ताज़ा खबर
 

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए आपका किचन कैसे आ सकता है काम, जानिए

किचन में मौजूद सरसों का तेल भी शनिदेव को प्रसन्न करने में काफी काम आ सकता है। इसके लिए शनि की साढ़ेसाती में हर शनिवार शनि मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जलाएं।

Author नई दिल्ली | August 20, 2018 6:51 PM
शनि देव।

शनिदेव में आस्था रखने वाले भक्त बड़ी ही श्रद्धाभाव से उनकी पूजा-अर्चना करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि जिस व्यक्ति से शनिदेव प्रसन्न रहते हैं, उसके तमाम कष्टों को हर लेते हैं। शनिदेव को प्रसन्न करने से लिए उनकी पूजा-अर्चना के साथ-साथ कई तरह के उपाय किए जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि शनिदेव को प्रसन्न करने में आपके घर का किचन भी बड़ा काम आ सकता है? यदि नहीं तो आज हम इसी बारे में आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं। हर किसी के किचन में सामान्यतौर पर काले चने रखे हुए होते हैं। कहा जाता है कि शुक्रवार की शाम तीन अलग-अलग बर्तन में काले चने भिगो देना चाहिए। इसके बाद शनिवार की सुबह इसे अलग-अलग छान लें। इसमें से एक चने को सरसों के तेल में पकाएं और इससे शनिदेव का भोग लगाएं। और बाकि चने को प्रसाद के रूप में बांट दें।

इसके बाद दूसरे बर्तन के चने को आप किसी काले भैंसे को खिलाएं। यदि भैंसा ना मिले तो आप इसे काली भैंस को भी खिला सकते हैं। और तीसरे बर्तन में रखे चने को कुष्ठ रोगियों में बांट दें। आप यह चना मजदूरों के बीच भी बांट सकते हैं। ऐसी मान्यता है कि यह उपाय करने से पूर्व जन्म के पापों से मुक्ति मिलती है। और शनिदेव प्रसन्न होकर इस जीवन में समृद्धि लाते हैं।

किचन में मौजूद सरसों का तेल भी शनिदेव को प्रसन्न करने में काफी काम आ सकता है। इसके लिए शनि की साढ़ेसाती में हर शनिवार शनि मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इसके बाद उड़द की दाल की खिचड़ी का शनिदेव को भोग लगाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से शनि के बुरे प्रभावों से बचा जा सकता है। और जीवन में काफी उच्च पदों को प्राप्त किया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X