ताज़ा खबर
 

किस मुद्रा में विराजमान हनुमान देते हैं कौन से आशीर्वाद, जानिए

मान्यताओं के अनुसार उत्तर दिशा वाली वाली हनुमान की मूर्ति या फोटो की पूजा करने से सभी देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है और सुख-समृद्धि और सौभाग्य मिलता है।

Author नई दिल्ली | May 17, 2019 4:42 PM
हनुमान जी।

हनुमान जी बहुत ही लोकप्रिय देवताओं में से एक माने जाते हैं। कहते हैं कि इनके भक्त संसार में हर जगह पर स्थित हैं। वहीं हनुमान जी बहुत ही जल्द प्रसन्न हो जाने वाले देव भी माने गए हैं। कहा जाता है कि कलियुग में हनुमान जी की साधना सरल और सुगम मानी जाती है। साथ ही फलदायक भी होती है। अलग-अलग मुद्राओं वाली हनुमान जी की मूर्ति या फोटो विशेष प्रकार का आशीर्वाद प्रदान करने वाली भी मानी गई है। परंतु क्या आप जानते हैं कि का अलग-अलग आशीर्वाद किस मुद्रा में विराजमान हनुमान भक्तों को कौन से आशीर्वाद प्रदान करते हैं? यदि नहीं तो आगे इसे जानिए।

मान्यताओं के अनुसार उत्तर दिशा वाली वाली हनुमान की मूर्ति या फोटो की पूजा करने से सभी देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है और सुख-समृद्धि और सौभाग्य मिलता है। हनुमान जी का दक्षिण दिशा में बैठी हुई मुद्रा में फोटो लगाना अति शुभ होता है। इसके अलावा घर में कभी भी हनुमान जी की लंका दहन वाली तस्वीर न लगाएं। वहीं घर में उड़ते हुए हनुमान जी की फोटो लगाकर पूजा करने पर बजरंग बली से जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता और उन्नति का आशीर्वाद मिलता है। इसके अलावा जिस घर में श्री हनुमान जी द्वारा प्रभु श्री राम का सुमिरन-भजन करते हुए फोटो की पूजा होती है, उस घर के लोगों में हमेशा भक्ति और विश्वास का संचार होता रहता है।

साथ ही साथ जिस घर में पर्वत उठाए हुए हनुमान जी की पूजा होती है, उस घर के हनुमत भक्त पर बजरंग बली की कृपा से साहस, बल, विश्वास और जिम्मेदारी का विकास होता है। बता दें कि जिस घर में पंचमुखी हनुमान जी की मूर्ति या फोटो की पूजा होती है, उस घर में सुख-समृद्धि का वास होता है और उस घर के लोगों के उन्नति मार्ग में आनी वाली सभी बाधाएं स्वत: दूर हो जाती हैं। पंचमुखी हनुमान जी की पूजा करने से शत्रु बाधा, बीमारी व मन मुटाव दूर होता है। जिस घर में सूर्यमुखी हनुमान जी की फोटो होती है, उस घर के हनुमत साधक को ज्ञान और उन्नति का आशीर्वाद मिलता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App