ताज़ा खबर
 

चाणक्य नीति: ऐसे लोगों पर आप आसानी से कर सकते हैं भरोसा

चाणक्य की नीतियां: किसी भी व्यक्ति पर भरोसा करने से पहले उसके चरित्र को देखना चाहिए। मतलब जो लोग दूसरों के लिए गलत विचार नहीं रखते हैं उन पर भरोसा किया जा सकता है।

chankya niti, chankya neeti, acharya chankya, chankya, chankya neeti for sucessful life, chankya niti for success, how to get success,चाणक्य नीति, चाणक्य नीति के बारे में, सफलता पाने के लिए चाणक्य नीति,भरोसेमंद व्यक्ति में होते हैं ये 4 गुण।

Chanakya neeti: आज के दौर में चाणक्य द्वारा बनाई गई नीतियों का खास महत्व माना गया है। चाणक्य के नीति ग्रंथ में व्यक्ति को अपनी किसी भी समस्या का हल मिल सकता है। अकसर एक सवाल जो ज्यादातर लोगों के मन में आता है वो ये है कि कैसे लोगों पर भरोसा किया जाये। इस बारे में चाणक्य ने अपनी नीति ग्रंथ के पांचवें अध्याय के दूसरे श्लोक में बताया है कि ‘यथा चतुर्भि: कनकं परीक्ष्यते निघर्षणं छेदनतापताडनै:। तथा चतुर्भि: पुरुषं परीक्ष्यते त्यागेन शीलेन गुणेन कर्मणा।।’ इसका अर्थ है कि जिस प्रकार सोने को परखने के लिए सोने को रगड़ा जाता है, उसे काट कर देखा जाता है, आग के अंदर तपाया जाता है, यहां तक की उसे पीट कर भी देखा जाता है उससे पता चलता है कि सोना खरा है या नहीं। अगर सोने में मिलावट होगी तो इन चार कामों से वह सामने हर कीमत पर आ जायेगी। इसी तरह किसी भी व्यक्ति पर भरोसा करने से पहले इन चार तरीकों से उसकी पहचान जरूर करें…

– सबसे पहले तो किसी भी व्यक्ति को परखने के लिए यह देखें कि वह दूसरों के सुख के लिए अपने सुख का त्याग कर सकता है या नहीं। क्योंकि आज के दौर में ऐसे लोग कम ही मिलेंगे। लेकिन अगर आपको ऐसा कोई व्यक्ति मिल जाए जो अपने सुखों से ज्यादा दूसरों के सुखों की चिंता कर के अपने सुख का त्याग कर दे, तो ऐसे व्यक्ति पर भरोसा कर लेना चाहिए।

– दूसरी बात किसी भी व्यक्ति पर भरोसा करने से पहले उसके चरित्र को देखना चाहिए। मतलब जो लोग दूसरों के लिए गलत विचार नहीं रखते हैं उन पर भरोसा किया जा सकता है।

– तीसरी बात जो एक भरोसेमंद व्यक्ति की पहचान कराती है वो यह है कि जो व्यक्ति क्रोध, आलस्य, स्वार्थ, घमंड नहीं करता है और झूठ नहीं बोलता है, जो स्वभाव से शांत है, ऐसे इंसान पर विश्वास कर लेना चाहिए।

–  चौथी बात व्यक्ति पर भरोसा करने से पहले ध्यान में रखनी चाहिए कि अगर कोई व्यक्ति गलत तरीके से धन कमाता है तो उस पर गलती से भी भरोसा ना करें। क्योंकि ऐसे लोग स्वार्थ के लिए धोखा दे सकते हैं। जो व्यक्ति धर्म के मार्ग पर चलते हुए धन कमाए इस पर भरोसा करना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शाम 4 बजे तक ही हो पायेगी गुरु पूर्णिमा की पूजा, जानें इसका कारण
2 IIT-IIM के बाद आध्यात्म की शरण में क्यों गए आचार्य प्रशांत? जानिए यहां
3 मेडिटेशन यानी कुछ न करना… पर क्या ये संभव है, जानिए ओशो वाणी