ताज़ा खबर
 

जानिए क्या कहती है आपकी भाग्य रेखा

कई लोगों की हथेली में भाग्य रेखा नहीं होती है तो ऐसे लोगों के बारें में हस्त रेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि ऐसे लोग अपने काम पर विशेष ध्यान रखते हैं।

जानकारों का मानना है कि अगर किसी व्यक्ति की भाग्य रेखा और पर्वत सूर्य के मध्य निर्दोष खत्म होती है। तो ऐसे व्यक्ति को सिनेमा में खास रुचि होती है।

हमारी हथेली में कई रेखाएं होती हैं। इन्हीं रेखाओं में से एक रेखा होती है भाग्य रेखा। हस्त रेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि इस रेखा को देखकर व्यक्ति के भविष्य के बारें में बताया जा सकता है। आज हम आपके लिए लाएं हैं कीरो हस्तरेखा शास्त्र किताब से खास जानकारी, जिसमें हस्त रेखाओं के बारें में बताया गया है। किताब के अनुसार अगर किसी व्यक्ति की भाग्य रेखा और पर्वत सूर्य के मध्य निर्दोष खत्म होती है। तो ऐसे व्यक्ति को सिनेमा में खास रुचि होती है।

कई लोगों की हथेली में भाग्य रेखा नहीं होती है तो ऐसे लोगों के बारें में हस्त रेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि ऐसे लोग अपने काम पर विशेष ध्यान रखते हैं। इन लोगों का जीवन अच्छा गुजरता है। कुछ लोगों की भाग्य रेखा मध्यमा उंगली पर चढ जाती है, तो उस व्यक्ति को जीवन के अंतिम समय में किसी पर आश्रित रहना पड़ता है।

हस्त रेखा विशेषज्ञ कहते हैं कि हथेली के जिस भाग में भाग्य रेखा टूटती है, उस आयु में व्यक्ति को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं अगर भाग्य रेखा कलाई के किसी हिस्से से निकलती है, तो उस व्यक्ति को जीवन भर दरिद्रता का निर्वाह करना पड़ता है।

जिन लोगों की भाग्य रेखा शुरुआत में दोषपूर्ण है तो उस व्यक्ति का शुरुआत जीवन कष्टमय होता है। अगर भाग्य रेखा कहीं रुकी है और कोई अन्य रेखा उससे आगे नहीं बढ़ रही तो व्यक्ति के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आता है। अगर किसी व्यक्ति की भाग्य रेखा में विवाह रेखा आकर मिलती है तो उसका वैवाहिक जीवन अत्यंत नारकीय होता है।

अगर किसी व्यक्ति की भाग्य रेखा का रंग लाल है और माध्यमा उंगली के प्रथम पोर को स्पर्श कर लेती है, तो ऐसे व्यक्ति की अस्वाभाविक मृत्यु हो सकती है। अगर किसी व्यक्ति की भाग्य रेखा शनि पर्वत तक पहुंचती है, तो ऐसे व्यक्ति को विदेश यात्रा का मौका मिल सकता है।

जिन लोगों की भाग्य रेखा समान रेखा से निकलती है और उस पर आड़ी-तिरछी रेखाएं हों तो उस व्यक्ति को 50 साल की उम्र के बाद सफलतायें मिलती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App