scorecardresearch

Guruwar Ke Upay: गुरुवार के दिन कुंडली में ऐसे करें गुरु की स्थिति को मजबूत, धन लाभ से लेकर नौकरी में तरक्की मिलने की है मान्यता

Thursday Tips: गुरुवार के दिन यह उपाय करने से आपके जीवन में आ रहीं धन, संपत्ति, विवाह और भाग्य से जुड़ी बाधाएं दूर हो सकती हैं। आइये विस्तार से जानते हैं-

religion news, kundali
वैशाख मास भगवान विष्णु को अत्यन्त प्रिय है।

Thursday Tips: ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक हर दिन किसी-न-किसी भगवान को समर्पित है। इसके अनुसार गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित है। भगवान विष्णु गुरु ग्रह का प्रतिनिधित्व करते हैं। गुरु ग्रह से जुड़ाव के कारण गुरुवार को बेहद खास माना जाता है। हिंदू धर्म के लोग इस दिन व्रत रखते हैं और भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करते हैं। मान्यता है कि बृहस्पतिदेव बुद्धि दाता हैं।

शास्त्रों के अनुसार अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में गुरु ग्रह की स्थिति कमजोर हो जाए तो व्यक्ति को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ज्योतिष अनुसार इस दिन कुछ विशेष उपायों को करने से जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो जाती हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ उपाय बताएंगे, जिनके जरिए कुंडली में गुरु की स्थित मजबूत हो सकती है। साथ ही गुरुवार के इन टोटकों की मदद से घर में सुख-समृद्धि आने की भी मान्यता है। जानें विस्तार से –

बेहद शुभ दिन माना जाता है: यह दिन देव गुरु बृहस्पति और भगवान विष्णु को समर्पित है। इसलिए हिंदू धर्म में गुरुवार का दिन बहुत ही शुभ दिन माना जाता है। कहते हैं कि धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से लोगों के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक विवाह, शिक्षा, धन-दौलत, व्यापार और नौकरी के साथ किसी भी क्षेत्र में शुभ फल पाने के लिए इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करनी चाहिए। जब भगवान विष्णु प्रसन्न मां लक्ष्मी स्वयं ही अपनी कृपा बरसाती हैं।

पीला रंग शुभता का प्रतीक: ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक जिन जातकों की कुंडली में गुरु दोष है। उसे कम करने के लिए जातक को गुरुवार के दिन का व्रत रखना चाहिए। साथ ही पीले वस्त्र पहनें और बिना नमक का भोजन करें। भोजन में आप पीले रंग की चीजें जैसे बेसन, लड्डू या फिर आम को शामिल कर सकते हैं।

इस मंत्र का जप करें: प्रत्येक गुरुवार को ‘ओम ग्रां ग्रीं ग्रों सः गुरुवे नमः’ या ‘ओम नमो भगवते वासुदेवाय नमः’ या ‘ओम बृहस्पते नमः’ का कम से कम एक माला जाप जरूर करें। इसके अलावा रोजाना सुबह सबसे पहले कोई पीली चीज खाएं। जिसमें हल्दी वाला दूध, पीली खिचड़ी, लड्डू आदि हो सकते हैं। बृहस्पतिवार के दिन पीले भोजन का दान करने से भी बृहस्पति देव प्रसन्न होते हैं।

पूजा में पीला रंग शामिल करें: कुंडली में गुरु के प्रभाव से बचने के लिए पूजा करते समय केसरिया चंदन, पीले चावल, पीले फूल और भोग में पीले पकवान अर्पित करें। साथ ही भगवान विष्णु की प्रतिमा पर पीले वस्त्र चढ़ाएं एवं सच्चे मन से प्रभु से प्रार्थना करें।

नहाने के पानी में हल्दी डालें: ज्योतिष के जानकारों के मुताबिक जिसकी कुंडली में गुरु दोष लगा हो उन्हें गुरुवार के दिन नहाते समय पानी में हल्दी डालने से गुरु दोष का प्रभाव कम होता है, इसके साथ ही आर्थिक संकट का खतरा भी कम होता है। साथ ही, कोशिश करें कि नहाने के दौरान ‘ऊं नमो भगवते वासुदेवाय’ मंत्र का जाप अवश्य करें।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट