ताज़ा खबर
 

Chanakya Niti: जीवनसाथी में अगर मिल जाएं ये गुण तो खुशनुमा बीतती है जिंदगी

Chanakya Niti in Hindi: आचार्य ने अपनी चाणक्य नीति पुस्तक में गृहस्थ जीवन से जुड़ी बातें भी बनाई हैं, उनके अनुसार जीवनसाथी में ये गुण होने जरूरी हैं

chanakya niti, chanakya niti book, चाणक्य नीति, chayanya secret of happy married lifeचाणक्य के मुताबिक व्यक्ति के मन और विचारों को परखकर जो विवाह करता है वो सदैव सुखी रहता है

चाणक्य नीति: वैवाहिक जीवन की सफलता पति और पत्नी दोनों पर निर्भर करती है। लेकिन कई बार पति पत्नी में आपसी तालमेल सही से नहीं बैठ पाने के कारण उनका रिश्ता टूट भी जाता है। ऐसे में जरूरी है कि शादी से पहले ही व्यक्ति के गुणों को परख लिया जाए। खुशियों से बरी वैवाहिक जिंदगी के लिए अच्छे लाइफ पार्टनर का होना जरूरी है। हर किसी की चाहत होती है कि उसका जीवनसाथी उसे समझे और उसकी खुशियों का ख्याल रखे। चाणक्य ने भी खुशहाल वैवाहिक जीवन जीने के लिए जीवनसाथी के चयन के समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। विश्व भर में अपने ज्ञान के लिए प्रसिद्ध आचार्य चाणक्य को महान राजनीतिज्ञ और कूटनीतिज्ञ का दर्जा दिया गया है। राजकाज के अलावा, आचार्य ने अपनी चाणक्य नीति पुस्तक में गृहस्थ जीवन से जुड़ी बातें भी बनाई हैं। आइए जानते हैं चाणक्य ने अपने श्लोक में किन गुणों का जिक्र किया है-

वरयेत् कुलजां प्राज्ञो विरूपामपि कन्यकाम्।
रूपशीलां न नीचस्य विवाह: सदृशे कुले..।।

बाहरी सुंदरता को न बनाएं पैमाना: इस श्लोक के माध्यम से चाणक्य कहते हैं कि अपना जीवनसाथी चुनने के समय लोगों को कई गुण परखने चाहिए। उनके अनुसार चेहरे की खूबसूरती को गुणों को परखने का पैमाना नहीं बनाना चाहिए। वो कहते हैं कि जरूरी नहीं है जो बाहर से सुंदर दिखे वो वास्तव में भी अच्छा हो। ऐसे में सुंदरता देखकर शादी करने वाले लोग बाद में मुसीबत में फंस सकते हैं। चाणक्य के मुताबिक व्यक्ति के मन और विचारों को परखकर जो विवाह करता है वो सदैव सुखी रहता है।

होना चाहिए धैर्यवान: चाणक्य के अनुसार जिस व्यक्ति में धीरज होता है वो हर परिस्थिति को संभाल लेता है। वो कहते हैं कि धैर्यवान व्यक्ति विकट परिस्थितियों को ठीक करने का सामर्थ्य रखता है। उनके मुताबिक लोगों को शादी से पहले अपने जीवनसाथी में धीरज है या नहीं, ये जरूर देखना चाहिए। इसके अलावा, जीवनसाथी संस्कारवान हो ये भी बेहद आवश्यक है।

गुस्सैल व्यक्तित्व का न हो: चाणक्य के मुताबिक किसी भी व्यक्ति को अपने लिए गुस्सैल स्वभाव का जीवनसाथी नहीं ढूंढ़ना चाहिए। गुस्सा से भरा हुआ मनुष्य अपने आसपास मौजूद खुशियों को नजरअंदाज कर देता है। उनके अनुसार अगर आप किसी क्रोध से भरे हुए इंसान के साथ परिणय सूत्र में बंधते हैं को अपने लिए खुशहाल जीवन की कल्पना करना व्यर्थ है। वो कहते हैं कि सफल वैवाहिक जीवन के लिए लाइफ पार्टनर का शांत होना जरूरी है। साथ ही धर्म-कर्म में भी सक्रिय होना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 weekly Horoscope: सूर्य का मिथुन राशि में गोचर, इन तीन राशि वालों को इस सप्ताह मिलेगी भरपूर सफलता
2 लव राशिफल 14 जून 2020: मेष राशि वालों का वैवाहिक जीवन होगा बेहतर, कुंभ राशि के जातकों का प्यार चढ़ेगा परवान
3 स्वास्थ्य राशिफल 14 जून 2020: मिथुन राशि के लोग अपनी सेहत का रखें ध्यान, मकर राशि वाले रखें अपना वजन संतुलित
ये पढ़ा क्या?
X