ताज़ा खबर
 

Dussehra (Vijayadashami) 2020: क्यों दशहरा के दिन को माना जाता है इतना खास, जानें प्राचीन महत्व

Dussehra 2020 Date, Vijayadashami (Dasara) 2020: इस महापर्व को दशहरा के नाम से भी जाना जाता है। बताया जाता है कि दशहरा त्योहार मनाने के पीछे द्वापर युग से जुड़ी हुई वजह है।

Dussehra 2020: श्री राम ने लंकापति रावण का वध किया।

Dussehra Ravan Dahan 2020 Date, Puja Vidhi, Muhurat, Timings, Mantra: भारत में विजयदशमी को महापर्व के रूप में मनाया जाता है। विजयदशमी 2020 (Vijayadashmi 2020) में 25 अक्तूबर, रविवार को मनाई जाएगी। इस महापर्व को दशहरा के नाम से भी जाना जाता है। बताया जाता है कि दशहरा त्योहार मनाने के पीछे द्वापर युग से जुड़ी हुई वजह है।

द्वापर युग में जब भगवान विष्णु के अवतार श्री राम धरती पर आए। उनके तीन भाई थे और तीन माताएं थीं। समय के आगे बढ़ने के साथ चारों भाइयों का विवाह हुआ। महाराजा दशरथ ने यह निर्णय लिया कि अयोध्या के नए महाराज के रुप में श्री राम का राजतिलक किया जाएगा। जब महारानी कैकई को इस बारे में पता चला तो उन्हें बहुत गुस्सा आया और उन्होंने महाराजा दशरथ से कहा कि आपने पूर्व समय में मुझे यह वचन दिया था कि आप मुझे तीन वरदान देंगे।

इन्हीं वरदान में से एक मांगते हुए महारानी कैकई ने कहा कि श्री राम को 14 वर्ष के वनवास के लिए भेज दीजिए। महाराजा दशरथ को यह बात बहुत दुखदायी लगी। जब श्री राम को महारानी कैकई के ऐसे वरदान के बारे में पता चला तो वह मुस्कुराते हुए वन की ओर चले गए। उनके साथ में अपनी इच्छा से देवी सीता और उनके भाई लक्ष्मण भी गए।

वनवास के दौरान श्री राम ने कई राक्षसों का वध किया। एक दिन जब श्री राम अपनी कुटिया से बाहर गए तो अचानक वहां लंकापति रावण आ गए और उन्होंने ऋषि का रूप धारण कर देवी सीता का हरण कर लिया। जब श्री राम को इस बारे में पता चला तो उन्होंने रावण से युद्ध करने की ठानी। क्योंकि किसी स्त्री को बिना उसकी इच्छा के अपने पास रखना किसी सभ्य पुरुष का गुण नहीं माना जाता है।

इसलिए कई बार समझाने के बावजूद भी जब रावण देवी सीता को श्री राम के पास भेजने को तैयार नहीं हुआ तो वह युद्ध के लिए आगे बढ़े। श्री राम ने रामसेतु बनवा कर लंका पर चढ़ाई की और वहां के महाराज लंकापति रावण से भयंकर युद्ध कर विजय प्राप्त की। तब से ही हर आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को विजयदशमी का पावन त्योहार मनाने की प्रथा शुरू हुई।

Next Stories
1 नवदुर्गा का अंश मानी जाती हैं ये वनस्पतियां, जानें- किस औषधि में किस देवी के वास की है मान्यता
2 Dussehra 2020 Puja Vidhi, Muhurat, Timings, Mantra: इस शुभ मुहूर्त में करें दशहरा पूजन, जानें मंत्र और पूजा विधि
3 Durga Navami 2020 Puja Vidhi, Timings, Mantra: महानवमी के दिन महागौरी की उपासना की ये है अहमियत, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि
ये पढ़ा क्या?
X