ताज़ा खबर
 

Bhai Dooj 2018 Puja Muhurat, Mantra, Vidhi: भाई दूज पूजन पर करें इस मंत्र जाप, थाली में जरूर रखें ये चीज

Bhai Dooj 2018 Puja Shubh Muhurat, Timing, Samagri, Procedure, Mantra: भाई दूज के दिन बहनों को भाई के माथे पर टीका लगा उसकी लंबी उम्र की कामना करनी चाहिए। इस दिन सुबह पहले स्नान करके विष्णु और गणेश जी की पूजा करनी चाहिए। इसके बाद भाई को तिलक लगाना चाहिए।

भाई दूज का त्योहार भाई और बहन के प्यार को सुदृढ़ करने का त्योहार है।

Bhai Dooj 2018 Puja Shubh Muhurat, Time, Samagri, Procedure, Mantra: भाई दूज का त्योहार आज पूरे भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। भाई दूज का त्योहार दिवाली से दूसरे दिन मनाया जाता है। इस साल पूरे भारत में 9 नवंबर को भाई दूज का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। हिंदूओं के प्रमुख त्योहार दिवाली का प्रमुख उत्सव होता है, इस पांच दिवसीय त्योहार का आखिरी दिन होता है भाई दूज का पर्व। भाई दूज का त्योहार भाई और बहन के प्यार को सुदृढ़ करने का त्योहार है। भाई दूज का त्योहार लंबे समय से मनाया जा रहा है और इसे लेकर कई कहानियां भी प्रचलित हैं। कई लोग इसे भाऊ दूज, भाई टीका, टीका और भाई फोटा के नाम से मनाते हैं। भाई-बहन के इस पर्व जैसा ही पर्व रक्षा बंधन भी मनाया जाता है।

हिन्दू धर्म में भाई-बहन के स्नेह-प्रतीक के रूप में दो त्योहार मनाए जाते हैं। पहला रक्षाबंधन जो कि श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इसमें भाई बहन की रक्षा करने की प्रतिज्ञा करता है। दूसरा त्योहार भाई दूज का होता है इसमें बहनें भाई की लंबी आयु की प्रार्थना करती है। भाई दूज का त्योहार कार्तिक माह में मनाया जाता है। भारत में इस पर्व को अलग-अलग नामों से जाना जाता है। कई लोग इसे भाऊ दूज, भाई टीका, टीका और भाई फोटा के नाम से मनाते हैं। भाई-बहन के इस पर्व जैसा ही पर्व रक्षा बंधन भी मनाया जाता है। इस दिन बहनें अपने भाईयों के माथे पर तिलक लगाती हैं और उनकी लंबी उम्र के लिए व्रत करती हैं।

Happy Bhai Bhaiya Dooj 2018 Wishes Images, Quotes, Status, SMS, Messages, Wallpapers, Pics, Greetings

पूजा की सामग्री: चावल, चावल के घोल से तैयार किया गया घोल, सिंदूर, फूल, पान, सुपारी और मुद्रा।

भाई दूज की पूजा विधि: भाई दूज के दिन बहनों को भाई के माथे पर टीका लगा उसकी लंबी उम्र की कामना करनी चाहिए। इस दिन सुबह पहले स्नान करके विष्णु और गणेश जी की पूजा करनी चाहिए। इसके बाद भाई को तिलक लगाना चाहिए। बहनें आसन पर चावल के घोल से चौक बनाएं। इस चौक पर अपने भाई को बिठाकर उनके हाथों की पूजा करें। सबसे पहले बहन अपने भाई के हाथों पर चावलों का घोल लगाए। उसके ऊपर सिंदूर लगाकर फूल, पान, सुपारी तथा मुद्रा रख कर धीरे-धीरे हाथों पर पानी छोड़ते हुए मंत्र बोले ‘गंगा पूजा यमुना को, यमी पूजे यमराज को। सुभद्रा पूजे कृष्ण को गंगा यमुना नीर बहे मेरे भाई आप बढ़ें फूले फलें।’ इस दिन सुबह पहले स्नान करके विष्णु और गणेश जी की पूजा करनी चाहिए। इसके उपरांत भाई को तिलक लगाना चाहिए।

भाई दूज 2018 शुभ मुहूर्त

शुभ मुहूर्त शुरू- दोपहर 1:10 मिनट
शुभ मुहूर्त समाप्त- दोपहर 3:27 मिनट
शुभ मुहूर्त की अवधि- 2 घंटे 17 मिनट

टिका शुभ मुहूर्त
इस वर्ष 9 नवंबर को भाई दूज का पर्व है और इस दिन अगर भाई को टीका शुभ मुहूर्त में करेंगे तो इस दिन की पूजा जरूर सफल होगी। इस दिन शुभ मुहूर्त है 1 बजकर 10 मिनट से शुरु होकर 3 बजकर 27 मिनट तक रहेगा।

भाई दूज मंत्र

‘गंगा पूजा यमुना को, यमी पूजे यमराज को। सुभद्रा पूजे कृष्ण को गंगा यमुना नीर बहे मेरे भाई आप बढ़ें फूले फलें।’

Live Blog

21:12 (IST) 08 Nov 2018
Bhai Dooj 2018: जानिए कब है भाई दूज

इस साल पूरे भारत में 9 नवंबर को भाई दूज का त्योहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। भाई दूज का त्योहार कार्तिक माह में मनाया जाता है। भारत में इस पर्व को अलग-अलग नामों से जाना जाता है। कई लोग इसे भाऊ दूज, भाई टीका, टीका और भाई फोटा के नाम से मनाते हैं। भाई-बहन के इस पर्व जैसा ही पर्व रक्षा बंधन भी मनाया जाता है। इस दिन बहनें अपने भाईयों के माथे पर तिलक लगाती हैं और उनकी लंबी उम्र के लिए व्रत करती हैं।

21:08 (IST) 08 Nov 2018
Bhai Dooj Puja Samagri: भाई दूज पूजा की सामग्री

भाई दूज पूजा की सामग्री: चावल, चावल के घोल से तैयार किया गया घोल, सिंदूर, फूल, पान, सुपारी और मुद्रा।