ताज़ा खबर
 

Chanakya Niti: धन को लेकर इन 8 बातों का जरूर रखना चाहिए ध्यान, जानें क्या कहते हैं चाणक्य

Chanakya Niti for Money: आचार्य के मुताबिक लोगों को ऐसे धन का तुरंत त्याग कर देना चाहिए जिसके लिए वो अपने धर्म का पालन न कर पाएं

आचार्य चाणक्य ने इस बात का जिक्र किया है कि लोगों को समृद्ध जगहों पर ही वास करना चाहिए

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य की गिनती श्रेष्ठ विद्वानों में होती है जिन्हें लगभग हर क्षेत्र की गहन जानकारी थी। कहते हैं कि आचार्य चाणक्य महान ज्ञाता, कुशल राजनीतिज्ञ और सफल अर्थशास्त्री थे। समाजशास्त्री और अर्थशास्त्री चाणक्य ने चाणक्य नीति में कई ऐसी बातों का जिक्र किया है जिसका महत्व वर्तमान परिस्थितियों में भी कम नहीं हुआ है। आचार्य चाणक्य कहते हैं जो लोग दृढ़ निश्चय करने वाले होते हैं, उन पर देवी लक्ष्मी की विशेष कृपा बरसती है। अर्थशास्त्री चाणक्य ने धन को लेकर कई बातें बताई हैं, आइए जानते हैं –

चाणक्य कहते हैं कि लोगों को बगैर सोचे-समझे धन खर्च नहीं करना चाहिए। उन्हें अपने बुरे दिनों के लिए पैसे बचाकर रखने चाहिए। साथ ही, वो कहते हैं कि किसी भी मुश्किल समय में अपनी पत्नी का साथ नहीं छोड़ना चाहिए। बेशक इसके लिए आपको अपने बचाए हुए पैसे ही क्यों न खर्च करने पड़ें।

आचार्य चाणक्य को महान बुद्धिजीवियों में से एक माना जाता है, उनके मुताबिक जिन लोगों के पास धन होता है समाज में उनको ही इज्जत मिलती है। धनवान लोगों में परेशानियां का सामना करने का सामर्थ्य होता है।

चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने इस बात का जिक्र किया है कि लोगों को समृद्ध जगहों पर ही वास करना चाहिए। उनके मुताबिक जिस जगह पर शिक्षित ब्राह्मण, नदी, स्वास्थ्य विशेषज्ञ और सैनिक न हों, वहां एक पल भी ठहरना नहीं चाहिए। आचार्य के अनुसार धन की प्राप्ति वहीं होती है जहां लोगों को रोजगार, इज्जत और शिक्षा का संचार होता है।

उनके अनुसार किसी भी रिश्ते की पहचान धन के आने-जाने के साथ होती है। वो कहते हैं कि धन संपत्ति खोने समय ही रिश्तों की असली परख होती है।

आचार्य के मुताबिक लोगों को ऐसे धन का तुरंत त्याग कर देना चाहिए जिसके लिए वो अपने धर्म का पालन न कर पाएं, उन्हें किसी की खुशामद करनी पड़े या गलत रास्ते पर जाना पड़े।

चाणक्य नीति में बताया गया है कि जिनके मन में दयालुता का भाव होता है, वे मन के बहुत सच्चे होते हैं। ऐसी मान्यता है कि इनकी सच्चाई के कारण माता महालक्ष्मी की कृपा इन लोगों पर सदैव बरसती है।

आचार्य चाणक्य बताते हैं कि मेहनत करने वाले लोगों को कभी धन की कमी नहीं रहती है, ऐसे लोग अपनी किस्मत को भी अपनी मेहनत से बदलने का जज्बा रखते हैं।

आचार्य चाणक्य बताते हैं कि जो लोग अपने घर का पैसा व्यर्थ खर्चों में लगाते हैं उनके घर में धन-धान्य की वृद्धि नहीं होती है। पैसा सिर्फ उतना ही खर्च करना चाहिए जिसकी जरूरत बहुत ज्यादा हो।

Next Stories
1 2022 में शनि दो बार बदलेंगे राशि, 8 राशियां इससे होंगी प्रभावित, रहें सतर्क
2 सबसे अधिक बुद्धिमान माने जाते हैं इन 4 राशि के लोग, देखें क्या आप भी हैं इसमें शामिल?
3 साप्ताहिक राशिफल (28 जून से 4 जुलाई 2021): मिथुन और सिंह समेत इन 4 राशि वालों की आय में होगी वृद्धि, देखें अपना राशिफल
ये पढ़ा क्या?
X