ताज़ा खबर
 

Happy Baisakhi 2018 Wishes Images: बैसाखी पर इन Photos और Wallpaper से रिश्तेदारों को भेजिए खास बधाई संदेश

Happy Baisakhi 2018 Wishes Images, GIF Pics, Pictures, Wallpaper, Photos, Greeting, SMS, Messages: आज (14 अप्रैल) को देशभर हर्ष और उल्लास के साथ बैसाखी का त्योहार मनाया जा रहा है। इस दिन उत्तर भारत के किसान अपनी मेहनत का जश्न मनाते हैं। साल की पहली फसल काटे जाने पर किसानों में खुशी का माहौल बना रहता है।

Happy Baisakhi 2018 Wishes Images, GIF Pics, Pictures: इस इसी दिन साल 1699 को सिखों के दसवें गुरु श्री गुरु गोविन्द सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी।

Happy Baisakhi 2018 Images, Pictures, Wallpaper, Pics, Photos and Greeting: बैसाखी का त्योहार हर साल 13 या 14 अप्रैल को मनाया जाता है। इस बार यह त्योहार 14 अप्रैल को है। इस दिन उत्तर भारत के किसान अपनी मेहनत का जश्न मनाते हैं। साल की पहली फसल काटे जाने पर किसानों में खुशी का माहौल बना रहता है। दूसरी ओर यह त्योहार सिख समुदाय के लिए भी काफी महत्व रखता है, क्योंकि इस इसी दिन साल 1699 को सिखों के दसवें गुरु श्री गुरु गोविन्द सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी। स्थापना का मुख्य लक्ष्य नेकी और धर्म के लिए सदैव तत्पर रहना रहा है। इसलिए भारत में इस त्यौहार को काफी खुशी के साथ मनाया जाता है।

वहीं यह दिन गुरू तेग बहादुर के त्याग और बलिदान के लिए भी याद किया जाता है। कहा जाता है कि गुरू तेग बहादुर ने जब अपना धर्म बदलने से इनकार कर दिया तो मुगल बादशाह औरंगजेब के आदेश के बाद उनका सिर धड़ से अलग कर दिया था और इस तरह उन्होंने धर्म की रक्षा के लिए अपनों प्राणों का बलिदान दे दिया था। इसके बाद गुरू तेग बहादुर के बेटे गुरू गोविंद सिंह ने सिखों की एक फौज तैयार की। धर्म की रक्षा के लिए गुरू गोविंद सिंह ने पांच खालसा को चुना जिन्हें पंज प्यारे भी कहा गया। लोग इस दिन को याद करने और अपने करीबियों को शुभकामनाएं देने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहे हैं। आप भी अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बधाई संदेश देने के लिए इन इमेजेज, वॉलपेपर और मैसेज का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बैसाखी का खुशहाल मौका है,
ठंडी हवा का झौंका है,
पर तेरे बिन अधूरा है सब,
लौट आओ हमने खुशियों को रोका है,
बैसाखी की शुभकामनाएं।

खुशबू तेरी यारी दी साणूं महका जांदी है
तेरी हर इक किती होयी गल साणूं बहका जांदी है
साह तां बहुत देर लगांदे ने आण जाण विच
हर साह तो पहले तेरी याद आ जांदी है
हैप्पी बैसाखी

खालसा मेरो रूप है खास,
खालसे में करूं निवास,
खालसा मेरा मुख हैं अंगा,
खालसे के साजना दिवस की आप सब को बधाई।

तुसी हसदे हो सानू हसान वास्ते,
तुसी रोने ओ सानू रूआन वास्ते,
इक वारी रुस के ता वेखो सोनेओ,
मर जावांगे तुआनू मनान वास्ते,
बैसाखी दा दिन है खुशियां मनान वास्ते,
बैसाखी दीयां वधाईयां।

सुनहरी धूप बरसात के बाद
थोड़ी सी खुशी हर बात के बाद
उसी तरह हो मुबारक आप को
ये नई सुबह कल रात के बाद
हैप्पी बैसाखी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App