ताज़ा खबर
 

जिन लोगों के हाथ में होती हैं ये रेखाएं उन्हें मिलती है कामयाबी, जाने क्या कहती है आपके हाथ की रेखा

समुद्रशास्त्र में व्यक्ति के अंगों जैसे कान, नाक, होंठ आदि को देखकर भी चरित्र के बारे में बताया गया है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल सांकेतिक तौर पर किया गया है।

हमारे हाथ की हथेली में बहुत सी रेखाएं होती हैं। हस्त रेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि इन रेखाओं को देखकर पता लगाया जा सकता है कि व्यक्ति के भाग्य में क्या है। हस्त रेखा विशेषज्ञों के अनुसार मनुष्य शारीरिक अंगों के बारें जानकारी समुद्रशास्त्र में दी गई हैं। समुद्रशास्त्र में व्यक्ति के अंगों जैसे कान, नाक, होंठ आदि को देखकर भी चरित्र के बारे में बताया गया है। समुद्रशास्त्र में व्यक्ति की उंगलियों को देखकर उनके बारें में बहुत कुछ बताया जा सकता है।

हस्तरेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि हथेली की मध्यमा उंगली को देखकर व्यक्ति के स्वभाव के बारें में बताया जा सकता है। कहा जाता है कि जिस व्यक्ति की मध्यमा उंगली सीधी और लंबी होती है वो लोग पढ़ाई में काफी अच्छे होते हैं। ये लोग बुद्धिमान माने जाते हैं। ये लोग जो काम करते हैं उसे ईमानदारी से करते हैं। साथ ही पूरी लगन से करते हैं। इन लोगों को अपने काम में कामयाबी भी मिलती है।

वहीं जिन लोगों की मध्यमा उंगली मुड़ी होती है वो लोग दूसरों को परेशान करते हैं साथ ही दूसरों के काम में बाधा ड़ालने के वजह से इनके रिश्ते अभी अच्छे नहीं माने जाते। ऐसे लोग दूसरों से ईर्ष्या करते रहते हैं। जिन लोगों की मध्यमा उंगली तर्जनी उंगली की और झुकी होती है वो लोग डरकोप माने जाते हैं। ऐसे लोग कोई बड़ा काम ठीक से नहीं करते। ऐसे लोगों को आगे चलकर हार्ट की बिमारी भी हो सकती है।

जिन लोगों की मध्यमा उंगली तर्जनी उंगली के बराबर होती है उन लोगों को बहुत महत्वकांशी माना जाता है। ये लोग अपने काम को लेकर कोई समझौता नहीं करते हैं। जिंदगी में कुछ बड़ा करने का सपना देखते हैं। वहीं हमारी हथेली में रेखाओं के अलावा कुछ पर्वत भी होते हैं। हथेली के उठे हुए भाग को पर्वत कहते हैं। अगर किसी व्यक्ति के हाथ में शुक्र पर्वत आवश्यकता से ज्यादा विकसित होता है तो ऐसे व्यक्ति भोगी होते हैं और अपने से विपरीत सैक्स के प्रति लालायित रहते हैं। शुक्र पर्वत की अनुपस्थिति से मानव जीवन में अनेक मुश्किलें आती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App