ताज़ा खबर
 

Chanakya Niti: खुशनसीब माने जाते हैं वो पति जिनकी पत्नियों में होती हैं ये खूबियां, जानिये क्या कहते हैं चाणक्य

Chanakya Niti in Hindi: आचार्य चाणक्य ने जीवन जीने के कई सुझाव दिए हैं, साथ ही उन्होंने अपने नीति शास्त्र में ये भी बताया कि जिन स्त्रियों में ये गुण होते हैं, उनके पति सौभाग्यशाली होते हैं।

Chanakya niti, Chanakya niti in hindi, Chanakyaचाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य के विचारों को बताया गया है।

Chanakya Niti: मशहूर अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और नीति शास्त्री आचार्य चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में सफल होने के कई मार्ग बताए हैं। उन्होंने लोगों के जीवन की सभी दुविधाओं के लिए उपाय सुझाए हैं। आचार्य चाणक्य ने हमेशा नीतिगत मार्ग अपनाकर सही जीवनयापन करने की सलाह दी है। उनके द्वारा दी गई सलाह आज के समय में भी काफी प्रभावी साबित होती हैं। उन्होंने लोगों के स्वभाव और उनके गुणों को लेकर कई बाते बताई हैं।

आचार्य चाणक्य ने अपने नीतिशास्त्र में स्त्रियों के ऐसे गुणों का जिक्र किया है, जो उनके पति के लिए काफी सौभाग्यशाली साबित होते हैं। उनके अनुसार जिन भी स्त्रियों में ये पांच गुण होते हैं, उनका दांपत्य जीवन काफी खुशहाल बीतता है।

1- धर्म के रास्त पर चलने वाली हो स्त्री: आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र के अनुसार जो स्त्री धर्म के मार्ग पर चलकर अपना जीवन यापन करती है। जिसकी ईश्वर में भरपूर आस्था और श्रद्धा होती है, उसका घर हमेशा खुशियों से भरा होता है। साथ ही वह पति के साथ एक खुशहाल जीवन व्यतीत करती है।

2- सीमित हों इच्छाएं: नीति शास्त्र के अनुसार जिन स्त्रियों की इच्छाएं सीमित होती हैं, उनके पति काफी सौभाग्यशाली होते हैं। यूं तो मनुष्य की इच्छाओं की कोई सीमा नहीं है, लेकिन स्त्रियों में इच्छाएं काफी प्रबल होती हैं। जिन्हें पूरा करने के लिए कभी-कभी पति गलत काम भी कर जाता है, जिसके कारण वह मुश्किलों में पड़ जाता है। ऐसे में चाणक्य कहते हैं कि सीमित इच्छाओं वाली स्त्रियों का पति खुशहाल रहता है।

3- धैर्यवान हो स्त्री: आचार्य चाणक्य का मानना है कि धैर्यवान स्त्री हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम होती है। बड़ी से बड़ी मुश्किलों में भी वह अपने परिवार को संभाल लेती है। ऐसे में स्त्री में धैर्य का गुण होना काफी आवश्यक है। धैर्य रखने वाली स्त्री का दांपत्य जीवन खुशहाल रहता है।

4- मीठा बोलने वाली: आचार्य चाणक्य के अनुसार स्त्री को हमेशा मीठा बोलना चाहिए। जिस स्त्री की वाणी में मिठास नहीं होती, वह अपने पति के लिए कई तरह की मुश्किलें खड़ी कर सकती है। पत्नी की बोली मीठी हो तो उसके पति का जीवन खुशियों से भरा रहता है।

5- कम गुस्से वाली: चाणक्य नीति के अनुसार जिस पत्नी को गुस्सा कम आता है, उसके जीवन में हमेशा खुशियां बनी रहती हैं।

Next Stories
1 माघ पूर्णिमा पर गुरु और शनि का बन रहा है शुभ संयोग, तुलसी की पूजा करने से धन लाभ मिलने की है मान्यता
2 राशि अनुसार कौन-सा रत्न करना चाहिये धारण, जानिये क्या है मान्यता
3 Magh Pradosh Vrat 2021: कल है माघ प्रदोष व्रत, जानिये शुभ मुहूर्त और पूजा विधि
ये पढ़ा क्या?
X