ताज़ा खबर
 

जानिए क्‍यों कहा जाता है पैर साफ रखें, ये हैं पैरों से जुड़े शुभ-अशुभ संकेत

आमतौर पर पैर को शरीर के स्वास्थ्य का केंद्र बिंदु कहा जाता है। कहते हैं कि पैर को साफ पानी से धोने पर शरीर की सारी नकारात्मक ऊर्जा निकल जाती है।

Author नई दिल्ली | June 19, 2018 3:52 PM
समुद्र शास्त्र में ऐसे लोगों को काफी भाग्यशाली बताया गया है जिनके पैर के तलवों में लालिमा पाई जाती है।

हम सबको बचपन से ही अपने पैर साफ-सुथरे रखने की सलाह दी जाती है। सामान्य तौर पर ऐसा माना जाता है कि पैर साफ रखने से घर में गंदगी नहीं आती और स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। लेकिन क्या जानते हैं कि ज्योतिष और समुद्र शास्त्र में भी पैरों को साफ रखने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही इस बात का भी विस्तार से वर्णन है कि पैर गंदे होने से व्यक्ति ग्रह दोषों की चपेट में आ जाता है। इसके अलावा समुद्र शास्त्र हमें इस बात की जानकारी देता है कि पैर के तलवों का हमारे स्वभाव और भविष्य पर कैसा प्रभाव पड़ता है। जी हां, समुद्र शास्त्र की मानें तो किसी के तलवे का रंग देखकर उसके बारे में काफी कुछ पता लगाया जा सकता है। चलिए विस्तार से जानते हैं इस बारे में।

समुद्र शास्त्र में ऐसे लोगों को काफी भाग्यशाली बताया गया है जिनके पैर के तलवों में लालिमा पाई जाती है। कहते हैं कि ऐसे लोगों का चरित्र काफी अच्छा होता है और ये लोग एक सुविधा-सम्पन्न जीवन व्यतीत करते हैं। वहीं, पैरों के तलवे का सफेद होना काफी अशुभ माना जाता है। सामुद्रिक शास्त्र की मानें तो ऐसे लोगों को अपने जीवन में काफी कष्टों का सामना करना पड़ता है। कहते हैं कि इन लोगों को अपने प्रयासों में सफलता नहीं मिलती और ये काफी मुश्किल भरा जीवन व्यतीत करते हैं।

आमतौर पर पैर को शरीर के स्वास्थ्य का केंद्र बिंदु कहा जाता है। कहते हैं कि पैर को साफ पानी से धोने पर शरीर की सारी नकारात्मक ऊर्जा निकल जाती है। इससे व्यक्ति के जीवन में सकारात्मक विचारों का संचार होता है। वहीं, जो लोग पैर को गंदा रखते हैं उनकी आंख खराब हो जाने की भी मान्यता है। ज्योतिष की मानें तो गंदे पैर वालों की कुंडली में ग्रह दोष की संभावना काफी बढ़ जाती है। ऐसे में व्यक्ति को तमाम तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए हमें अपने पैरों की सफाई पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App