ताज़ा खबर
 

Chandra Grahan/Lunar Eclipse 2019: इस साल का आखिरी चंद्रग्रहण खत्म, देश-दुनिया पर पड़ेगा यह असर

Chandra Grahan July 2019, Lunar Eclipse July 2019 Date and Time, Timings in India Updates: 149 साल बाद आया ऐतिहासिक चंद्रग्रहण अब खत्म हो चुका है। ग्रहणकाल की अवधि करीब 2 घंटे 59 मिनट की रही।

Author नई दिल्ली | Jul 17, 2019 10:29 am
Lunar Eclipse July 2019 Live Updates: जानें किन राज्यों में देखा जा सकेगा चंद्रग्रहण

Chandra Grahan 2019, Lunar Eclipse July 2019 Updates: 149 साल बाद आए ऐतिहासिक चंद्रग्रहण की अवधि करीब 2 घंटे 59 मिनट की रही। तडके 4:30 बजे ग्रहण काल खत्म हो गया। इस बार चंद्रग्रहण गुरु पूर्णिमा के दिन आया था। यह ऐतिहासिक घटना 149 साल बाद हुई। इस दौरान दुनिया के कई देशों में चंद्रग्रहण देखा गया। शुरुआती तस्वीरें ऑस्ट्रेलिया और क्रोएशिया से आई थीं।

इन राज्यों में नहीं दिखा चंद्रग्रहण: खगोलीय वैज्ञानिकों के मुताबिक, यह चंद्रग्रहण अरुणाचल प्रदेश के दुर्गम उत्तर पूर्वी हिस्सों में नहीं दिखाई दिया। हालांकि, कई जगह मौसम खराब होने के कारण चंद्रग्रहण नहीं देखा जा सका। वहीं, देश के पूर्वी इलाकों जैसे बिहार, असम, बंगाल और ओडिशा में ग्रहण की अवधि में ही चंद्रमा अस्त हो गया। ज्योतिषियों का कहना है कि इस ग्रहण का असर सभी 12 राशियों के अलावा देश व दुनिया पर पड़ेगा।

Live Blog

Highlights

    04:38 (IST)17 Jul 2019
    4 बजकर 30 मिनट पर खत्म हुआ चंद्रग्रहण

    149 साल बाद आए ऐतिहासिक चंद्रग्रहण की अवधि अब खत्म हो गई है। रात 1 बजकर 31 मिनट पर शुरू हुआ यह ग्रहणकाल तड़के 4 बजकर 30 मिनट तक चला।

    03:59 (IST)17 Jul 2019
    Mumbai: तस्वीरों में देखें चंद्रग्रहण

    मुंबई में चंद्रग्रहण के दौरान ऐसा था नजारा

    01:53 (IST)17 Jul 2019
    दिल्ली से यूं दिखा चंद्रग्रहण का नजारा, देखें तस्वीर

    देश की राजधानी दिल्ली से चंद्रग्रहण का नजारा ऐसा दिखा। बुधवार की रात 1 बजकर 31 मिनट पर चंद्रग्रहण की शुरुआत हुई।

    01:51 (IST)17 Jul 2019
    ओडिशा के भुवनेश्वर से देखें चंद्रग्रहण की तस्वीर

    ओडिशाः भुवनेश्वर में ऐसा दिखा चंद्रग्रहण का शुरुआती नजारा। यह चंद्रग्रहण अफ्रीका, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, यूरोप और दक्षिण अमेरिका से देखा जा सकेगा।

    01:44 (IST)17 Jul 2019
    देखें चंद्रग्रहण की तस्वीरें- नई दिल्ली, हरिद्वार और भुवनेश्वर से ऐसा दिखा नजारा

    चंद्रग्रहण 2019ः पहली तस्वीर हरिद्वार, दूसरी नई दिल्ली और तीसरी भुवनेश्वर की है

    01:40 (IST)17 Jul 2019
    भारत में चंद्रग्रहणः दिल्ली में बादल छाए होने के चलते तस्वीर सामने आने में देरी

    भारत में चंद्रग्रहण कई शहरों में दिखने लगा है। भुवनेश्वर से भी तस्वीर सामने आई है, देश की राजधानी नई दिल्ली से भी तस्वीर सामने आई है। हालांकि बादल छाए होने के चलते तस्वीर देरी से सामने आई।

    01:34 (IST)17 Jul 2019
    क्रोएशिया और ऑस्ट्रेलिया के पर्थ से सामने आई शुरुआती तस्वीर

    चंद्रग्रहण की शुरुआती तस्वीरें ऑस्ट्रेलिया के पर्थ और क्रोएशिया से सामने आई है। 

    00:58 (IST)17 Jul 2019
    चंद्रग्रहणः मिथुन राशि वालों के लिए कैसी है ये खगोलीय घटना

    मिथुन राशि वालों को विशेषज्ञों ने नए प्रेम संबंधों की शुरुआत से बचने की सलाह दी है। ऐसा करने से समस्याएं बढ़ सकती हैं। क्रोध पर नियंत्रण रखें और ग्रहण के बाद काली वस्तुओं का दान कतई न करें। ऐसा करने से नुकसान हो सकता है।

