मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऐतिहासिक मंदार पर्वत पर रोपवे का किया उद्घाटन, बोले राज्य के सभी पर्यटन स्थलों का होगा समुचित विकास

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को ऐतिहासिक मंदार पर्वत पर रोपवे का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाओं को देखते हुए छह जगहों पर रोपवे का निर्माण कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऐतिहासिक मंदार पर्वत पर रोपवे का उद्घाटन करते हुए। साथ में हैं उप मुख्‍यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को मंदार पर्वत पर रोपवे का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाओं को देखते हुए छह जगहों पर रोपवे का निर्माण कराया जाएगा। इससे पर्यटकों की संख्या में इजाफे के साथ रोजगार का भी सृजन होगा।

भागलपुर प्रमंडल के बौसी प्रखंड स्थित मंदार पर्वत जो कि समुद्र मंथन का प्रतीक माना जाता है । मान्यता है कि यहां मधुसुदन भगवान आए थे। इनके चरण आज भी वहां मौजूद हैं। वर्षों से यह उपेक्षित था। मगर 2019 में सरकार ने इस ओर ध्यान दिया। और यहां मकर संक्रांति पर लगने वाले मेले को राजकीय घोषित किया गया। मुख्यमंत्री ने उसी समय पर्वत के जीर्णोद्धार और पर्यटकों की सुविधा के लिए रोपवे बनाने का ऐलान किया था। इस पर 9 करोड़ 18 लाख रुपये की लागत आई है।

रोपवे का उद्घाटन करने के बाद एक समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐतिहासिक व पौराणिक स्थल मंदार पर्वत पर सुगमतापूर्वक आवाजाही के लिए इस 377.36 मीटर लंबे रोपवे के बन जाने के बाद शिखर का सफर अब घंटों की बजाए मिनटों में पर्यटक तय कर सकेंगे। वे स्‍वयं रोपवे के जरिए पर्वत के शिखर पर गए, चारो तरफ के विहंगम दृश्य को देख उनका मन गदगद हो गया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रदेश में सबसे पहले राजगीर में रोपवे का निर्माण कराने से वहां पर पर्यटकों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। इसी तरह मंदार पर्वत पर भी रोपवे के निर्माण हो जाने से अब बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने का सिलसिला शुरू होगा। इसके अलावे यहां के पापहरिणी तालाब सहित अन्य स्थलों का सौंदर्यीकरण कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐतिहासिक, पौराणिक व धार्मिक गतिविधियों के केन्द्र बने बांका जिले में पर्यटन की संभावना को देखते हुए पहले से एक ड्रीम प्रोजेक्ट के रूप में विकसित करने की योजना बनाई गई थी। इसकी शुरुआत आज़ से हो रही है। जिले के ओढ़नी डैम और अमरपुर प्रखंड के पुरातात्विक खुदाई स्थलों का भी विकास होना है। जिससे जिले में पर्यटकों की संख्या में इजाफा के साथ – साथ रोजगार के रास्ते भी खुलेंगे।

उन्होंने कहा राजगीर एवं मंदार पर्वत के बाद प्रदेश के छह जगहों पर रोपवे का निर्माण कराया जाएगा और इसके लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है। ताकि वहां पर पर्यटन को बढ़ावा मिल सके और रोजगार का भी सृजन हो पाये। प्रदेश में पर्यटन उद्योग की अपार संभावनाओं को देखते हुए सभी ऐतिहासिक व पौराणिक स्थलों के विकास के लिए राज्य सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। इसका परिणाम जल्द ही देखने को मिलेगा।

इस मौके पर उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि मंदार पर्वत से परम्परागत धार्मिक आस्थाएं जुड़ी हुई हैं और इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए राज्य सरकार काम कर रही है। रोपवे के चालू होने से यहां पर हिन्दू एवं जैन धर्मावलंबियों के सा- साथ बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचेंगे। समारोह को जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने भी संबोधित किया। बाद में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद एवं जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा के साथ जिले के ओढ़नी डैम का निरीक्षण किया और फिर अमरपुर प्रखंड के कई पुरातात्विक खुदाई स्थलों का अवलोकन करते हुए इसके समग्र विकास पर जोर दिया।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट