्छ वस्त्र अर्पित करें और धूप-दीप शिवजी की पूजा करें। पूजा के दौरान शिव चालीसा पढ़ें और आरती करें। आरती के बाद उत्तर दिशा की तरफ मुख करके ओउम नमः शिवाय मंत्र का 108 बार जाप करें। अगली सुबह शिवजी को फल का भोग लगा कर स्वयं भी फल का सेवन कर व्रत खोलें।

Live Blog

Highlights

    14:43 (IST)04 Mar 2019
    Happy Mahashivratri 2019: ऐसे दें शुभकामनाएं

    अकाल मृत्यु वह मरे, जो काम करे चंडाल का,और काल उसका क्या करे, जो भक्त हो महाकाल का...

    आज मौन रहूंगा, ध्यान में लीन रहूंगा,शिव शक्ति के संचय का पुण्य पर्व हैमहा शिवरात्रि की शुभकामनाएँ।

    12:42 (IST)04 Mar 2019
    थोड़े में ही खुश हो जाते हैं महादेव, सच्चे मन से करो पूजा

    शिव जी की पूजा में किसी भी महंगे सामान की जरूरत नहीं पड़ती। इंसानों की तरह ही शिव जी भी थोड़े में ही खुश हो जाते हैं। सोमवार या शिवरात्रि को उनका जलाभिषेक किया जाता है। शिवलिंग पर जल और बेलपत्र अर्पण कर उन्हें प्रसन्न किया जा सकता है।

    12:10 (IST)04 Mar 2019
    शिव की पूजा में न सिंदूर रखना भी माना जाता है अशुभ

    सिंदूर, सुहागन का प्रतीक माना जाता है। यह कई देवी-देवताओं को भी अर्पित किया जाता है, लेकिन शिव को नहीं। सिंदूर से भगवान शिव की सेवा करना ठीक नहीं माना जाता है।

    11:34 (IST)04 Mar 2019
    शिव की पूजा से दूर रखें हल्दी

    देवी-देवताओं की पूजा में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन भगवान शिव की पूजा करते समय इसका इस्तेमाल अशुभ माना गया है। शिवलिंग पर हल्दी नहीं चढ़ाई जाती है।

    10:32 (IST)04 Mar 2019
    रोग से मुक्ति के लिए रखा जाता है मिश्री शिवलिंग

    मिश्री शिवलिंग चीनी या मिश्री से बनाया जाता है। इस शिवलिंग को लेकर कहा जाता है कि इसकी पूजा करने से रोग खत्म होते हैं और पीड़ा से मुक्ति मिलती है।

    09:50 (IST)04 Mar 2019
    शिव की पूजा में अशुभ माने जाते हैं केतकी के फूल

    शिव की पूजा के दौरान कई बातों को ध्यान रखना बेहद जरूरी है। पौराणिक कथा के अनुसार शिव को केतकी के फूल चढ़ाना अशुभ माना गया है। क्योंकि भोलनाथ ने ब्रह्मा जी की वजह से केतकी के फूल को श्राप दिया था।

    09:18 (IST)04 Mar 2019
    पारद शिवलिंग कहा रखा जाता है

    पारद शिवलिंग:- पारद शिवलिंग अक्सर घर, ऑफिस, दूकान आदि जगहों रखा जाता है। इस शिवलिंग की पूजा अर्चना करने से जीवन में सुखशांति और सौभाग्य प्राप्त होता हैं।

    08:38 (IST)04 Mar 2019
    भवान विश्वकर्मा ने अलग-अलग पदार्थो, धातु व रत्नों से तैयार किए थे शिवलिंग

    शिव का अर्थ शुभ और लिंग का अर्थ ज्योतिपिंड होता है। शिवलिंग 'ब्रह्माण्ड' या ब्रह्मांडीय अंडे के आकार का प्रतिनिधित्व करता है। शिवपुराण के अनुसार भगवान विष्णु ने पूरे जगत के सुख और कामनाओं के लिए भवान विश्वकर्मा द्वारा कई तरह के शिवलिंग बनावाए थे। जिन्हें अलग-अलग पदार्थो, धातु व रत्नों से तैयार किया गया था।

    08:05 (IST)04 Mar 2019
    भक्तों पर बहुत जल्दी मेहरबान होते हैं, लेकिन...

    कई प्रचलित कथाओं में बताया गया है कि शिव अपने भक्तों पर बहुत जल्दी मेहरबान होते हैं, लेकिन शिव की पूजा के दौरान कई बातों को ध्यान रखना बेहद जरूरी है। पूजा के दौरान कुछ ऐसी चीजें हैं, जिनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

    07:41 (IST)04 Mar 2019
    ज्योतिर्लिंग अवतार में आए थे भगवान शिव

    शिवलिंग पुराण के अनुसार, इस रात शिव ने ब्रह्या और विष्णु के बीच अस्त्र-शस्त्र युद्ध की घोषणा के बाद ज्योतिर्लिंग अवतार लिया था।

    Next Stories
    1 Happy Maha Shivratri 2020 Wishes Images, Messages, Status: महाशिवरात्रि पर इन संदेशों और तस्वीरों के जरिए दें बधाई
    2 Happy Mahashivratri 2020 Status, Messages, SMS, Hindi Shayari: महाशिवरात्रि विश करने के लिए भेजें महादेव की ये खूबसूरत तस्वीरें, कोट्स, एसएमएस और शायरी
    3 Maha Shivratri: देवघर में बाबा बैद्यनाथ की बारात में ‘मी-थ्री’ झांकी होंगी आकर्षण का केंद्र
    यह पढ़ा क्या?
    X