scorecardresearch

मीन राशि में ‘गुरु वक्री’, इन राशियों को कर सकते हैं परेशान; बृहस्पति को मजबूत करने के लिए करें ये ज्योतिषीय उपाय

Guru Vakri 2022: मीन राशि में देव गुरु बृहस्पति वक्री हैं। गुरु वक्री होकर कुछ राशियों को परेशान कर सकते हैं, जानिए गुरु मजबूत करने के उपाय-

मीन राशि में ‘गुरु वक्री’, इन राशियों को कर सकते हैं परेशान; बृहस्पति को मजबूत करने के लिए करें ये ज्योतिषीय उपाय
गुरु गोचर 2022- (जनसत्ता)

गुरु वक्री 2022: ज्योतिष में बृहस्पति ग्रह को एक महत्वपूर्ण ग्रह माना जाता है। यह ग्रह ज्ञान, आय, प्रशासन आदि से संबंधित है। बृहस्पति अशुभ होने पर धन की हानि और पेट से संबंधित रोग देता है। वर्तमान में गुरु वक्री है और मीन राशि में गोचर कर रहा है। पंचांग के अनुसार बृहस्पति 29 जुलाई 2022 से मीन राशि में वक्री अवस्था में गोचर कर रहा है। जहां यह 4 महीने यानी 24 नवंबर 2022 तक वक्री रहेगा। बृहस्पति का वक्री होना धन और स्वास्थ्य की दृष्टि से इन राशियों के लिए अच्छा नहीं माना जाता है।

मेष राशि : जब तक गुरु वक्री है तब तक आपको स्वास्थ्य के मामले में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। अगर पेट में पथरी है तो इसे गंभीरता से लें। इस दौरान पेट संबंधी परेशानी बढ़ सकती है। इसके साथ ही दांपत्य जीवन में भी कुछ परेशानियां आ सकती हैं। गुरुवार के दिन पीले रंग की वस्तुओं का दान करें और ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स गुरवे नमः मंत्र का जाप करें।

कर्क राशि : बृहस्पति वक्री होकर आपके काम में देरी कर सकता है। जिससे तनाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। इस स्थिति से बचने के लिए गुरुवार के दिन पीले रंग की चीजों का दान करें। महत्वपूर्ण कार्य करने से पहले वरिष्ठ लोगों की सलाह लें।

तुला राशि : तुला राशि के लोगों को व्यापार में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है, यदि आप साझेदारी में व्यापार कर रहे हैं तो विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। जल्दबाजी में बड़े फैसले लेने से बचें। भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए अपने स्वयं के ज्ञान को अद्यतन करना बेहतर होगा। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करें। आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों की मदद करें।

मीन राशि : गुरु मीन राशि में वक्री है। आपकी राशि का स्वामी भी बृहस्पति है। इस दौरान आपको मिले-जुले परिणाम मिलेंगे। आलस्य का त्याग करें अन्यथा आप अच्छे अवसरों से चूक सकते हैं। आमदनी बढ़ाने के लिए आपको अधिक संघर्ष करना पड़ेगा। गुरुवार का व्रत रखें, लाभ होगा। जीवनसाथी से विवाद न करें।

बृहस्पति ग्रह को मजबूत करने के ज्योतिषीय उपाय

  • जिन लोगों का गुरु ग्रह कमजोर है, उन्हें गुरुवार का व्रत करना चाहिए। उस दिन पीले रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए। यह व्रत आप 3, 9 या 16 साल तक कर सकते हैं।
  • गुरु को मजबूत करने के लिए आप ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स गुरवे नमः मंत्र का 3, 5 या 16 माला जाप कर सकते हैं।
  • जिनके गुरु कमजोर हैं, उन्हें अपने भोजन में बेसन, चीनी और घी से बने लड्डू खाने चाहिए।
  • जिनका गुरु ग्रह कमजोर है उन्हें पुखराज धारण करना चाहिए। इसके लिए आपको किसी योग्य ज्योतिषी की सलाह लेनी चाहिए।
  • आपको अपने माता-पिता, गुरु और बड़ों का सम्मान करना चाहिए। इससे बृहस्पति ग्रह भी मजबूत होता है।
    स्वच्छता रखने से, पीपल और ब्रह्मा जी की पूजा करने से, गुरु की सेवा करने से गुरु ग्रह अच्छा रहता है।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट