scorecardresearch

दिव्यांगों की मदद से लेकर बेटियों की पढ़ाई तक, यहां पैसे खर्च करती हैं जया किशोरी; जानिये कितनी लेती हैं फीस

Jaya Kishori Fees and Charity: कार्यक्रमों से कमाए हुए पैसों का एक बड़ा हिस्सा किशोरी जी दिव्यांगों की सेवा के लिए दान कर देती हैं

दिव्यांगों की मदद से लेकर बेटियों की पढ़ाई तक, यहां पैसे खर्च करती हैं जया किशोरी; जानिये कितनी लेती हैं फीस
कॉमर्स से ग्रैजुएट साध्वी किशोरी दान-दक्षिणा में भी रुझान रखती हैं

Jaya Kishori: मशहूर भजन गायिका व कथावाचिका जया किशोरी सोशल मीडिया पर बेहद फेमस हैं। देश ही नहीं विदेश में भी अपने भजनों और भागवत कथा के लिए किशोरी जी जानी जाती हैं। उनके हजारों प्रशंसकों के बीच जब कोई नया वीडियो आता है तो वो तुरंत ही वायरल हो जाता है। ‘नानी बाई रो मायरा’ और ‘श्रीमद्भागवत कथा’ के अलावा जया किशोरी एक मॉटिवेशनल स्पीकर भी हैं। वो युवाओं को लाइफ मैनेजमेंट और सफलता पाने के गुर भी बताती हैं। एक गौड़ ब्राह्मण परिवार में 13 जुलाई 1995 को किशोरी जी का जन्म हुआ था। आइए जानते हैं कि 25 वर्षीया जया किशोरी कितना कमाती हैं और कहां-कहां दान करती हैं।

कितना कमाती हैं जया किशोरी: इंटरनेट पर प्राप्त जानकारी के मुताबिक भागवत गीता, नानी बाई का मायरो, नरसी का भात जैसी कथाएं कह चुकीं किशोरी जी प्रत्येक कथा के लिए करीब साढे 9 लाख रुपये लेती हैं। यूट्यूब पर एक चैनल के जरिये शेयर की गई डिटेल्स के अनुसार जया अपनी फीस दो बार में लेती हैं। वो आधी फीस कथा से पहले और आधी उसके उपरांत लेती हैं। बता दें कि बेहद कम उम्र से ही उन्होंने कथावाचन शुरू कर दिया था। यही नहीं, शिव तांडव स्तोत्र, लिंगाष्ठकम और रामाष्ठकम जैसे कई कठिन मंत्रोच्चारण उन्हें मुंह जुबानी याद हैं।

नारायण सेवा संस्थान को करती हैं दान: कॉमर्स से ग्रैजुएट साध्वी किशोरी दान-दक्षिणा में भी रुझान रखती हैं। एक इंटरव्यू के मुताबिक उनका कहना है कि कथा और भजन के बीच सामाजिक कार्यों के लिए फुर्सत निकाल पाना कई बार मुश्किल हो जाता है। ऐसे में दिव्यांगों की मदद व सेवा के लिए वो प्रत्यक्ष रूप में मौजूद नहीं हो पाती हैं। इसलिए दान के जरिये किशोरी जी अपने हिस्से की सेवा उन तक पहुंचाने का प्रयत्न करती हैं। कार्यक्रमों से कमाए हुए पैसों का एक बड़ा हिस्सा किशोरी जी नारायण सेवा संस्थान (Narayan Sewa Sansthan) में दान करती हैं।

बेटियों के लिए भी प्रदान करती हैं सहायता: जया किशोरी की आधिकारिक वेबसाइट ‘आइ एम जया किशोरी डॉट कॉम’ (iamjayakishori) के अनुसार वो बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कैंपेन का भी हिस्सा हैं। इसके तहत वो उन बालिकाओं की मदद करती हैं जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर है। ये लड़कियां साक्षर बनें, इसके लिए किशोरी जी सहायता प्रदान करती हैं।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट