ताज़ा खबर
 

Janmashtami, krishna Aarti : आरती कुंज बिहारी की…इस आरती को सपरिवार करें तो प्रसन्न होंगे कृष्ण

Janmashtami Aarti: आरती कुंज बिहारी की... कृष्ण जन्माष्टमी पर इस आरती से व्रत करने वाले श्रद्धालु अपनी पूजा संपन्न करते हैं। आप चाहें तो यहां से krishna aart in hindi में पढ़ भी सकते हैं। शंख बजाकर और आरती दिखाकर जोर से बोलिए कृष्ण कन्हाई की जय...

Author नई दिल्ली | Updated: August 24, 2019 10:55 PM
Krishna Arti: आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की…

Krishna Aarti Songs: हिंदू धर्म में कोई भी पूजा बिना आरती के अधूरी मानी जाती है। आज पूरे भारत में जन्माष्टमी का पर्व मनाया जा रहा है। इस दिन बहुत से लोग व्रत भी रखते हैं और आधी रात को श्री कृष्ण की विशेष पूजा की जाती है। मान्यता है कि द्वापरयुग में भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भादो माह की अष्टमी को आधी रात में हुआ था। इसी कारण जन्माष्टमी के दिन भगवान कृष्ण के बाल रूप की पूजा आधी रात को किये जाने की परंपरा रही है। कृष्ण के जन्म के बाद उनका सुंदर श्रृंगार किया जाता है, लोग उन्हें झूला झुलाते हैं और विधिवत पूजा की जाती है। आखिरी में कान्हा की आरती के साथ पूजा संपन्न होती है।

कृष्ण आरती (Krishna Aarti) :

आरती कुंजबिहारी की,
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की।

गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला
श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला
गगन सम अंग कांति काली, राधिका चमक रही आली

लतन में ठाढ़े बनमाली
भ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चंद्र सी झलक
ललित छवि श्यामा प्यारी की।।

श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की
आरती कुंजबिहारी की।।

श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की
कनकमय मोर मुकुट बिलसै, देवता दरसन को तरसैं।

गगन सों सुमन रासि बरसै
बजे मुरचंग, मधुर मिरदंग, ग्वालिन संग

अतुल रति गोप कुमारी की
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की
आरती कुंजबिहारी की
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की॥

जहां ते प्रकट भई गंगा, कलुष कलि हारिणि श्रीगंगा
स्मरन ते होत मोह भंगा
बसी सिव सीस, जटा के बीच, हरै अघ कीच

चरन छवि श्रीबनवारी की
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की।।

आरती कुंजबिहारी की
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की।।

चमकती उज्ज्वल तट रेनू, बज रही वृंदावन बेनू।
चहुं दिसि गोपि ग्वाल धेनू
हंसत मृदु मंद,चांदनी चंद, कटत भव फंद

टेर सुन दीन भिखारी की।
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की।।

आरती कुंजबिहारी की
श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की।।

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Janmashtami Puja, Ganesh Aarti : आरती कुंज बिहारी की… इस आरती से पहले भगवान गणेश की आरती को करना न भूलें
2 आज का पंचांग, 23 अगस्त 2019: जन्माष्टमी के दिन भगवान कृष्ण की निशिथ काल में होती है पूजा, जानें आज का पंचांग
3 Happy Krishna Janmashtami 2019 Celebrations: देश में जन्माष्टमी की धूम, राहुल गांधी ने दी बधाई