ताज़ा खबर
 

गणेश विसर्जन पूजा विधि: भगवान गणेश को दें विधि-विधान के साथ विदाई, नहीं आएंगी जीवन में अड़चने

Ganesh Visarjan 2017 Puja Vidhi: आज भगवान गणेश को विदाई देने का दिन है, इस दिन कुछ विधि विधान अपनाकर ही उन्हें करें विदा।

Ganesh Visarjan 2017 Puja: आज है भगवान गणेश को विदाई देने का दिन

पूरे भारत में 10 दिन गणेश चतुर्थी का उत्सव मनाने के बाद आज भगवान गणेश को विदाई देने का दिन है। जिस दिन भगवान गणेश का विसर्जन होता है तो उसे अनंत चतुर्दर्शी के नाम से जाना जाता है। सभी घरों और पंडालों में स्थापित भगवान गणेश को आज 5 सितंबर यानि अनंत चतुर्दर्शी को विदाई देंगे। भगवान गणेश को जिस तरह से घर में विधि-विधान के साथ लाया जाता है उसी तरह उन्हें विदाई देने के लिए कुछ नियम और रीति-रिवाज होते हैं। उद्वासना मंत्र बोलने के बाद ही भगवान गणेश के विसर्जन की प्रक्रिया को शुरू किया जाता है। विधि-विधान और मंत्रो के उच्चारण के बाद ही भगवान गणेश को घरों और पंडालों से विदाई दी जाती है। जिससे उनके जाने के बाद भी घर में सुख-समृधि और त्योहार का ही माहौल रहे। आज गणेश विसर्जन का शुभ मुहूर्त भी है जब आप विसर्जन के लिए भगवान गणेश को ले जा सकते हैं।

भगवान गणेश की विदाई से पहले अपनाएं ये कुछ विधि-विधान-

बप्पा का विसर्जन करने से पहले भगवान गणेश की आरती की जाती है। तिलक लगाकर, फल और मोदक चढ़ाकर मंत्रो का उच्चारण करते हैं। इसके बाद भगवान को चढ़ाया गए फल और मिठाई को लोगों को बांटा जाता है। पूजा स्थान से गणपति की प्रतिमा को उठाएं। साथ में फल, फूल, वस्त्र और मोदक रखें। इस पूजा में दीपक, धूप, पुष्प, चावल और सुपारी को एक लाल कपड़े में बांध कर रख लें। जिसे विसर्जन के दौरान प्रयोग करें। आज अनंत चतुर्दर्शी का व्रत रख कर भगवान गणेश का विशेष वरदान प्राप्त होता है। भगवान गणेश को विसर्जन के लिए ले जाने से पहले उद्वासना मंत्र का उचारण जरूर करें। ये भगवान गणेश के विसर्जन में बहुत आवश्यक होता है। मंत्र है- ‘यज्ञने यज्ञना मयाजनठ: थानी धर्मानी प्रधामा न्यासं, थेहा नाकम् माहिमान ससंचाम्ठे यात्रा पूर्वे साध्यासाम्ठी देवा..’

विसर्जन का शुभ मुहूर्त-
सुबह- 9.32 से दोपहर के 2.09 तक
दोपहर- 3.42 से 5.14 तक
शाम – 8.14 से रात 9.42
रात्रि- 11.09 से प्रातः 3.32 तक

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App