ताज़ा खबर
 

10 साल की उम्र में सुंदरकांड गाकर आई थीं चर्चा में, जानिये- कैसे जया शर्मा बन गईं साध्वी जया किशोरी

Jaya Kishori Life Journey: जया किशोरी अब तक 350 कथाएं कर चुकी हैं। जया किशोरी उस समय आध्यात्मिक दुनिया की ओर आकर्षित हुईं जब वह केवल 7 वर्ष की थीं। आज फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म पर तो फैन फॉलोइंग के मामले में जया किशोरी बॉलीवुड की कई हीरोइनों से भी आगे हैं।

jaya kishori, jaya kishori ji, jaya kishori wiki, jaya kishori profile, jaya kishori personal life, jaya kishori age, jaya kishori bhajan, jaya kishori katha, jaya kishori marriage news, jaya kishori birth place, who is jaya kishori, jaya kishori personal life,Jaya Kishori: फेसबुक पर जया किशोरी का वेरिफाइड अकाउंट है, जिसे 16 लाख 34 हजार लोग लाइक करते हैं। (फोटो सोर्स- फेसबुक)

साध्वी जया किशोरी (Jaya Kishori) आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। वे एक फेमस कथाकार और भजन गायिका हैं और साथ ही अपनी मोटिवेशनल स्पीच के जरिए युवाओं का मार्गदर्शन करती हैं। इनका असली नाम जया शर्मा है लेकिन आज ये अपने प्रशंसकों के बीच में जया किशोरी के नाम से जानी जाती हैं। बेहद ही छोटी उम्र से ही जया किशोरी भक्ति और अध्यात्म के मार्ग पर निकल पड़ी थीं। जया किशोरी भगवत गीता, नानी बाई रो मायरो, रामायण आदि जैसे आयोजन करती हैं। इनकी मधुर आवाज का हर कोई दिवाना हो जाता है। जानिए जया किशोरी का जीवन परिचय…

जया किशोरी का जन्म 13 जुलाई साल 1995 में कोलकाता में हुआ था। इनके पिता का नाम शिव शंकर शर्मा और माता का नाम सोनिया शर्मा है। जया किशोरी की एक छोटी बहन भी हैं जिनका नाम चेतना शर्मा हैं। जया किशोरी अब तक 350 कथाएं कर चुकी हैं। जया किशोरी उस समय आध्यात्मिक दुनिया की ओर आकर्षित हुईं जब वह केवल 7 वर्ष की थीं। आज फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म पर तो फैन फॉलोइंग के मामले में जया किशोरी बॉलीवुड की कई हीरोइनों से भी आगे हैं।

कम उम्र में आध्यात्मिक क्षेत्र की गहराई में डूब जाना, जया किशोरी के लिए आसान हो गया क्योंकि वह पारंपरिक धार्मिक विश्वासों और प्रथाओं से जुड़े परिवार में पैदा हुई थीं। उनके दादा-दादी ने उनकी आध्यात्मिक वृद्धि को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है क्योंकि भगवान कृष्ण की कई कहानियां उनसे जुड़ी हुईं थीं और उन्होंने बचपन से ही भजनों को पूरी तरह से याद किया।

hindi.oneindia.com से मिली जानकारी के अनुसार जब जया केवल 6 साल की थी तब से भगवान कृष्ण के लिए जन्माष्टमी पर विशेष पूजा करती थीं। जया ने 9 साल की उम्र में संस्कृत में लिंगाष्ठ्कम, शिव तांडव स्त्रोतम, रामाष्ठ्कम आदि कई स्त्रोतों को गाना शुरू कर दिया था। 10 साल की उम्र में जया ने सुन्दरकाण्ड गाकर अपनी एक अलग पहचान बना ली। जया की कृष्ण भक्ति को देख उन्हें राधा नाम दिया गया। यह नाम जया को उन्हें शुरुआती शिक्षा देने वाले गोविंदराम मिश्र ने दिया था। इन्होंने ही उन्हें किशोरी नाम भी दिया।

कथा वाचक जया किशोरी सोशल मीडिया पर भी काफी पॉपुलर हैं। फेसबुक पर जया किशोरी का वेरिफाइड अकाउंट है, जिसे 16 लाख 34 हजार लोग लाइक करते हैं। यूट्यूब पर जया किशोरी के वीडियो अपलोड होते ही लाखों-करोड़ों व्यूज मिलते हैं। यूट्यूब पर आईएमजयाकिशोरी नाम के चैनल को चार लाख 24 हजार लोगों ने सब्सक्राइब कर रखा है।

जया किशोरी अपनी कथाओं से एकत्रित धन राशि से दान पुण्य के कार्य करती हैं। इनकी कथा के दौरान जो धन इकट्ठा होता है वह नारायण सेवा ट्रस्ट में दिया जाता है जो कि नारायण सेवा के अस्पताल में अपंग व्यक्तियों के काम आता है। जया किशोरी को कई पुरस्कारों से भी नवाजा जा चुका है। फेम इंडिया एशिया पोस्ट सर्वे 2019 का यूथ आइकॉन का अवॉर्ड इन्हें मिल चुका है। इंटरनेट पर जया किशोरी की शादी के बारे में भी खूब सर्च किया जाता है। जया किशोरी ने मीडिया को दिए गए एक इंटरव्यू में बताया है कि वे सामान्य युवती की तरह ही हैं। शादी भी करेंगी लेकिन उसमें समय है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Astrology: 25 जून तक शुक्र रहेंगे वक्री, इन 3 राशि वालों को पैसों के मामले में रहना होगा सतर्क
2 Vastu Tips For Money: घर में पैसे टिकें इसके लिए क्या वास्तु के उपाय हैं, जानिए
3 जून में लगने जा रहा है वलयाकार सूर्य ग्रहण, इस दिन सुनहरे कंगन जैसा दिखेगा सूर्य