ताज़ा खबर
 

सामुद्रिक शास्त्र: सिर की भंवरें खोलती हैं ये राज!

सामुद्रिक शास्त्र में सिर पर दो भंवरों का होना अच्छा नहीं माना गया है। इसके मुताबिक ऐसे बच्चे काफी जिद्दी स्वभाव के होते हैं।

सांकेतिक तस्वीर।

हममें से कई लोगों के सिर पर भंवर पाई जाती है। कुछ लोगों के सिर पर एक तो कुछ के दो भंवरें स्थित होती हैं। हम इसे सामान्य समझकर नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन इन भंवरों से किसी व्यक्ति के कई सारे राज जाने जा सकते हैं। जी हां, ऐसा सामुद्रिक शास्त्र में कहा गया है। सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक जिन लोगों के सिर पर भंवर पाई जाती है, वे काफी दयालु स्वभाव के होते हैं। माना जाता है कि ऐसे लोग दिमाग से काफी शांत होते हैं। इन लोगों को बात-बात पर क्रोध नहीं आता। कहते हैं कि ऐसे लोग अपने फैसले काफी सोच-समझकर करते हैं। साथ ही ऐसे लोगों के अपने जीवन में उच्च पद प्राप्त करने की भी मान्यता है। साथ ही इनका जीवन सुखमय ढंग से व्यतीत होने की भी बात कही गई है।

कुछ लोगों के सिर पर एक भंवर पाई जाती है। सामुद्रिक शास्त्र में कहा गया है कि ऐसे लोग ईमानदार प्रवृत्ति के होते हैं। ये लोग झूठ नहीं के बराबर बोलते हैं। साथ ही इन्हें काफी वफादार भी माना जाता है। कहा जाता है कि ऐसे लोग अपने दोस्त के प्रति काफी वफादार होते हैं। ये लोग समाज के बारे में सोचते हैं। कहते हैं कि ऐसे लोग सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं। इन्हें दूसरों की मदद करना अच्छा लगता है।

सामुद्रिक शास्त्र में सिर पर दो भंवरों का होना अच्छा नहीं माना गया है। इसके मुताबिक ऐसे बच्चे काफी जिद्दी स्वभाव के होते हैं। कहा जाता है कि इन्हें गुस्सा बहुत ज्यादा आता है। इस वजह से इनके कई रिश्ते खराब हो जाते हैं। ऐसे लोग बचपन से ही काफी शरारती होते हैं। हालांकि सिर पर दो भंवर का होना कोई बड़ी चिंता की बात नहीं मानी गई है। ऐसे बच्चे धीरे-धीरे अच्छी आदतें सीख जाते हैं।

Next Stories
1 ज्योतिष शास्त्र: जानिए शुक्र ग्रह का हमारे जीवन पर पड़ता है कितना असर!
2 राशि के हिसाब से जानिए पर्स में रखनी चाहिए किसकी तस्वीर!
3 बुरे सपनों का क्या है ज्योतिषीय कनेक्शन, जानिए
ये पढ़ा क्या?
X