    00:30 (IST)17 Jul 2019
    चंद्रग्रहण के दौरान ऐसा दिख सकता है चांद का रंग

    चंद्रमा का रंग धरती के वायुमंडल की स्थिति पर भी निर्भर करता है। माना जा रहा है कि आज के चंद्रग्रहण के दौरान चंद्रमा का रंग लाल नजर आ सकता है, हालांकि इसकी सटीक भविष्यवाणी करना मुश्किल है।

    23:58 (IST)16 Jul 2019
    ग्रहण के बाद जरूर ध्यान रखें ये बातें

    ग्रहण काल के बाद घर की साफ-सफाई जरूरी है। सफाई के बाद स्नान करें और धुले हुए कपड़े ही पहनें। इसके अलावा मंदिर जाकर पूजा-पाठ करना और गरीबों को दान करना भी अच्छा माना गया है।

    16:45 (IST)16 Jul 2019
    वृषभ राशि के जातकों को होगी यह परेशानी

    वृषभ राशि के जातकों के लिए यह समय कष्टदायी रहेगा। उन्हें सावधान रहकर काम करना होगा, क्योंकि धन हानि हो सकती है।

    15:32 (IST)16 Jul 2019
    मेष राशि के लोगों को ग्रहण से होगा लाभ

    मेष राशि के लिए ग्रहण का योग शुभ रहने वाला है। इस राशि के जातकों को सफलता के साथ ही मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। धन लाभ मिलने की संभावनाएं हैं।

    15:29 (IST)16 Jul 2019
    करीब 2.58 घंटे दिखेगी यह खगोलीय घटना

    जानकारों के मुताबिक, यह खगोलीय घटना करीब 2 घंटे 58 मिनट तक देखी जा सकेगी। खगोल विज्ञान में दिलचस्पी रखने वाले लोगों के लिए यह नजारा बेहद शानदार होगा। हालांकि, इसके लिए मौसम साफ होना जरूरी है। खगोलीय वैज्ञानिकों के मुताबिक, चंद्रग्रहण देखने के लिए विशेष सावधानी की जरूरत नहीं होती है।

    14:50 (IST)16 Jul 2019
    सभी राज्यों में एक साथ लगेगा सूतक काल

    भारत के सभी राज्यों में सूतक काल का समय एक जैसा रहने वाला है। सूतक काल शाम 4 बजकर 31 मिनट से शुरु होकर चंद्र ग्रहण की समाप्ति तक रहेगा। इस आंशिक चंद्र ग्रहण को भारत के सभी इलाकों में देखा जा सकेगा।

    14:49 (IST)16 Jul 2019
    सूतक के दौरान न करें ये काम

    ग्रहण के दौरान खाना-पीना नहीं चाहिए। इस दौरान भोजन पकाने की भी मनाही होती है। बीमार लोगों औप बच्चों को हालांकि इससे छूट प्राप्त है। खान-पान की चीजों में तुलसी के पत्ते अवश्य डाल दें।

    13:16 (IST)16 Jul 2019
    सूतक के दौरान करें इस मंत्र का जाप

    सूतक काल में मंत्रों का जाप करना कल्याणकारी माना गया है। इस दौरान “तमोमय महाभीम सोमसूर्यविमर्दन। हेमताराप्रदानेन मम शान्तिप्रदो भव।” इस मंत्र का जाप करना चाहिए। इस मंत्र का अर्थ है- ये अंधकाररूपी महाभीम सूर्य और चंद्र का मर्दन करने वाले राहु! सुवर्णतारा दान से शांति प्रदान करें।

    11:52 (IST)16 Jul 2019
    जानें कब तक रहेगा चंद्रग्रहण और सूतक काल

    भारतीय समयानुसार चंद्रग्रहण 16 जुलाई की रात 1 बजकर 31 मिनट पर शुरू होगा। ग्रहण का मध्य काल रात्रि 3 बजकर 1 मिनट पर और चंद्रग्रहण का मोक्ष रात 4 बजकर 30 मिनट पर होगा। चंद्रग्रहण की कुल अवधि 2 घंटे 59 मिनट की रहेगी। सूर्यग्रहण में सूतक काल ग्रहण शुरू होने से 12 घंटे पहले ही लग जाता है। वहीं, चंद्रग्रहण में सूतक काल ग्रहण प्रारंभ होने से 9 घंटे पहले लगता है। चंद्रग्रहण की शुरुआत रात 01:31 बजे हो रही है तो सूतक काल ठीक 9 घंटे पहले यानी शाम 04:30 बजे से ही लग जाएगा। चंद्र गहण के मोक्ष होने तक सूतक काल रहता है।

