ताज़ा खबर
 

Navratri Vrat Vidhi: जानिए किस विधि से करनी चाहिए मां दुर्गा की पूजा

Chaitra Navratri 2018 Vrat Vidhi, Katha: हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्रि का ज्यादा महत्व होता है। माना जाता है इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरंभ होता है।

Chaitra Navratri 2018 Vrat Vidhi: साल में चार नवरात्रि होते हैं जिनमें से दो गुप्त नवरात्र होते है।

Chaitra Navratri 2018 Vrat Vidhi: चैत्र नवरात्र रविवार 18 मार्च से शुरू हो गए हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार ही चैत्र नवरात्र से नए साल की शुरूआत होती है। साल में चार नवरात्रि होते हैं जिनमें से दो गुप्त नवरात्र होते है। चैत्र और आश्विन नवरात्र को हिंदू धर्म में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है। इस बार अष्टमी और नवमी एक ही दिन 25 मार्च को होगी। साल 2018 में चैत्र नवरात्रि 18 मार्च को शुरू हो गए हैं और 25 मार्च तक रहेंगे। 26 मार्च को नवरात्र का व्रत तोड़ा जाएगा। हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्रि का ज्यादा महत्व होता है। माना जाता है इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरंभ होता है और ऐसे समय में मां काली की पूजा से घर में सुख-समृद्धि आती है। आइए जानते हैं नवरात्रि की व्रत विधि-

नवरात्र की व्रत विधि- नवरात्रि के पहले दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि के बाद घर में भगवान गणेश, धरती माता और गुरुदेव का आह्वान करने के बाद कलश की स्थापना करें। इसके बाद कलश में आम के पत्ते और पानी डालें। कलश में नारियल को लाल कपडे़ या मोली से बांधकर रखे। कलश में दो बादाम, दो सुपारी के साथ एक सिक्का जरूर डाले। इसके बाद मां सरस्वती, मां लक्ष्मी तथा मां दुर्गा की पूजा करें। इसके बाद एक दीपक जलाएं और मां दुर्गा को धूप कर माता का पाठ करे।नवरात्रि संपन्न हो जाने के बाद घर में उस कलश के जल से छीटें मारे और कन्या को खाना खिलाकर प्रसाद वितरण करें। नवरात्र में हवन और कन्या पूजन बहुत जरूरी माना जाता है। इसलिए नवरात्रि पूरे होने के बाद कन्याओं को खाना जरूर खिलाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App