ताज़ा खबर
 

नवंबर में कब हैं कौन-से त्योहार, जानें दीवाली, धनतेरस, भाई दूज और छठ पूजा समेत सभी त्योहारों की तारीखें

Diwali/ Bhai Dooj/ Karwa Chauth/ Chhath Puja Kab Hain: 2020 में नवंबर की शुरुआत होते ही त्योहारों की बौछार होने को त्योहार हैं। हिंदू पंचांग के मुताबिक इस महीने को कार्तिक मास कहा जाता है। कहते हैं कि यह साल भर का सबसे शुभ महीना होता है।

diwali kab hai 2020, chhath puja kab hai, dhanterasकार्तिक मास में बहुत-से त्योहार आते हैं।

Festivals 2020: 2020 में नवंबर की शुरुआत होते ही त्योहारों की बौछार होने को त्योहार हैं। हिंदू पंचांग के मुताबिक इस महीने को कार्तिक मास कहा जाता है। कहते हैं कि यह साल भर का सबसे शुभ महीना होता है। इस महीने के बारे में भगवान श्रीकृष्ण कहते हैं कि वो महीनों में कार्तिक हैं। इस महीने के बारे में शास्त्रों में भी बहुत महिमा गाई गई है।

मान्यता है कि कार्तिक महीने के इतना अधिक शुभ होने की वजह से ही इस महीने में हिंदू धर्म के कई बड़े त्योहार आते हैं। लेकिन तिथियों और सूर्योदय के समय में परिवर्तन होने की वजह से कई त्योहारों की तारीखों में लोग कंफ्यूज हो जाते हैं। यहां जानिये हिंदू पंचांग के अनुसार सभी त्योहारों की सही तारीखें –

4 नवंबर, बुधवार – चतुर्थी – करवा चौथ/ व्रकतुण्ड संकष्टी चतुर्थी
करवा चौथ के दिन सभी सुहागन स्त्रियां अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं। साथ ही इस दिन व्रकतुण्ड संकष्टी चतुर्थी व्रत भी मनाया जाएगा।

11 नवंबर, बुधवार – एकादशी – रमा एकादशी
साल की 24 एकादशियों में से एक है कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में आने वाली रमा एकादशी। यह व्रत वैष्णव भगवान विष्णु की प्रसन्नता के लिए रखते हैं।

13 नवंबर, शुक्रवार – त्रयोदशी – प्रदोष व्रत/ काली चौदस/ धनतेरस
इस दिन तीन त्योहार हैं। धनतेरस पर मां लक्ष्मी और धनवन्तरी जी की पूजा की जाती हैं। जबकि काली चौदस की वजह से मां काली को और प्रदोष व्रत की वजह से शिव जी की आराधना की जाती है।

14 नवंबर, शनिवार – अमावस्या – दीवाली
दीवाली के दिन शुभ मुहूर्त में माता महालक्ष्मी और भगवान गणेश की उपासना की जाती है। कहते हैं कि सच्चे मन से पूजा करने से इस दिन घर में मां लक्ष्मी आती हैं।

15 नवंबर, अमावस्या/ प्रतिपदा – गोवर्धन पूजा
इस दिन भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को उठाया था। इसलिए इस दिन श्रीकृष्ण और गोवर्धन पर्वत बनाकर उनकी पूजा की जाती है।

16 नवंबर, प्रतिपदा/ द्वितीया – भाई दूज
इस दिन भाईयों को तिलक किया जाता है। यह भाई-बहन के पवित्र रिश्ते का त्योहार माना जाता है।

20 नवंबर, षष्ठी – छठ पूजा
यह त्योहार उत्तर प्रदेश और बिहार में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन छठी मईया की आराधना की जाती है।

25-26 नवंबर, एकादशी – देवुत्थान एकादशी
देवुत्थान एकादशी व्रत भगवान विष्णु को समर्पित होता है। इस व्रत के बाद से ही शुभ कार्यों जैसे – शादी और सगाई आदि शुरू किए जाते हैं।

27 नवंबर, त्रयोदशी – प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत भगवान शंकर की आराधना और व्रत को समर्पित होता है।

30 नवंबर, पूर्णिमा – गुरु नानक जयंती
इस दिन को सिख धर्म के गुरु नानक जी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फेंगशुई के अनुसार इन उपायों से धन प्राप्ति के संकेत मिलने की है मान्यता, जानें
2 Vidur Niti: कभी धोखा नहीं खाते हैं इन आदतों के लोग, जानें
3 मासिक राशिफल, नवंबर 2020: कर्क, कन्या और कुंभ राशि वालों के लिए इस महीने क्या रहेगा खास, जानिये नवंबर का राशिफल
यह पढ़ा क्या?
X