जीवन में पाना चाहते हैं सफलता तो आचार्य चाणक्य की ये 10 बातें बांध लें गांठ

जो व्यक्ति लोभी होता है, वह अपनी जिंदगी में कभी संतुष्ट नहीं होता। इसलिए चाणक्य जी मानते हैं कि व्यक्ति को लोभ करने से बचना चाहिए।

Chanakya Niti, Religion News, Chanakya Neeti
आचार्य चाणक्य के अनुसार अगर आप जीवन में सफलता पाना चाहते हैं तो अहंकार को अपने आसपास भी न फटकने दें

आचार्य चाणक्य की गिनती दुनिया के श्रेष्ठ विद्वानों में की जाती है, क्योंकि उन्हें राजनीति और अर्थशास्त्र के साथ-साथ लगभग हर विषयों की गहराई से समझ थी। महान अर्थशास्त्री आचार्य चाणक्य की नीतियां मनुष्य को बेहतर जीवन जीने के लिए प्रेरित करती हैं। चाणक्य जी ने अपने नीति नीति शास्त्र में समाज से जुड़ी उन बातों का जिक्र किया है, जिन्हें अगर व्यक्ति अपने जीवन में उतार ले तो वह हमेशा सफलता प्राप्त करता है। आचार्य चाणक्य के अनुसार अगर व्यक्ति अपने जीवन में इन 10 बातों का हमेशा ध्यान रखे तो वह कभी भी असफल नहीं होता:

क्रोध: चाणक्य नीति के अनुसार क्रोध व्यक्ति के विवेक को नष्ट कर देता है। गुस्से में आकर मनुष्य अच्छे और बुरे के अंतर को भूल जाता है। इसलिए इंसान को गुस्सा करने से बचना चाहिए।

आलस्य: चाणक्य जी के अनुसार आलस्य का त्याग किए बिना व्यक्ति अपने जीवन में कभी भी सफलता प्राप्त नहीं कर सकता। क्योंकि आलस्य इंसान की कुशलता का नाश कर देता है।

परिश्रम: आचार्य चाणक्य मानते हैं कि जो व्यक्ति कभी भी परिश्रम करने से पीछे नहीं हटता, वह हमेशा लक्ष्य को प्राप्त कर लेता है। सफलता भी ऐसे लोगों से ज्यादा दिनों तक दूर नहीं रहती।

शस्त्र रखने वाले: चाणक्य जी की मानें तो जो व्यक्ति अपने पास शस्त्र रखता है, उससे हमेशा सावधान रहना चाहिए। क्योंकि वह गुस्से में कभी भी आप पर शस्त्र का प्रयोग कर सकता है।

अहंकार: अहंकार व्यक्ति का सबसे बड़ा शत्रु होता है। इस बात को आचार्य चाणक्य भी मानते थे। जो व्यक्ति अहंकार से भरा होता है, उसका सब कुछ नष्ट हो जाता है।

लंबे नाखूनों वाला: लंबे नाखून ना सिर्फ स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं बल्कि आचार्य चाणक्य मानते हैं कि जिन लोगों के नाखून लंबे होते हैं, उनसे सदैव दूरी बनाकर रखनी चाहिए। क्योंकि ऐसे लोग अपने नाखूनों से आपको चोट पहुंचा सकते हैं।

लोभ: जो व्यक्ति लोभी होता है, वह अपनी जिंदगी में कभी संतुष्ट नहीं होता। इसलिए चाणक्य जी मानते हैं कि व्यक्ति को लोभ करने से बचना चाहिए।

अनुशासन: सफलता प्राप्ति के लिए व्यक्ति में अनुशासन होना बेहद ही जरूरी है। क्योंकि अनुशासन नहीं होने पर व्यक्ति को समय की अहमियत नहीं पता चल पाती।

झूठ: ऐसा व्यक्ति जो सफलता प्राप्ति के लिए झूठ का सहारा लेता है, कुछ ही दिनों में उसका कामयाबी नष्ट हो जाती है।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट