ताज़ा खबर
 

जया किशोरी कथावाचन की कितनी लेती हैं फीस और कहां करती हैं इन्वेस्ट, जानिये

जया किशोरी (Jaya Kishori Ji) बहुत प्रसिद्ध कथावाचिका हैं। वह देश-विदेश में 'नानी बाई का मायरा' और 'श्री मद् भागवत' की कथा करती हैं।

jaya kishori fees, jaya kishori ji fees, jaya kishori ji ki feesकिशोरी जी अपनी कमाई का एक बहुत बड़ा हिस्सा सामाजिक कार्यों (Jaya Kishori Initiatives) में भी लगाती हैं।

Jaya Kishori Fees/ Jaya Kishori Ji Fees : जया किशोरी (Jaya Kishori Ji) प्रसिद्ध कथावाचिका हैं। वह देश-विदेश में ‘नानी बाई का मायरा’ और ‘श्री मद् भागवत’ की कथा करती हैं। उनकी कथाओं में हजारों की तादाद में लोग इकट्ठा होतेे हैं। सोशल मीडिया पर भी जया किशोरी की कथाओं को खूब पसंद किया जाता है। आए दिन उनकेे वीडियो वायरल होते रहते हैं। किशोरी मोटिवेशनल स्पीकर भी है। इंटरनेट पर जया किशोरी की फीस और उनकी कथाओं पर होने वाले खर्च को लेकर खूब सर्च किया जाता है। आइए आपको बतातेे हैं जया किशोरी से कथा (Jaya Kishori Katha) करवाने पर कितना पैसा खर्च होता है या उनकी फीस कितनी है।

‘पीटीवी हिंदुस्तान’ नाम के एक चैनल ने यूट्यूब पर एक वीडियो साझा किया है। जिसमें वे जया किशोरी के बुकिंग ऑफिस के कर्मचारी से बात करने का दावा करते हुए यह बता रहे हैं कि किशोरी जी एक कथा करने की क्या फीस (Jaya Kishori Katha Fees) लेती हैं। इससे मिली जानकारी के मुताबिक किशोरी जी एक कथा करने के लिए 9 लाख 50 हजार रुपये लेती हैं। इस फीस का आधा हिस्सा यानी 4 लाख 25 हजार रुपये कथा से पहले लिया जाते हैं। जबकि आधी फीस कथा होने के बाद ली जाती है।

आपको बता दें कि जया किशोरी कथा से कमाए हुए पैसों का बड़ा हिस्सा नारायण सेवा संस्थान (Narayan Sewa Sansthan) में दान कर देती हैं। यह संस्थान दिव्यांग लोगों की सेवा करता है। इसमें विशेष तौर पर दिव्यांगों की आर्थिक मदद की जाती है। साथ ही उनके रोजगार और खाने-पीने की भी व्यवस्था की जाती है। एक इंटरव्यू में किशोरी जी (Jaya Kishori Interview) ने कहा था कि वो कथा में व्यस्त होने की वजह से दिव्यांगों की मदद नहीं कर पाती हैं और न ही उनकी सेवा करने जा पाती हैं, इसलिए दान के जरिए ही वह अपने हिस्से की सेवा उन तक पहुंचाने की कोशिश करती हैं।

सिर्फ इतना ही नहीं किशोरी जी अपनी कमाई का एक बहुत बड़ा हिस्सा सामाजिक कार्यों (Jaya Kishori Initiatives) में भी लगाती हैं। उनकी ऑफिशियल वेबसाइट ‘आए एम जया किशोरी डॉट कॉम’ (iamjayakishori) के मुताबिक किशोरी जी ‘वृक्षारोपण’ और ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ में भी अपना योगदान देती हैं। किशोरी जी सामाजिक कार्यों में अधिक रुचि रखती हैं। इसलिए उन्हें कई सामाजिक कार्यक्रमों में भी देखा जाता है। साथ ही बतौर मोटिवेशनल स्पीकर सेमिनार भी करती हैं। जिनमें वह लोगों के प्रश्नों का जवाब भी देती हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ऐसे करें इंदिरा एकादशी व्रत, पितरों को मिलेगा मोक्ष, दूर होगा पितृदोष
2 पीठ पर तिल वाले लोग होते हैं खास, सामुद्रिक शास्त्र बताता है ये राज
3 शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार की शाम करें ये 3 उपाय, धन प्राप्ति की है मान्यता
IPL 2020
X