ताज़ा खबर
 

कब लग रहा है चंद्र ग्रहण, जानिए किस राशि पर पड़ेगा इसका सबसे ज्यादा असर

ये साल का तीसरा चंद्र ग्रहण होगा। जो भारत में नहीं दिखाई देगा। लेकिन इस खगोलीय घटना का नजारा आप ऑनलाइन जरूर देख पाएंगे।

chandra grahan 2020, chandra grahan july 2020, lunar eclipse 2020, lunar eclipse july 2020 timing, chandra grahan kab hai,ग्रहण के समय चंद्रमा धनु राशि में होगा। ग्रहण के दौरान बृहस्पति पर राहु की दृष्टि धनु राशि को प्रभावित करेगी।

गुरु पूर्णिमा के दिन यानी 5 जुलाई को चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। ये ग्रहण धनु राशि में लगेगा। ये साल का तीसरा चंद्र ग्रहण होगा। जो भारत में नहीं दिखाई देगा। लेकिन इस खगोलीय घटना का नजारा आप ऑनलाइन जरूर देख पाएंगे। ग्रहण की शुरुआत 5 जुलाई की सुबह 08:38 AM से हो जाएगी और इसकी समाप्ति 11:21 AM पर होगी।

कहां और कैसा दिखेगा ग्रहण: ये ग्रहण दक्षिण एशिया के कुछ भागों, अमेरिका, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई देगा। साल 2020 के बाकी चंद्र ग्रहण की तरह ही यह भी एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण होगा। इस ग्रहण में पृथ्वी चंद्रमा और सूर्य के बीच में आ जाती है लेकिन पृथ्वी की बाहरी छाया ही चंद्रमा को छू पाती है। ऐसे में चंद्रमा के आकार में कोई परिवर्तन नहीं आता बल्कि उसकी छवि कुछ धुंधली दिखाई देने लगती है। ज्योतिष अनुसार उपच्छाया चंद्र ग्रहण को सामान्य ग्रहण की श्रेणी में नहीं रखा जाता।

इन राशियों पर पड़ेगा चंद्र ग्रहण का सबसे ज्यादा असर: ग्रहण के समय चंद्रमा धनु राशि में होगा। ग्रहण के दौरान बृहस्पति पर राहु की दृष्टि धनु राशि को प्रभावित करेगी। जिस कारण धनु राशि के जातकों पर इस ग्रहण का सबसे ज्यादा असर पड़ेगा। मन अशांत रहेगा। बेवजह के विवादों का सामना करना पड़ेगा। गुस्से पर काबू रखें। इसके अलावा कर्क, सिंह और कन्या राशि के जातकों को भी ग्रहण के चलते स्वास्थ्य और करियर से संबंधित परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं।

सूतक काल नहीं लगेगा: ये ग्रहण भारत में नहीं लग रहा है जिस कारण इसका सूतक काल मान्य नहीं होगा। धार्मिक मान्यताओं अनुसार चंद्र ग्रहण से 9 घंटे पहले सूतक लग जाता है। जिस अवधि में किसी भी प्रकार के शुभ कार्य नहीं किये जाते।

ग्रहण कैसे देखें: वैसे तो चंद्र ग्रहण को नंगी आंखों से देखना पूरी तरह से सुरक्षित होता है। लेकिन अगर इस नजारे को टेलिस्कोप की मदद से देखा जाए तो ये बेहद ही खूबसूरत दिखाई देता है। इसे देखने के लिए खास तरह के सोलर फिल्टर वाले चश्मों का प्रयोग किया जाता है। हालांकि ये ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा इसलिए आप इसे ऑनलाइन विभिन्न यूट्यूब चैनलों के जरिए देख सकते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Jaya Parvati Vrat: आज से जया पार्वती व्रत का हुआ प्रारंभ, जानिए क्या है इसकी महिमा और पूजा विधि
2 Marriage Muhurat 2020-2021: आज से अगले चार महीने तक नहीं होंगी शादियां, जानिए अब कब बजेगी शहनाई
3 इन चीजों का दान करने से आर्थिक स्थिति खराब होने की है मान्यता
IPL 2020
X