साल 2022 में इन 4 राशि वालों को शनि नहीं करेंगे परेशान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिल

Shani In 2022: ज्योतिष अनुसार शनि 2022 में 8 राशियों को प्रभावित करेंगे। वहीं 4 राशियों के लोग इसके प्रभाव से मुक्त रहेंगे।

shani, shani dev, shani sade sati, shani 2022, shani rashi parivartan, shani transit 2022,
कुंभ राशि में शनि के प्रवेश करते ही कुछ राशि वालों पर शनि की दशा शुरू हो जाएगी तो कुछ को इससे मुक्ति मिल जाएगी।

Shani 2022: शनि को अपनी राशि बदलने में ढाई साल का समय लगता है। वर्तमान में ये मकर राशि में विराजमान हैं। 2021 में इनका राशि परिवर्तन नहीं है। अब साल 2022 में शनि अपनी राशि बदलेंगे। इस दौरान ये कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। कुंभ राशि में शनि के प्रवेश करते ही कुछ राशि वालों पर शनि की दशा शुरू हो जाएगी तो कुछ को इससे मुक्ति मिल जाएगी। ज्योतिष अनुसार शनि 2022 में 8 राशियों को प्रभावित करेंगे। वहीं 4 राशियों के लोग इसके प्रभाव से मुक्त रहेंगे।

शनि का राशि परिवर्तन 29 अप्रैल 2022 में होगा। इस दौरान धनु राशि के जातकों को शनि साढ़े साती से मुक्ति मिल जाएगी। वहीं मिथुन और तुला वालों को शनि की ढैय्या से। जब्कि मीन राशि के जातकों पर शनि साढ़े साती का पहला चरण शुरू हो जाएगा। कर्क और वृश्चिक वालों पर शनि ढैय्या शुरू होगी। मकर वालों पर शनि साढ़े साती का आखिरी चरण तो कुंभ वालों पर दूसरा चरण शुरू होगा। इसी साल 12 जुलाई से शनि वक्री अवस्था में मकर राशि में गोचर करने लगेंगे। शनि के मकर में आते ही वो लोग फिर से शनि के प्रभाव में आ जायेंगे जिन्हें शनि साढ़े साती या फिर शनि ढैय्या से मुक्ति मिल गई थी।

शनि मकर राशि में 12 जुलाई 2022 से लेकर 17 जनवरी 2023 तक रहेंगे। इस दौरान मीन राशि वालों को कुछ समय के लिए शनि साढ़े साती से मुक्ति मिल जाएगी। वहीं कर्क और वृश्चिक वालों को शनि ढैय्या से। इस अवधि में शनि की नजर धनु, मकर, कुंभ, मिथुन और तुला राशि वालों पर रहेगी। इस तरह से देखा जाए तो शनि 2022 में मिथुन, तुला, कर्क, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि के लोगों को प्रभावित करेंगे। जब्कि मेष, वृषभ, सिंह और कन्या राशि वालों पर शनि की नजर नहीं पड़ेगी। (यह भी पढ़ें- ज्योतिष: इन राशि की लड़कियां अपने पति से करती हैं बेहद प्यार, इनका वैवाहिक जीवन रहता है खुशहाल)

शनि साल 2022 में 5 जून दिन रविवार से वक्री चाल शुरू करेंगे और 23 अक्टूबर 2022 में मार्गी होंगे। शनि के वक्री चाल की अवधि 141 दिन की होगी।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
रावण ने अपने आखिरी पलों में लक्ष्मण को दिया था यह ज्ञान, आपकी सक्सेस के लिए भी जरूरी हैं ये बातेंravan, ram, laxman, ramayan, valuable things, srilanka, धर्म ग्रंथ रामायण, राम, रावण, लंकापति रावण, वध श्रीराम, शिवजी की पूजा, लक्ष्मण
अपडेट