ताज़ा खबर
 

शिव की कृपा पाने के लिए रखा जाता है प्रदोष व्रत, जानिए भौम प्रदोष व्रत के क्या बताए गए हैं लाभ

प्रदोष व्रत को व्रतों में अत्यधिक शुभ और महत्वपूर्ण माना गया है। मान्यता यह भी है इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से सभी पापों का नाश होता है।

भगवान शिव।

शास्त्रों में शिव की कृपा पाने के लिए प्रदोष व्रत का खास महत्व बताया गया है। प्रदोष व्रत जब मंगलवार के दिन पड़ता है तो उसे भौम प्रदोष व्रत कहा जाता है। इस महीने यह व्रत 2 अप्रैल (मंगलवार) को रखा जाएगा। शिव पुराण के अनुसार प्रदोष व्रत में भगवान शिव और पार्वती की पूजा का विधान बताया गया है। प्रदोष व्रत को हर महीने की त्रयोदशी तिथि को रखा जाता है। हिन्दू पंचांग के मुताबिक प्रत्येक मास में दो प्रदोष व्रत पड़ते हैं। एक शुक्ल की त्रयोदशी को और दूसरा कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन पड़ता है।

प्रदोष व्रत को व्रतों में अत्यधिक शुभ और महत्वपूर्ण माना गया है। मान्यता यह भी है इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से सभी पापों का नाश होता है। साथ ही भगवान शिव की कृपा से मृत्यु के बाद मोक्ष मिलता है। इसके अलावा भौम प्रदोष व्रत रखने और गाय दान करने से भी लाभ प्राप्त होता है। इतना ही नहीं भौम प्रदोष व्रत को करने से मनुष्य में सुविचार और सकारात्मकता आती है। आगे जानते हैं कि भौम प्रदोष व्रत के क्या लाभ बताए गए हैं।

– सोमवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष व्रत को भौम प्रदोष व्रत कहा जाता है। इस दिन व्रत रखने से स्वास्थ्य अच्छा रहता है। साथ ही मनुष्य की हर मनोकामना पूरी होती है। इसके अलावा व्रती को मानसिक परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है।

-अगर मंगलवार को प्रदोष व्रत पड़े तो इस दिन व्रत रखने से रोगों से छुटकारा मिलता है। साथ ही स्वास्थ्य लाभ मिलता है।

-बुधवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष व्रत को करने से मनुष्य की सभी कामनाओं की पूर्ति होती है।

-प्रदोष व्रत अगर गुरुवार के दिन पड़े तो इस दिन के व्रत के फल से शत्रुओं का नाश होता है।

-शुक्रवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष व्रत रखने वाले जातकों को सौभाग्य की प्राप्ति होती है। साथ ही इस दिन के व्रत के प्रभाव से दाम्पत्य जीवन सुखमय होता है।

-शनिवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष व्रत के प्रभाव से मनुष्य को संतान प्राप्ति का सुख प्राप्त होता है।

-आयु में वृद्धि के लिए रविवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष व्रत का रखा जाता है। इस दिन व्रत रखने से अच्छे स्वास्थ्य का वरदान मिलता है।

Next Stories
1 Horoscope, 02 April 2019: वित्त से लेकर स्वास्थ्य मामलों तक कैसा रहने वाला है आपका दिन, जानें यहां
2 April Calendar 2019: ये हैं अप्रैल माह के व्रत-त्योहार, जानें चैत्र नवरात्रि कब से शुरू और कब है रामनवमी
3 Horoscope, 01 April 2019: आपकी जिंदगी से जुड़े तमाम पहलुओं पर कैसा रहने वाला है दिन, जानिए यहां
यह पढ़ा क्या?
X