scorecardresearch

Astro Tips: मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार करें इन मंत्रों का जाप, धन लक्ष्मी सदा रहेंगी मेहरबान

धन की देवी मां लक्ष्मी को हम साल भर प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं। जिससे लिए लोग तरह- तरह के उपाय करते हैं। यहां हम आपको राशि अनुसार कुछ ऐसे मंत्रों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको करने से मां लक्ष्मी आप पर मेहरबान रहेंगी।

maa laxmi mantras, maa laxmi remedy
मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार करें इन मंत्रों का जाप- (जनसत्ता)

हिंदू धर्म में मां लक्ष्मी को देवी- देवताओं में विशेष दर्जा प्राप्त है। शास्त्रों के अनुसार मां लक्ष्मी की कृपा से ही मनुष्य को धन और वैभव की प्राप्ति होती है। मनुष्य धन प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत भी करता है। लेकिन फिर भी वह आर्थिक संपन्न नहीं हो पाता औऱ मां लक्ष्मी की कृपा उस पर नहीं हो पाती। ज्योतिष में मां लक्ष्मी को प्रसन्न करके के बहुत सारे उपाय बताए गए हैं। यहां हम आपको राशि अनुसार उन मंत्रों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका जाप करने से आपनो धन- वैभव की प्राप्ति हो सकती है। साथ ही मां लक्ष्मी आप पर मेहरबान हो सकतींं हैं। आइए जानते हैं इन मंत्रों के बारे में…

मेष राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र ॐ ऐं क्लीं सौं: का जाप करें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी और आपको आशीर्वाद प्रदान करेंगी। वहीं आपको बता दें कि मेष राशि पर मंगल देव का आधिपत्य है।

वृष राशि:  इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ऐं क्लीं श्रीं। इस मंत्र का जाप रोज सुबह स्नान करने के बाद करना चाहिए। आप चाहे तो इसकी रोज 5 माला कर सकते हैं।

मिथुन राशि: मंदिर में छोटी इलायची रखें।  इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ क्लीं ऐं सौं:। ऐसा करने से आपको मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होगा।

कर्क राशि: दूध में शहद मिलाकर श्रीयंत्र और लक्ष्मी यंत्र का अभिषेक करें।  इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ऐं क्लीं श्रीं। कर्क राशि पर चंद्र देव का आधिपत्य है।

सिंह राशि: सबसे पहले स्नान करने के बाद  सूर्य देव को अर्घ्य में गुलाब जल मिश्रित करके दें। इसके बाद स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ह्रीं श्रीं सौं:। इससे धन लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी।

कन्या राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ श्रीं ऐं सौं:। साथ ही गाय को हरा चारा खिलाएं।

तुला राशि: इस राशि के स्वामी शुक्र देव हैं। इसलिए माता लक्ष्मी को मक्खन मिश्री का भोग लगाएं। साथ ही  इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ह्रीं क्लीं श्रीं।

वृश्चिक राशि: लाल पुष्प की माला किसी भी मंदिर में जाकर भगवान विष्णु जी को चढ़ाएं। साथ ही इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ऐं क्लीं सौं:।

धनु राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ह्रीं क्लीं सौं:। इस राशि पर गुरु बृहस्पति का आधिपत्य है। इसलिए आप लोग पीली वस्तुओं का दान भी करें।

मकर राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ऐं क्लीं ह्रीं श्रीं सौं:। मकर राशि पर शनि देव का आधिपत्य है। इसलिए आप लोग मां लक्ष्मी जी को कालाजामुन का भोग भी लगाएं।

कुंभ राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ह्रीं ऐं क्लीं श्रीं। साथ ही मां लक्ष्मी को मिश्री का भोग भी लगाएं।

मीन राशि: इस राशि के लोग स्फटिक या कमलगट्टे की माला से इस मंत्र का जाप करें- ॐ ह्रीं क्लीं सौं:। इस मंत्र की कम से कम एक माला जरूर करें।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.