    11:45 (IST)16 Jul 2019
    4:30 बजे लग जाएगा सूतक

    चंद्रग्रहण का सूतक ग्रहण से ठीक 9 घंटे पहले यानी कि शाम 4:30 बजे शुरु हो जाएगा। इस चंद्रग्रहण को भारत समेत ऑस्ट्रेलिया, एशिया लेकिन यहां के उत्तर-पूर्वी भाग को छोड़ कर, अफ्रीका, यूरोप, उत्तरी तथा दक्षिणी अमेरिका के ज्यादातर भाग में दिखाई देगा।

    10:40 (IST)16 Jul 2019
    भारत में नहीं दिखा था पहला चंद्रग्रहण

    2019 का पहला चंद्रग्रहण भारत में दिखाई नहीं दिया था। हालांकि, अमेरिका, ग्रीनलैंड, आइसलैंड, आयरलैंड, ग्रेट ब्रिटेन, नार्वे, स्वीडन, पुर्तगाल, फ्रांस और स्पेन में लोग इस अद्भुत नजारे से रूबरू हुए थे। इस बार नंबर भारत का है, जहां लोगों को सुपर ब्लड वुल्फ मून जैसा ही नजारा दिखाई देगा।

    10:39 (IST)16 Jul 2019
    यह इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण

    गौरतलब है कि मंगलवार रात पड़ने वाला चंद्रग्रहण 2019 का दूसरा चंद्रग्रहण हैं। इससे पहले 20 और 21 जनवरी की दरम्यानी रात पहला चंद्रग्रहण लगा था। वह पूर्ण चंद्रग्रहण था, जिसे वैज्ञानिकों ने सुपर ब्लड वुल्फ मून (Super blood wolf moon) नाम दिया था। इस चंद्रग्रहण में चंद्रमा पूरी तरह लाल नजर आता है, जिसके चलते इसे सुपर ब्लड वुल्फ मून का नाम दिया गया।

    10:35 (IST)16 Jul 2019
    ऐसे देख सकते हैं चंद्रग्रहण

    वैज्ञानिकों के मुताबिक, चंद्रग्रहण को देखने के लिए विशेष सावधानी की जरूरत नहीं होती है। चंद्रग्रहण पूरी तरह से सुरक्षित होता है, इसलिए आप इसे नंगी आंखों से देख सकते हैं। यदि आप दूरबीन की मदद से चंद्रग्रहण देखेंगे तो आपको यह खगोलीय घटना बेहद स्पष्ट दिखाई देगी। एशिया के देशों में चांद का 65 फीसद हिस्सा ब्लड रेड कलर में नजर आएगा।

    10:34 (IST)16 Jul 2019
    2 घंटे 58 मिनट दिखेगी यह खगोलीय घटना

    खगोल विज्ञान में दिलचस्पी रखने वाले लोगों के लिए यह नजारा बेहद शानदार होगा। हालांकि, इसके लिए मौसम साफ होना जरूरी है। यह खगोलीय घटना करीब 2 घंटे 58 मिनट तक देखी जा सकेगी।

    10:32 (IST)16 Jul 2019
    रात 3:01 बजे पीक पॉइंट पर होगा चंद्रग्रहण

    खगोलीय वैज्ञानिकों के मुताबिक, रात को 3:01 बजे चंद्रग्रहण पूरे चरम पर होगा। इस आंशिक चंद्रग्रहण के दौरान वैज्ञानिकों को ब्रह्मांड के रहस्यों को समझने में मदद मिलेगी। सबसे खास बात यह कि इस दौरान चंद्रमा धरती के नजदीक और आकार में अपेक्षाकृत बड़ा दिखाई देगा।

    10:31 (IST)16 Jul 2019
    ग्रहण के दौरान ऐसा दिखेगा चांद

    इस ऐतिहासिक खगोलीय घटना के वक्त चंद्रमा नारंगी या लालिमा लिए नजर आएगा। इसकी दूधिया रोशनी में लालिमा घुली होगी। सुबह 5:47: 38 पर चांद से धरती की धुंधली छाया भी खत्म हो जाएगी। खगोल वैज्ञानिकों को इस घटना का बेसब्री से इंतजार है।

    10:29 (IST)16 Jul 2019
    इन देशों में भी दिखेगा चंद्रग्रहण

    अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के मुताबिक, हाफ ब्लड मून इक्लिप्स ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका समेत यूरोप के कई हिस्सों में दिखाई देगा। एशिया की बात करें तो भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, सिंगापुर, फिलिपींस, मलेशिया और इंडोनेशिया के साथ ईरान, इराक, तुर्की और सऊदी अरब में भी यह नजारा दिखाई देगा।

    Next Stories
    1 Chandra Grahan 2019 Sutak Time in India: जानिए राज्य अनुसार चंद्र ग्रहण के सूतक का समय कब होगा शुरु
    2 Lunar Eclipse/Chandra Grahan July 2019: जानिए दुनिया भर में चंद्र ग्रहण को लेकर क्या है मानयताएं
    3 Lunar Eclipse/Chandra Grahan 2019: काशी के घाट पर आज दिन में ही होगी आरती, 27 साल में तीसरी बार होगा ऐसा