ताज़ा खबर
 

Durga Navami 2020 Date: इस साल कब मनाई जाएगी महानवमी, जानिये तारीख में कंफ्यूजन की वजह

Durga Navami (Maha Navami) 2020 Date in India: जिन लोगों के घरों में अष्टमी के दिन कन्या पूजन किया जाता है उन्हें भी महानवमी के दिन देवी सिद्धिदात्री की अर्चना करनी चाहिए।

shardiya navratri 2020, durga maaDurga Navami 2020 Date: इस साल महानवमी 24 अक्तूबर, शनिवार को मनाई जाएगी।

Durga Navami (Maha Navami) 2020 Date in India: नवरात्र के अंतिम दिन यानी महानवमी को सबसे ज्यादा खास माना जाता है। कहते हैं कि देवी दुर्गा महानवमी के दिन नवम् देवी यानी सिद्धिदात्री देवी के रूप में अपने भक्तों को दर्शन देती हैं। भक्त नवरात्र के आखिरी दिन देवी की उपासना कर तृप्त होते हैं। नवरात्र 2020 में महानवमी की तिथि की वजह से कई लोग कंफ्यूज हो गए हैं। ऐसे में लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर महानवमी कब है तो हम आपको बता दें कि इस साल महानवमी 24 अक्तूबर, शनिवार को मनाई जाएगी।

क्यों है महानवमी तिथि में कंफ्यूजन
इस साल नवरात्र 17 अक्तूबर से शुरू हुए और 24 अक्तूबर तक चले। नवरात्र को सामान्य तौर पर नौ दिन का माना जाता है और नवें दिन महानवमी मनाई जाती है। लेकिन इस बार नवरात्र एक हफ्ते में ही समाप्त हो जाएंगे। इसलिए लोग तिथियों में कंफ्यूज हो गए हैं। दरअसल हिन्दू पंचांग के अनुसार तिथियां 12 बजे के बाद नहीं बदलती हैं।

हिन्दू पंचांग में तिथियों के बदलने का कोई निश्चित समय नहीं होता है। इसलिए ही कंफ्यूजन और बढ़ गई है। इस बार दो तिथियों का शेय हो गया है यानी दो तिथियों के साथ सूर्योदय नहीं हो पाया है। इसलिए नवरात्र के कुछ दिन घट गए हैं। आपको बता दें कि हिन्दू पंचांग के मुताबिक महानवमी 24 अक्तूबर की है। इसलिए अगर आप हिन्दू पंचांग को मानते हैं तो 24 अक्तूबर यानी नवमी तिथि पर ही महानवमी की पूजा करें।

क्यों खास है महानवमी
कहते हैं कि महानवमी के दिन देवी सिद्धिदात्री की आराधना की जाती है। देवी सिद्धिदात्री माता महालक्ष्मी का ही एक रूप हैं। जो लोग यह चाहते हैं कि देवी की कृपा से उनके घर में धन-धान्य की वर्षा हो उन्हें महानवमी के दिन देवी सिद्धिदात्री की पूजा जरूर करनी चाहिए। कई लोगों के घरों में महानवमी के दिन कन्या पूजन किया जाता है।

जिन लोगों के घरों में अष्टमी के दिन कन्या पूजन किया जाता है उन्हें भी महानवमी के दिन देवी सिद्धिदात्री की अर्चना करनी चाहिए। मान्यता है कि इस संसार में यश, धन-धान्य और संपत्ति सब देवी सिद्धिदात्री की ही कृपा से है। जो लोग उनकी उपासना करते हैं देवी उन्हें सुख-समृद्धि प्रदान करती हैं।

Next Stories
1 इस विधि से करें दशरथकृत शनि स्तोत्र का पाठ, शनि साढ़ेसाती के प्रकोप से मुक्ति मिलने की है मान्यता
2 ‘नमस्कार देवी जयंती महारानी…’ जया किशोरी का यह भजन सोशल मीडिया पर हो रहा है वायरल, जानें क्या है खास
3 Durga Ashtami 2020 Date, Puja Vidhi, Timings: दुर्गाष्टमी के बाद महानवमी की तैयारी, जानें इस दिन की क्या है अहमियत
ये पढ़ा क्या?
X