ताज़ा खबर
 

Holi 2020: सुख-समृद्धि, नौकरी या व्यापार में तरक्की के लिए होली पर इन उपायों को कर सकते हैं

Holi 2020: यदि व्यापार या नौकरी में उन्नति न हो रही हो तो 21 गोमती चक्र लेकर होली दहन के दिन रात्रि में शिवलिंग पर चढा दें।

holi 2020, holi images, holi upay, mahaguru gaurav mittal, holi per kya karen, holi festival, होली पर्व, success upay, job, business,धनहानि से बचाव के लिए होली के दिन घर के मुख्य द्वार पर गुलाल छिड़कें और उस पर द्विमुखी दीपक जलाएँ।

Falgun Purnima (Holi) Upay: फाल्गुन पूर्णिमा के दिन होली का पर्व मनाया जाता है। आज होलिका दहन किया जायेगा। उपाय की दृष्टि से होली का पर्व अत्यधिक व प्रभावी फल देने वाला होता है। होली पर किए गए उपाय शीघ्र फल देते हैं। व्यापार, नौकरी, सुख, समृद्धि, धन संबंधी किसी भी तरह की समस्या के समाधान के लिए होली पर इस तरह के उपाय आप कर सकते हैं…

कुछ उपायों का विवरण इस प्रकार है :-

(1) होली के दिन से शुरु करके बजरंग बाण का 41 दिन तक नियमित पाठ करनें से हनुमानजी की कृपा से हर मनोकामना पूर्ण होने का मार्ग प्रशस्त होता है।

(2) यदि व्यापार या नौकरी में उन्नति न हो रही हो तो 21 गोमती चक्र लेकर होली दहन के दिन रात्रि में शिवलिंग पर चढा दें।

(3) होली वाले दिन किसी गरीब को भोजन अवश्य करायें। इससे आपकी मनोकामना पूर्ण होने में लाभ प्राप्त होगा।

(4) होली की रात्रि को सरसों के तेल का चौमुखी दीपक जलाकर पूजा करें व भगवान से सुख – समृद्धि की प्रार्थना करें। इस प्रयोग से हर प्रकार की बाधा निवारण होती है।

(5) यदि बुरा समय चल रहा हो तो होली के दिन पेंडुलम वाली नई घडी घर में पूर्वी या उत्तरी दीवार पर लगाएँ , अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे।

(6) यदि राहु को लेकर कोई परेसानी है तो एक नारियल का गोला लेकर उसमें अलसी का तेल भरें तथा उसी में थोडा सा गुड डालें, फिर उस गोले को अपने शरीर के अंगों से स्पर्श कराकर जलती हुई होलिका में डाल दें। इस उपाय से आगामी पूरे वर्ष भर राहू परेशान नहीं करेगा।

(7) अपने घर को सुरक्षित करने के लिये होली वाले दिन एक वास्तु यंत्र को पीले रंग के वस्त्र पर स्थापित कर धूप, दीप, नैवेद्य अर्पित कर पूजन करें और निम्न मंत्र को 108 बार जप कर नींव में ही दबा दें। ऐसा करने से हर प्रकार से आपका घर सुरक्षित रहेगा।

मंत्र- “ ॐ नमो वैश्वानर वास्तु रुपाय, भूपति त्वं मे देहि दापय स्वाहा। “

(8) आत्मरक्षा हेतु घर के प्रत्येक सदस्य को होलिका दहन में घी में भिगोई हुई दो लौंग, एक बताशा और एक पान का पत्ता अवश्य चढ़ाना चाहिए। होली की ग्यारह परिक्रमा करते हुए होली में सूखे नारियल की आहुति देनी चाहिए। इससे सुख-सम्रद्धि बढ़ती है तथा आत्मरक्षा होती है।

(9) मुकदमा जीतने के लिये होली की आग लाकर उसके कोयले से स्याही बनाकर लोहे की सलाई से मुकदमा नम्बर और शत्रु पक्ष का नाम सात कागजों पर लिखकर पुन: होली की अग्नि के पास जायें और सात परिक्रमा करें, हर परिक्रमा पर एक कागज़ होली की आग में डाल दें। ग़लत मुक़द्दमा डालने वाले इस प्रयोग को ना करें।

(10) धन की कमी से बचने के लिये होली की रात चंद्रमा के उदय होने पर अपने घर की छत पर या खुली जगह पर , जहाँ से चाँद नजर आए, वहाँ खड़े हो जाएँ, फिर चंद्रमा का ध्यान-स्मरण-दर्शन करते हुए चाँदी की प्लेट में सूखे छुहारे तथा कुछ मखाने रखकर शुद्ध घी के दीपक के साथ धूप एवं अगरबत्ती अर्पित करें तथा कच्चे दूध से चंद्रमा को अर्घ्य दें। अर्घ्य के बाद सफेद मिठाई तथा केसर मिश्रित साबूदाने की खीर अर्पित करें। चंद्रमा से समृद्धि प्रदान करने का निवेदन करें। बाद में प्रसाद और मखानों को बच्चों में बाँट दें। फिर लगातार आने वाली प्रत्येक पूर्णिमा की रात चंद्रमा को दूध का अर्घ्य दें। कुछ ही दिनों में आप महसूस करेंगे कि आर्थिक संकट दूर होकर समृद्धि निरंतर बढ़ रही है।

