ताज़ा खबर
 

बच्चों को काबिल बनाने के लिए ये 4 चीजें हैं जरूरी, जानिए क्या कहती हैं जया किशोरी

कथावाचक और मोटिवेशनल स्पीकर जया किशोरी (Jaya Kishori) ने एक वीडियो के जरिए पैरेंट्स को बच्चों को काबिल बताने के टिप्स बताएं हैं। जानिए क्या कहती हैं जया किशोरी...

जया किशोरी ने बच्चों को काबिल बनाने के लिए 4 टिप्स बताएं हैं।

Jaya Kishori Motivational Speech: हर माता-पिता चाहते हैं कि उनका बच्चा लाइफ में बहुत सक्सेसफुल हो। अपने पैरों पर खड़ा हो और उसके अंदर आत्मविश्वास की कोई कमी न हो। बच्चों को सफल बनाने के लिए पैरेंट्स हर मुमकिन कोशिश करते हैं। हमारी सफलता के पीछे हमारे माता-पिता का बहुत बड़ा हाथ होता है। कथावाचक और मोटिवेशनल स्पीकर जया किशोरी ने एक वीडियो के जरिए पैरेंट्स को बच्चों को काबिल बताने के टिप्स बताएं हैं। जानिए क्या कहती हैं जया किशोरी…

आजादी: आप अपने बच्चों को लाइफ में वो जो करना चाहते हैं उसकी आजादी दें। ताकि वो नए फील्ड को चुन सकें। कई बार माता-पिता ये सोचते हैं कि नए करियर की तरफ क्यों देखना हैं जब घर का बिजनेस है उसे ही ज्वाइंन करो या फिर घर में सबने CA किया हो या इंजीनियरिंग या डॉक्टर की पढ़ाई की हो वही उनके बच्चों को भी करना चाहिए। ऐसे में हम बच्चों के माइंड को ग्रो नहीं करने देते। हम उनसे उतना ही काम करवा रहे हैं जो हमें सही लगता है। पर ये गलत है। जरूरी नहीं कि जो हम न कर सके या हमारे जान पहचान के न कर सके वो हमारा बच्चा भी न कर सके। क्या पता वो आपसे अलग है उसके सपने अलग है। इसलिए उसकी उड़ान के लिए उसे खुला आसमान दें।

चुनौतियां: अगर आप चाहतें हैं कि आपका बच्चा मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक रूप से ग्रो करे तो इसके लिए उन्हें ऐसे काम करने दें जो अभी तक उन्होंने नहीं किये हों। हर बार उसे ये कहके रोक देना ठीक नहीं कि उसे नहीं पता या उसने कभी नहीं किया। ऐसा कहकर आप उसके आत्मविश्वास को खत्म कर रहे हैं। उसे नहीं आता तो वो सीख जाएगा। उन्हें ऐसे काम करने दें जो उनके लिए चैलेंज की तरह है। यही चैलेंज उन्हें कॉंफिडेंट और स्ट्रॉंग बनाते हैं। जानिए अपनी शादी को लेकर जया किशोरी क्या सोचती हैं

सम्मान: हर बार ये कहकर बच्चे को चुप करा देना कि तुम्हे नहीं आता या तुम क्या बोलोगे, ऐसा कहना उन्हें घर से बाहर अपना पॉइंट रखने से भी रोकता है। उन्हें लगता है कि जब मेरे घर वाले मुझे सुनना नहीं चाहते तो बाहर वाले क्या सुनेंगे। इसलिए जरूरी है कि आप घर पर उनकी बातों को और उनके सुझावों को सम्मान दें। उम्र कोई भी हो इज्जत सबको मिलनी चाहिए। किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं जया किशोरी की फीस, जानिये अपनी कमाई का क्या करती हैं

अनुभव शेयर करें: माता-पिता को अपने अनुभव शेयर करने चाहिए पर सकारात्मक तरीके से। अमूमन माता-पिता अपने अनुभव इस तरह से शेयर करते हैं जिनका उनके बच्चों को कोई लाभ नहीं मिलता है। जैसे ये कहना कि हम तुम्हारी उम्र में थे तो इतना कमाने लग गया था और तुम अभी तक यहीं हो, इस तरह की बातें बच्चों को कुछ नहीं सिखाती हैं और ना ही आपके लिए उनके मन में कोई इज्जत आती है। अपने अनुभव जितने मस्ती और सम्मानित अंदाज में बताएंगे वो उनके लिए उतने ही लाभकारी होंगे।

Next Stories
1 सपने में खुद को उड़ते हुए और सबसे ताकतवर देखने का क्या होता है मतलब, जानिये
2 Jyotish Gyan: कुंडली में कैसे बनता है काल सर्प दोष, जानिए इसके लक्षण और उपाय
3 भाग्यशाली माने जाते हैं इस नक्षत्र में जन्में लोग, शनिदेव की भी रहती है कृपा; PM मोदी का भी है यही नक्षत्र
यह पढ़ा क्या?
X