ताज़ा खबर
 

आज का पंचांग, 23 फरवरी 2021: जया एकादशी पर जानें क्या रहेगी ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति, यहां पढ़ें पंचांग

Magh Ekadashi 2021, Jaya Ekadashi Vrat: मंगलवार, 23 फरवरी 2021 को शाम के 6 बजे तक एकादशी तिथि रहेगी उसके बाद द्वादशी शुरू हो जाएगी

Jaya Ekadashi, Today Panchang, जया एकादशी, पंचांग, आज का पंचांगपारण का समय बुधवार, 24 फरवरी 2021 को प्रातः 06 बजकर 51 मिनट से सुबह 09 बजकर 09 मिनट तक होगा (फोटो- जनसत्ता)

Jaya Ekadashi Vrat, Today Panchang 23 February 2021 (आज का पंचांग): जया एकादशी का व्रत माघ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को रखा जाता है। मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु पूजा व व्रत करने से पिशाच अथवा भूत-प्रेत की योनि से मुक्ति मिलती है। आज यानी 23 फरवरी को इस बार जया एकादशी है। हिंदू धर्म में पंचांग को खास अहमियत दी जाती है, इसी के अनुसार पूजा करने का समय तय होता है। शुभ मुहूर्त बताने के अलावा, पंचांग के जरिये ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति भी पता चलती है। आइए जानते हैं पंचांग के अनुसार आज कैसा रहेगा दिन –

क्या है पूजा का शुभ मुहूर्त: एकादशी तिथि दिन सोमवार, 22 फरवरी 2021 को शाम 05 बजकर 16 मिनट से लेकर मंगलवार, 23 फरवरी 2021 शाम 06 बजकर 05 मिनट तक रहेगी। जबकि पारण का समय बुधवार, 24 फरवरी 2021 को प्रातः 06 बजकर 51 मिनट से सुबह 09 बजकर 09 मिनट तक होगा। इसका मतलब है कि इन 02 घंटे 17 मिनट के बीच जिन भक्तों ने जया एकादशी का व्रत रखा है, वो पारण कर सकते हैं।

तिथि व नक्षत्र कौन से हैं: मंगलवार, 23 फरवरी 2021 को शाम के 6 बजे तक एकादशी तिथि रहेगी उसके बाद द्वादशी शुरू हो जाएगी। दोपहर साढ़े 12 तक आर्द्रा नक्षत्र रहेगा, उसके उपरांत पुनर्वसु आरंभ होगा। इस दिन सूर्योदय 6 बजकर 52 मिनट जबकि सूर्यास्त का समय 6 बजकर 17 मिनट है। वहीं, चंद्रमा की राशि मिथुन होगी और सूर्य कुंभ राशि में होगा। कल, 24 फरवरी को सुबह 4 बजकर 35 मिनट तक आयुष्मान योग रहेगा।

कब रहेगा अभिजित मुहूर्त: इस दिन 23 फरवरी सुबह 5 बजकर 11 मिनट से ब्रह्म मुहूर्त की शुरुआत होगी जो अगलेी सुबह 6 बजकर 1 मिनट तक रहेगा। जया एकादशी पर अभिजित मुहूर्त का समय दोपहर 12 बजकर 12 मिनट से लेकर 12 बजकर 57 मिनट तक है। वहीं, शाम 6 बजकर 6 मिनट से लेकर साढ़े 6 तक गोधूलि मुहूर्त रहेगा। इसके अलावा, विजय मुहूर्त दोपहर ढाई बजे से सवा 3 तक होगा। जबकि, शाम 6 बजकर 5 मिनट से 6 बजकर 51 मिनट तक त्रिपुष्कर योग रहेगा। साथ ही, सुबह 6:52 से दोपहर 12:31 तक रवि योग भी रहने वाला है।

जानें राहुकाल का समय: जया एकादशी के दिन दोपहर 3 बजकर 26 मिनट से 4 बजकर 51 मिनट तक राहुकाल रहेगा। इस दौरान किसी भी शुभ कार्य को करने से बचें। वहीं, दोपहर साढ़े 12 से 2 बजे तक गुलिक काल रहेगा, इसे भी अशुभ समय माना जाता है। सुबह 06:52 से शाम के 06:05 तक भद्रा का समय है। इसके अलावा, सुबह सवा 9 बजकर 9 मिनट से 9 बजकर 55 मिनट तक और 11:19 से रात 12:09 तक दुर्मुहूर्त का समय रहेगा।

Next Stories
1 Horoscope Today 23 February 2021: कन्‍या राशि के जातक निवेश करने से बचें, मेष राशि वालों जल्दबाज़ी में कोई फ़ैसला न करें
2 Jaya Ekadashi: कल है जया एकादशी, जानिये शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और मान्यताएं
3 मंगल ग्रह का वृषभ में हुआ गोचर, राशि अनुसार जानिये आप पर पड़ेगा इसका कैसा असर
ये पढ़ा क्या?
X