ताज़ा खबर
 

चाणक्य नीति: सरकारी या प्राइवेट नौकरी में सफलता पाने के सूत्र

Chanakya Neeti: चाणक्य अनुसार कभी भय को समीप न आने दें। बल्कि उसका डटकर सामना करें। जो जातक सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं उन्हें मुश्किल से मुश्किल सवालों से घबराना नहीं चाहिए।

चाणक्य कहते हैं कि अगर लक्ष्य प्राप्त करना है तो उसे पूरा करने के लिए पूरी ताकत के साथ काम करना चाहिए।

Chanakya Niti In Hindi: आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों के माध्यम से सफलता के कई सूत्र बताएं हैं। जो आज के समय में सरकारी नौकरी, प्राइवेट नौकरी और बिजनेस सभी में काम आ सकते हैं। चाणक्य द्वारा रचित चाणक्य नीति बुक में कई श्लोक दिये गये हैं। इन्हीं श्लोकों में से एक श्लोक में बताया गया है कि अगर सफलता पाना चाहते हैं तो हमेशा दूसरों की गलतियों से सीखने का प्रयास करें। खुद पर प्रयोग करके सीखेंगे तो आपकी उम्र ही कम पड़ जायेगी। देखिए सफलता के अन्य सूत्र…

– चाणक्य कहते हैं कि अगर लक्ष्य प्राप्त करना है तो उसे पूरा करने के लिए पूरी ताकत के साथ काम करना चाहिए। ठीक उसी प्रकार जिस तरह शेर अपना शिकार करता है। काम छोटा हो या बड़ा उसे पूरी ताकत लगाकर ही करना चाहिए।

– किसी भी काम को शुरू करने जा रहे हैं तो अपने आप से तीन सवालों के जवाब जरूर मांग लें-
1. मैं ये काम क्यों कर रहा हूं या कर रही हूं
2. इस काम का परिणाम क्या होगा
3. क्या मुझे सफलता मिलेगी
इन तीनों सवालों का संतोषजनक जवाब मिलने के बाद ही काम को शुरू करें।

– चाणक्य अनुसार कभी भय को समीप न आने दें। बल्कि उसका डटकर सामना करें। जो जातक सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं उन्हें मुश्किल से मुश्किल सवालों से घबराना नहीं चाहिए।

– चाणक्य नीति कहती है कि सफलता चाहिए तो हमेशा अपने हालात बदलने का प्रयास करना चाहिए। अगर एक बार असफलता मिल भी जाए तब भी घबराएं नहीं बल्कि और मेहनत के साथ काम करें।

– इंसान को कभी भी अपने बीते हुए समय के बारे में सोचकर पछताना नहीं चाहिए और न ही भविष्य के बारे में सोचकर चिंतित होना चाहिए। विवेकवान व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं।

– ईमानदारी को सबसे अच्छा गुण माना गया है लेकिन चाणक्य नीति अनुसार जरूरत से ज्यादा ईमानदार या सीधा होना कष्टदायी होता है। जिस तरह जंगल में सीधे खड़े वृक्ष सबसे पहले काट दिये जाते हैं उसी प्रकार सीधे लोगों को सबसे ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

– समझदार आदमी वही माना जाता है जो कमाई और खर्चे के तालमेल की समझ रखता है। जो लोग आय से ज्यादा खर्च करते हैं, वो हमेशा उलझनों में रहते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Rashifal: 2020 की 5 लकी राशियां, जिनकी अप्रैल के बाद से चमकने वाली है किस्मत
2 Palmistry Government Job: सरकारी या प्राइवेट कौन सी नौकरी है आपके भाग्य में जानिए अपने हाथ की रेखा से
3 Hanuman Jayanti 2020 Date: 08 अप्रैल को मनाई जायेगी हनुमान जयंती, जानिए इस दिन कैसे करें भगवान हनुमान की पूजा और क्या है मुहूर्त