ताज़ा खबर
 

देवघरः भगवान शिवजी के मंदिर में फैली बम की अफवाह, सोमवार को 3 लाख कांवड़ियों ने किया जलाभिषेक

देवघर प्रशासन की सूझबूझ से बाबा मंदिर में बम की अफवाह की वजह से हादसा टला। चौथे सोमवार को 3 लाख कांवड़ियों ने बाबा वैद्यनाथ शिवलिंग का जलाभिषेक किया।

देवघर का मंदिर

रविवार यानि 30 जुलाई रात 9 बजे करीब देवघर के बाबा मंदिर में बम की अफवाह से अफरातफरी मच गई। वहां का पूरा प्रशासन मंदिर प्रांगण पहुंच वहां मौजूद हजारों श्रद्धालुओं और पंडों को बाहर निकाल मंदिर को सील कर दिया। और बम निरोधक दस्ते को बुलाकर चप्पे चप्पे की तलाशी ली। कहीं कुछ न मिलने पर सभी को सांस में सांस आई। और करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद मंदिर को दर्शनार्थियों के लिए खोल दिया गया। सावन की चौथे सोमवार को 3 लाख कांवड़ियों ने द्वादस ज्योतिर्लिंग बाबा वैद्यनाथ का जलाभिषेक किया। अब तक 25 लाख कांवड़िए बाबाधाम पहुंच दर्शन कर चुके है।

प्रशासन के सूत्रों के मुताबिक मंदिर के भीतर खंड में एक लावारिश थैला सुबह से ही पड़ा देखा गया। शाम तक उसका कोई दावेदार नहीं दिखा तो वहां तैनात अफसरों को शंका हुई। मगर डर से किसी ने भी झोले को छुआ नहीं। नतीजतन झोले में बम होने की अफवाह जंगल में आग की तरह फैली। देवघर शहर में भगदड़ सा माहौल हो गया। वहां के वाशिंदे बमशंकर झा के मुताबिक उपायुक्त राहुल कुमार सिंहा और एसपी ए विजय लक्ष्मी की ततपरता से किसी तरह की अनहोनी टल गई।

प्रशासन के लोगों ने फौरन पुलिस बल के साथ पहुंच फटाफट मंदिर खाली करवाया। उस वक्त हजारों कांवड़िए जलाभिषेक करने के वास्ते कतार में खड़े हो अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। और चारों ओर से बाड़े में घिरे खड़े थे। फिर भी बड़ी कुशलता से मंदिर खाली करवाया। और बम निरोधक दस्ते से जांच करवा अफवाह को निर्मूल करार दिया।

गौरतलब है कि कुछ साल पहले सावन के महीने में इसी तरह भगदड़ मचने से 8 कांवड़ियों की मौत हो गयी थी। इसी वजह से देवघर का जिला प्रशासन ज्यादा सतर्क रहता है। वैसे संजय भारद्वाज , शोभन नरोने सरीखे कहते है कि सारी व्यवस्था बाबा भरोसे है, इधर सुलतांगज से देवघर 105 किलोमीटर का रास्ता कांवड़ियों से सैलाव उमड़ पड़ा है। सरकारी इंतजाम बम बोल गया है। फिर भी अटूट आस्था ही कांवड़ियों का सहारा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App