(11) यदि आपको कोई अज्ञात भय रहता हो तो होली के दिन एक सूखा जटा वाला नारियल, काले तिल एवं पीली सरसों एक साथ लेकर उसे सात बार अपने सर के ऊपर से उतार कर जलती होलिका में डाल देने से अज्ञात भय समाप्त हो जाऐगा ।

(12) स्वास्थ्य लाभ हेतु होली वाले दिन जौ के आटे में काले तिल एवं सरसों का तेल मिलाकर मोटी रोटी बनाएँ और उसे रोगी के ऊपर से सात बार उतारकर भैंसे को खिला दें। यह क्रिया करते समय ईश्वर से रोगी को शीघ्र स्वस्थ्य करने की प्रार्थना करते रहें। आप शीघ्र ही स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करेंगे।

(13) धनहानि से बचाव के लिए होली के दिन घर के मुख्य द्वार पर गुलाल छिड़कें और उस पर द्विमुखी दीपक जलाएँ। दीपक जलाते समय धनहानि से बचाव की कामना करें। जब दीपक बुझ जाए तो उसे होली की अग्नि में डाल दें। यह क्रिया श्रद्धापूर्वक करें, धन हानि से बचाव होगा।

(14) सौभाग्यशाली पत्नी पाने के लिए होली वाले दिन किसी जरुरतमंद को एक पलंग तथा बिछाने योग्य सुन्दर वस्त्र दान में दें। इससे आपको सुभार्या की प्राप्ति होगी। यदि संभव हो तो यह दान शुक्र की होरा में दें।

(15) अगर आपको लगता है कि किसी ने आपके विरुद्ध कोई टोटका कर रखा है तो होली की रात में जहाँ होलिका दहन हो, उस जगह पर एक गड्ढा खोदकर उसमें “ क्लीं कृष्णाय नम: “ 108 मन्त्र से 11 अभिमंत्रित कौड़ियाँ दबा दें। अगले दिन कौड़ियों को निकालकर अपने घर की मिट्टी के साथ नीले कपड़े में बाँधकर बहते जल में प्रवाहित कर दें। जो भी तंत्र क्रिया आप पर किसी ने की होगी वह नष्ट हो जाएगी।

(16) अगर आपके घर में लगातार अशुभ घटनाएँ घट रही हैं तो होली के दहन वाली रात में घर में किसी पवित्र स्थान पर गोबर से लीपें और उस पर अष्टकमलदल बनाएँ । फिर उस पर एक लकड़ी का पटला रखकर लाल कपड़ा बिछाकर उस पर 3 नारियल तथा श्री हनुमान यंत्र को विराजित करें। एक बर्तन में थोड़ा-सा गाय का कच्चा दूध भी रखें। फिर नारियल व यंत्र पर रोली से तिलक करके श्री हनुमानजी से अपने कष्ट का विवरण कहें। गुड़ का भोग लगाएँ । शुद्ध घी के दीपक के साथ गुग्गल की धूप अर्पित करें। ताँबे की प्लेट पर रोली से “ ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ” नामक मंत्र लिखकर एक अन्य नारियल को फोड़कर उसके पानी को चारों तरफ छिड़क दें। गाय के दूध को अपने घर के चारों ओर घुमते हुए धारा के रुप में बिखराकर कवच जैसा बना दें। तीनों नारियल जलती होली को अर्पण कर दें। फोड़े हुए नारियल का प्रसाद बाहर ही बाँट दें।

(17) यदि आपका कहीं पैसा फँसा है और वह देने में आना कानी करता हे तो होली के दिन 11 गोमती चक्र हाथ में लेकर जलती हुई होलिका की ग्यारह बार परिक्रमा करते हुए धन प्राप्ति की प्रार्थना करें। फिर एक सफ़ेद कागज पर उस व्यक्ति का नाम लाल चन्दन से लिखें जिससे पैसा लेना है। लाल चन्दन से नाम लिखकर उस सफ़ेद कागज को ग्यारह गोमती चक्र के साथ में कहीं गड्डा खोदकर सारी सामग्री गड्डे मे दबा दें। इस प्रयोग से धन प्राप्ति की संभावना बढ़ जाएगी।

(18) शीघ्र विवाह हेतु होली के दिन किसी शिव मंदिर जाएँ और अपने साथ 1 देशी साबुत पान, 1 सुपारी एवं 1 हल्दी की गाँठ रख लें। पान के पत्ते पर सुपारी और हल्दी की गाँठ रखकर शिवलिंग पर अर्पित करें। इसके बाद पीछे देखे बिना अपने घर लौट आएँ। यही प्रयोग अगले दिन भी करें। इसके साथ ही समय-समय पर शुभ मुहूर्त में यह उपाय करते रहें। जल्दी ही विवाह के योग बन जाएँगे।

Next Stories
1 Holi 2020 Puja & Vrat Vidhi, Katha: होलिका दहन की पूजा विधि, मुहूर्त और व्रत कथा यहां देखें
2 Holika Dahan 2020 Puja Vidhi, Muhurat, Timings: देशभर में किया गया होलिका दहन, रंग-गुलाल की आज खेली जाएगी होली
3 Chaitanya Mahaprabhu jayanti 2020: चैतन्य महाप्रभु जयंती के अवसर पर जानिए उनके द्वारा दी गई शिक्षाएं
ये पढ़ा क्या?
X